16.4 C
Ranchi
Monday, February 26, 2024

BREAKING NEWS

Trending Tags:

Homeउत्तर प्रदेशआगराUP News: श्रीराम की कृपा से बिकने लगे दीपक, आगरा के कुंभलकारों को मिल रही विशेष पहचान

UP News: श्रीराम की कृपा से बिकने लगे दीपक, आगरा के कुंभलकारों को मिल रही विशेष पहचान

अयोध्या में श्रीराम मंदिर की आधारशिला रखे जाने के बाद से आगरा के कुंभलकारो को श्रीराम ने वरदान स्वरूप तरक्की का नया आयाम दिया है. कुंभलकारों का कहना है कि जबसे राम मंदिर बनना शुरू हुआ है लोग अब मिट्टी के दीपक खरीद रहे हैं.

आगरा: अयोध्या में श्रीराम मंदिर की आधारशिला रखे जाने के बाद से आगरा के कुंभलकारो को श्री राम ने वरदान स्वरूप तरक्की का नया आयाम दिया है. कुंभलकारों का कहना है कि जबसे राम मंदिर बनना शुरू हुआ है तबसे लोग जागरूक हुए हैं. और लोग अब मिट्टी के दीपक खरीद रहे हैं. पिछले साल उन्हें करीब 2 लाख मिट्टी के दीपक बनाने का आर्डर मिला था जो अयोध्या में गए थे. हालांकि इस बार उन्हें अयोध्या से आर्डर नहीं मिला लेकिन लोकल के लोगों ने भी उन्हें आर्डर दिए हैं. जिससे अब उनके सामने आर्थिक संकट खत्म हो गया है. कुंभलकारों का कहना है कि लोग यह जान चुके हैं की मिट्टी के दीपक ही शुद्ध होते हैं और पूजा में प्रयोग किए जाते हैं.

आगरा के मोती कटरा क्षेत्र में तमाम कुंभलकार मिट्टी के दीपक व अन्य सामान बनाकर अपना परिवार चलाते हैं. दीपावली का त्यौहार आने से करीब एक महीने पहले ही यह लोग दीपक बनाने लगते हैं. जिससे कि जब लोग दीपक खरीदने आए तो उन्हें भारी मात्रा में दीपक दे सकें और अच्छा मुनाफा कमा सकें.

कुंभलकारों का कहना है कि अयोध्या में श्री राम मंदिर की आधारशिला रखे जाने के बाद से हर साल लाखों की संख्या में दीपक जलाए जाते हैं. और लोगों से दीपावली पर मिट्टी के दीपक जलाने का आवाहन भी किया जाता है. ऐसे में अब काफी लोग हमारे पास आकर मिट्टी के दीपक खरीदते हैं. जबकि कई लोग पहले से ही ऑर्डर देकर डिजाइन वाले दीपक भी बनवाते हैं. हमारे पास इस समय छोटे से लेकर बड़े और डिजाइन व स्टैंड वाले दीपक मौजूद हैं जिन्हें बेचकर हम अच्छी कमाई कर लेते हैं.

पूजा के लिये मिट्टी का दीपक शुद्ध

मोदी कटरा पर मिट्टी के दीपक बनाने वाले मोहन सिंह का कहना है कि अयोध्या में जब से राम मंदिर बनना शुरू हुआ है हमारे दीपक भी राम की कृपा से बिकने लगे हैं. लोग अब चाइना के दीपक से परहेज कर रहे हैं. उन्हें एहसास हो गया है की पूजा के लिए सिर्फ मिट्टी के दीपक ही शुद्ध माने जाते हैं. लेकिन उनका दर्द है कि दीपक बनाने के लिए जब वह ट्रैक्टर से मिट्टी मंगवाते हैं तो पुलिस उन्हें परेशान करती है. ऐसे में ट्रैक्टर वालों ने मिट्टी लाने से मना कर दिया है. इसकी वजह से मिट्टी का इंतजाम करने में काफी परेशानी होती है और मिट्टी महंगी मिलती है. उनका कहना है कि राम जी की कृपा से हमारा व्यापार भी अच्छा चल रहा है और मोदी जी ने भी हमारी इलेक्ट्रॉनिक चाक देकर मदद की है.

अपनी पसंद के दीपक बनवा रहे लोग

कुंभलकार प्रेमचंद ने बताया कि पिछले साल अयोध्या में बड़ा महोत्सव हुआ था. ऐसे में यहां दीपक बनाने वालों को करीब 2 लाख दीपक का आर्डर मिला था. इस बार हमारे दीपक अयोध्या नहीं जा रहे लेकिन आगरा व आसपास के लोगों ने हमें दीपक बनाने का आर्डर दिया है. हमने गोल छोटे और बड़े दीपकों के साथ डिजाइनर दीपक भी बनाए हैं. लोगों ने अपनी पसंद के अनुसार डिजाइनर दीपक बनाने का आर्डर दिया था. जिन्हें हमने तैयार किया है. साथ ही हमने स्टैंड दीपक भी बनाए हैं जिसे आप कहीं भी लगा सकते हैं. और उससे आग लगने का डर भी नहीं रहता.

Also Read: Train Cancelled: लखनऊ पाटलिपुत्र ट्रेन तीन दिन रहेगी निरस्त, काशी विश्वनाथ रुककर चलेगी, देखें पूरी सूची

You May Like

Prabhat Khabar App :

देश, एजुकेशन, मनोरंजन, बिजनेस अपडेट, धर्म, क्रिकेट, राशिफल की ताजा खबरें पढ़ें यहां. रोजाना की ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज कवरेज के लिए डाउनलोड करिए

अन्य खबरें