1. home Hindi News
  2. state
  3. west bengal
  4. bengal election 2021 film stars and former cricketer candidate in the second phase who will win and who will lost

Bengal Chunav 2021: दूसरे फेज में 4 सीटों पर फिल्म स्टार और पूर्व क्रिकेटर, किसका चलेगा जादू और किसे मिलेगी मात

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
दूसरे फेज में 4 सीटों पर फिल्म स्टार और पूर्व क्रिकेटर, किसका चलेगा जादू और किसे मिलेगी मात
दूसरे फेज में 4 सीटों पर फिल्म स्टार और पूर्व क्रिकेटर, किसका चलेगा जादू और किसे मिलेगी मात
प्रभात खबर ग्राफिक्स

Bengal Chunav 2021: बंगाल में कल दूसरे चरण की वोटिंग होनी है. दूसरे फेज में नंदीग्राम सीट पर तो महासंग्राम होने वाला है लेकिन नंदीग्राम के अलावा चार विधानसभा सीट ऐसे भी है जहां सबकी नजरें टिकी हुई है. इन चार विधानसभा सीटों मोयना, चांदीपुर, खड़गपुर सदर और बांकुड़ा में बीजेपी और टीएमसी ने अपने - अपने स्टार कैंडिडेट को चुनावी मैदान में उतारा है. मोयना से बीजेपी ने पूर्व क्रिकेटर अशोक डिंडा को चुनावी मैदान में उतारा है. वहीं इस सीट से टीएमसी ने संग्राम कुमार दोलुई को जबकि संयुक्त मोर्चा के कांग्रेस ने मानिक भौमिक पर दांव खेला है.

वहीं चांदीपुर विधानसभा सीट से टीएमसी ने टाॅलीवुड एक्टर सोहम उर्फ सोहम चक्रवर्ती को कैंडिडेट बनाया है. बीजेपी ने पुलक कुमार भुइयां को तो संयुक्त मोर्चा के लेफ्ट ने असीत गुच्छाईत को चुनावी मैदान में उतारा है. खड़गपुर सदर से बीजेपी ने इस बार दिलीप घोष की जगह टाॅलीवुड एक्टर हिरन उर्फ हिरणमय चट्टोपाध्याय पर दांव खेला है और उन्हें चुनावी मैदान में उतारा है.

वहीं टीएमसी ने प्रदीप सरकार और संयुक्त मोर्चा के लेफ्ट ने रीता शर्मा को चुनावी दंगल में उतारा है. बांकुड़ा में टीएमसी ने इस बार विजयी विधायक शंपा दरिपा की जगह टाॅलीवुड एक्ट्रेस सायंतिका बनर्जी पर भरोसा जताया है. वहीं बीजेपी ने नीलाद्री शेखर को और संयुक्त मोर्चा के कांग्रेस ने राधा रानी बनर्जी को मैदान में उतारा है. अब देखना यह है टीएमसी और बीजेपी के स्टार कैंडिडेट का कितना जादू बंगाल की जनता पर चलता है?

2019 में लोकसभा चुनाव में इन 4 सीटों के परिणाम पर एक नजर

2019 में तमलुक लोकसभा सीट के अंतर्गत मोयना विधानसभा सीट पर टीएमसी को जीत मिली थी. टीएमसी के दिव्येंदु अधिकारी को 100880 वोट मिले थे. वहीं बीजेपी के सिद्धार्थ सरकार को 88497 वोट मिले थे. कांथी लोकसभा के अंतर्गत चांदीपुर से टीएमसी के शिशिर अधिकारी को बढ़त मिली थी. शिशिर अधिकारी को 99573 वोट मिले थे. उन्होंने बीजेपी के डाॅ. देवाशिष सामंत को हराया था. सामंत को 84110 वोट मिले थे.

मेदिनीपुर लोकसभा सीट के अंतर्गत खड़गपुर सदर सीट पर बीजेपी के दिलीप घोष को बड़ी संख्या में वोट मिली थी. उन्हें 93425 वोट मिले थे. उन्होंने अपने प्रतिद्वंद्वी टीएमसी के मानस रंजन भुइयां को पराजित किया था. मानस रंजन भुइयां को 48293 वोट मिले थे. वहीं बांकुड़ा लोकसभा सीट के तहत बांकुड़ा विधानसभा सीट पर भी बीजेपी का कब्जा था. बीजेपी के डाॅ. सुभाष सरकार को 112080 वोट मिले थे और उन्होंने टीएमसी के सुब्रत मुखर्जी को पराजित किया था. सुब्रत मुखर्जी को 65304 वोट मिले थे.

2016 में 4 विधानसभा सीट के परिणाम

2016 में मोयना विधानसभा सीट पर टीएमसी का कब्जा है.टीएमसी के संग्राम कुमार दोलुई को 100980 वोट मिले थे. संग्राम कुमार दोलुई ने कांग्रेस के मानिक भौमिक को 12124 मतों से हराया था. चांदीपुर में टीएमसी के अमिय कांति भट्टाचार्य को 95982 वोट मिले थे. अमिय कांति ने लेफ्ट के मंगल चंद प्रधान को 9654 वोटों से हराया था. वहीं खड़गपुर सदर पर बीजेपी ने इतिहास रचा था.

7 बार से कांग्रेस के विधायक रह चुके ज्ञान सिंह सोहनपाल को बीजेपी के दिलीप घोष ने पराजित किया था. दिलीप घोष को 61446 वोट मिले थे. दिलीप घोष ने सोहनपाल को 6309 वोटों से हराया था. बांकुड़ा विधानसभा सीट पर 2016 में कांग्रेस की शंपा दरिपा जीती थी. इसके बाद वो टीएमसी में शामिल हो गयी.इस बार शंपा को टिकट नहीं दिया गया है. शंपा को 83486 वोट मिली थी और उन्होंने टीएमसी के मिनती मिश्रा को 1029 वोट से हराया था.

Posted by : Babita Mali

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें