1. home Home
  2. state
  3. up
  4. varanasi
  5. varanasi news in memory of the martyrs lamps will be lit for the entire month of kartik corona warriors amh

Varanasi News : शहीदों की स्मृति में पूरे कार्तिक मास जलाए जाएंगे दीप, कोरोना वारियर्स को भी किया जाएगा याद

दो दशकों से भी ज्यादा समय से राष्ट्र के अमर वीर योद्धाओं की स्मृति में गंगा सेवा निधि द्वारा संपूर्ण कार्तिक मास जलाये जाने वाले आकाशदीप कार्यक्रम का शुभारंभ इस वर्ष भी किया गया.

By Prabhat Khabar Digital Desk, Varanasi
Updated Date
Varanasi News
Varanasi News
prabhat khabar

Varanasi News : वाराणसी में गंगा सेवा निधि द्वारा प्रतिवर्ष की भांति इस वर्ष भी शहीदों की स्मृति में कार्तिक मास भर जलाए जाते आकाशदीप कार्यक्रम का शुभारंभ किया गया. इस बार यह आकाशदीप कार्यक्रम शहीद जवानों की स्मृति के साथ-साथ कोरोना में अपनी जान गवाने वाले नागरिकों व कोरोना वारियर्स की स्मृति में भी दीप जला कर उन्हें भी श्रद्धांजलि दी जाएगी. गंगा सेवा निधि द्वारा आयोजित आध्यात्मिकता और राष्ट्रवाद को समर्पित भव्य देव-दीपावली महोत्सव के साथ ही पुरे कार्तिक मास चलने वाले आकाशदीप कार्यक्रम का भी समापन किया जाता है तथा इसी दिन भारत के अमर वीर योद्धाओं को ‘‘भगीरथ शौर्य सम्मान‘‘ से सम्मानित भी किया जाता है.

दो दशकों से भी ज्यादा समय से राष्ट्र के अमर वीर योद्धाओं की स्मृति में गंगा सेवा निधि द्वारा संपूर्ण कार्तिक मास जलाये जाने वाले आकाशदीप कार्यक्रम का शुभारंभ इस वर्ष भी किया गया. कार्यक्रम के मुख्य अतिथि के रूप में डॉ नीलकण्ठ तिवारी, राज्यमंत्री (स्वतंत्र प्रभार) पर्यटन, संस्कृति, धमार्थ करार्य उपस्थित रहे. उनका स्वागत सुशांत मिश्र ने कार्यक्रम अध्यक्ष के रूप मे किया. गंगा सेवा निधि से सुशांत मिश्र ने बताया कि ऐसी मान्यता है कि आकाशदीप के माध्यम से शहीद हुए जवानों को परलोक जाने के लिए इसके प्रकाश के माध्यम से अलौकिक मार्ग प्राप्त होता है. लगभग 2 दशक से गंगा सेवा निधि द्वारा 1999 से कारगिल युद्ध में शहीद हुए जवानों की स्मृति में यह आकाशदीप कार्यक्रम यहां आयोजित कर उन्हें श्रद्धांजलि दी जाती हैं. तब से लेकर आजतक यह परम्परा चली आ रही हैं. इसबार कोरोनकाल में प्राण गवाने वाले नागरिकों समेत कोरोना वारियर्स की भी स्मृति में यहां दीपदान किये जा रहे हैं.

आकाश दीप कार्यक्रम का प्रारम्भ दिनांक 21 अक्टूबर, से दशाश्वमेध घाट पर प्रारम्भ हुआ है तथा इसका समापन कार्तिक पूर्णिमा के अवसर पर (19 नवम्बर 2021) संस्था द्वारा आयोजित आध्यात्मिकता और राष्ट्रवाद को समर्पित भव्य देव-दीपावली महोत्सव के साथ की जाएगी. कर्नल हितेश दुग्गल,सेना मेडल कार्यवाहक कमांडेंट 39 जी टी सी आकाशदीप कार्यक्रम के बारे में बताया कि गंगा सेवा निधि द्वारा शहीदों के सम्मान में आयोजित यह कार्यक्रम अपने आप में हमारे जवानों के लिए एक सच्ची श्रद्धांजलि है. देश की आजादी से लेकर आजतक हमारे जवान अपनी जान की परवाह किये बिना देश की सेवा में लगे हुए हैं. ऐसे आकाशदीप कार्यक्रम के माध्यम से हम उनके लिए यह सम्मान भाव प्रकट कर अपने देश का मान बढ़ा रहे हैं. वैसे भी काशी में कार्तिक मास का विशेष महत्व है म ऐसा माना जाता है कि इस वक्त जलाए हुए दीप सीधे स्वर्ग का द्वार खोलते हैं.

काशी विश्वनाथ मंदिर मुख्य अर्चक पण्डित श्रीकांत मिश्र ने कार्तिक मास में आयोजित आकाशदीप कार्यक्रम के महत्व के बारे में कहा कि यह पर्व पितरों को तृप्त करने वाले, देवताओं को प्रणाम करने वाला , शहीदों की स्मृति में जलने वाला यह कार्तिक मास का दीपदान पर्व गंगा सेवा निधि द्वारा लगभग 3 दशकों से संचालित किया जाता है. हमारी सनातन धर्म परंपरा अंधकार से प्रकाश की ओर जाने की रही हैं. यह आकाशदीप कार्तिक मास में देवताओं की प्रीति के लिए जलाया जाता है साथ ही हमारे जीवन की यात्रा के मार्ग को प्रशस्त करने का भी एक माध्यम है.

कार्तिक मास जैसा कोई मास नहीं, सतयुग के समान कोई युग नही, वेदों के समान कोई शास्त्र नहीं और गंगा के समान दूसरा कोई तीर्थ नहीं हैं और गंगा के घाट पर कार्तिक माह में जलता ये आकाशदीप इस बात का परिचायक है की हमारे शहीदों के प्रति हमारे मन में श्रद्धा की रौशनी कितनी उज्वल है. इसीलिए देव-दीपावली महोत्सव पर भगीरथ शौर्य सम्मान से सम्मानित कर शहीदों को नमन किया जाता है.

इस अवसर पर कार्यक्रम में मुख्य रूप सें उपस्थित डॉ. नीलकण्ठ तिवारी, माननीय राज्यमंत्री (स्वतंत्र प्रभार) पर्यटन, संस्कृति, धमार्थ करार्य, प्रोटोकॉल, उत्तर प्रदेश सरकार, कार्यक्रम अध्यक्ष के रूप मे उपस्थित एयर कमाडोर अति विषिश्ट अतिथि के रूप में उपस्थित कर्नल हितेश दुग्गल, सेना मेडल, कार्यवाहक कमॉडेण्ट, 39 जी. टी. सी. वाराणसी, कमाण्डेन्ट मनोज कुमार शर्मा, 11वीं वाहिनी, एन.डी.आर.एफ., वाराणसी, सेकेण्ड इन कमाण्डेन्ट नीतिन्द्र नाथ, 95 बटालियन, सी.आर.पी.एफ., वाराणसी का स्वागत श्री पंकज अग्रवाल श्री इन्दूशेखर शर्मा, श्री विवेक शर्मा (महाप्रबंधक, होटल ताज) द्वारा किया गया.

अति विशिष्ट अतिथियों में स्वामी जीतेंद्रनंद सरस्वती माननीय महासचिव अखिल भारतीय संत समिति व गंगा महासभा,श्री अंबरीश सिंह भोला माननीय सदस्य वाराणसी विकास प्राधिकरण, हिन्दू युवा वाहिनी प्रभारी वाराणसी श्री आशुतोष पाण्डेय माननीय सह महाप्रबन्धक, उपक्षेत्र प्रमुख यूनियन बैंक आफ इंडिया, वाराणसी रहे. सांस्कृतिक कार्यक्रम की प्रस्तुति श्री पंकज कुमार मिश्रा बनारस घराना ने प्रस्तुति देकर शहीदों को नमन किया गया. इस कार्यक्रम में मुख्य रूप से पं. इंदुशेखर शर्मा, श्री हनुमान यादव, श्री पंकज अग्रवाल, श्री रविषंकर सिंह, श्री आषीश तिवारी, श्री अरूण अग्रवाल, श्री मनीश सोनी, डॉ वी.के सिंह उपस्थित रहे. धन्यवाद प्रकाश संस्था के सचिव सुरजीत कुमार सिंह ने दिया. द्वारा- सुरजीत कुमार सिंह सचिव गंगा सेवा निधि.

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें