1. home Hindi News
  2. state
  3. west bengal
  4. bengal election news cpm candidate minakshi mukherjee speaks from panagarh both bjp and tmc are two sides of the same coin

'BJP और TMC में नहीं है कोई फर्क, दोनों एक ही सिक्के के दो पहलू'- नंदीग्राम से CPIM कैंडिडेट मीनाक्षी मुखर्जी का बड़ा बयान

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
मीनाक्षी मुखर्जी
मीनाक्षी मुखर्जी
Prabhat khabar

मुकेश तिवारी: नंदीग्राम से सीपीएम कैंडिडेट मीनाक्षी मुखर्जी का सोमवार को कांकसा तथा पानागढ़ में संयुक्त मोर्चा के फारवर्ड ब्लॉक प्रार्थी नंद लाल पंडित के समर्थन में चुनावी जनसभा और रोड शो के तहत मीनाक्षी मुखर्जी ने कहा की जब राज्य की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी कह रही है कि दूध केला खिलाकर मैंने काल सर्प पोसा था जो कि अब तृणमूल छोड़कर भाजपा में शामिल हो गए है अभी हो सकता है कि चुनाव के बाद और कुछ निकल जाए. उन्होंने कहा की कोयला चोर भाईपो और उनकी सोना चोरी करने वाली पत्नी ही है. दोनों ही दल के नेता इसमें उसमें आना जाना करते है.एक घर से दूसरे घर.तृणमूल और भाजपा दोनों ही एक सिक्के के दो पहलू है.

मीनाक्षी मुखर्जी ने हुंकार भरते हुए कहा कि जो केंद्र सरकार कोरोना को लेकर तथ्य छुपा रही है कोरोना काल मे चुनावी प्रचार में करोड़ों करोड़ों रुपये खर्च कर रही है. लेकिन कोरोना अस्पतालों के उद्धार के लिए कोई कार्य नहीं कर रही है.मास्क और सेनिटाइजर तक लोगों को उपलब्ध नही है. हजारों की संख्या में प्रतिदिन देश भर में लोग मर रहे हैं. गुजरात में बुरा हाल है, यूपी में, बिहार में बंगाल में बुरा हाल होने जा रहा है .लेकिन इसके बावजूद यह लोग लाखों लाखों रुपए खर्च कर हेलीकॉप्टर से जनसभा संबोधित कर रहे हैं .लेकिन आम लोगों की चिंता नहीं है. चुनाव जीतने की होड़ सब में लग गई है .तृणमूल नेत्री भी अपनी सत्ता बचाने में लगी हुई है. दोनों ही सरकारों की अपेक्षा आम जनता को भोगना पड़ रहा है.

हम इस तरह की जनसभा और चुनाव का बहिष्कार करते हैं जहां आम जनता की कोई सुनवाई नहीं .मीनाक्षी मुखर्जी ने कहा कि इस राज्य में देश में यदि किसी को आम लोगों की चिंता है तो वह एकमात्र वामफ्रंट सीपीआईएम है. जो आम लोगों के लिए कार्य करती है. ना कि पूंजीपतियों के इशारे पर नाचती है. जो आजकल देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी कर रहे हैं. अदानी, अंबानी के इशारे पर नाच रहे हैं .सरकारी संस्थाओं को बेच रहे हैं .देश को बेच रहे हैं .अब बंगाल को बेचने की नियत से बंगाल आ रहे हैं .लेकिन बंगाल में उनका यह सपना कभी पूरा नहीं होगा .

Posted By: Aditi Singh

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें