1. home Home
  2. state
  3. up
  4. up saharanpur man hacks election commission of india website makes 10 thousand fake voter id cards check details here rjv

ECI की वेबसाइट हैक कर UP के युवक ने बनाये 10 हजार फर्जी Voter ID Card

UP में साइबर हैकर ने केंद्रीय निर्वाचन आयोग की वेबसाइट को हैक कर 10 हजार से ज्यादा वोटर आइडी कार्ड बना डाले हैं. यूपी पुलिस की साइबर सेल ने सहारनपुर के मचरहेड़ी गांव से आरोपी युवक विपुल सैनी को गिरफ्तार किया है. उसके बैंक खाते से 60 लाख रुपये मिले हैं.

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
ECI Website Hacked, 10000 Fake Voter ID cards created
ECI Website Hacked, 10000 Fake Voter ID cards created
fb/symbolic

ECI Website Hacked 10 Thousand Fake Voter id created: उत्तर प्रदेश में साइबर हैकर ने केंद्रीय निर्वाचन आयोग की वेबसाइट को हैक कर 10 हजार से ज्यादा वोटर आइडी कार्ड बना डाले हैं. यूपी पुलिस की साइबर सेल ने सहारनपुर के मचरहेड़ी गांव से आरोपी युवक विपुल सैनी को गिरफ्तार किया है. उसके बैंक खाते से 60 लाख रुपये मिले हैं.

दो कंप्यूटर, बैंक खाते में मिले 60 लाख रुपये

सहारनपुर के वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक एस चेनप्पा ने बताया कि आरोपी विपुल सैनी ने यहां के नकुड़ इलाके में अपनी कंप्यूटर की दुकान में कथित तौर पर हजारों की संख्या में मतदाता पहचान पत्र बनाये थे. मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, पूछताछ में विपुल ने बताया कि यह मध्य प्रदेश के हरदा निवासी अरमान मलिक के इशारे पर काम कर रहा था. पुलिस ने दो कंप्यूटर जब्त किये गए हैं. सैनी के बैंक खाते में 60 लाख रुपये पाये गए, जिसके बाद खाते से लेनदेन पर तत्काल रोक लगा दी गई है. उन्होंने कहा कि सैनी के खाते में इतनी रकम कहां से आयी, इसकी जांच की जाएगी.

ऐसे हुआ मामले का खुलासा

पुलिस अधिकारी ने बताया कि सैनी आयोग की वेबसाइट में उसी पासवर्ड के जरिये लॉगइन करता था, जिसका इस्तेमाल आयोग के अधिकारी करते थे. आयोग को कुछ गड़बड़ी का अंदेशा हुआ और उसने जांच एजेंसियों को इस बात की जानकारी दी. एजेंसियों की जांच के दौरान सैनी शक के दायरे में आया और उन्होंने सहारनपुर पुलिस को सैनी के बारे में जानकारी दी. पूछताछ में सैनी के बताया कि वह मध्य प्रदेश के हरदा निवासी अरमान मलिक के इशारे पर काम कर रहा था और उसने तीन माह में दस हजार से ज्यादा मतदाता पहचान पत्र बना लिये थे. साइबर सेल और सहारनपुर अपराध शाखा के संयुक्त दल ने गुरुवार को सैनी को गिरफ्तार कर लिया.

सहारनपुर से किया है बीसीए

पुलिस के अनुसार, पूछताछ में सैनी ने बताया कि एक पहचान पत्र बनाने के लिए उसे 100 से 200 रुपये मिलते हैं. उसके घर से पुलिस ने दो कंप्यूटर भी जब्त किये हैं. जांच एजेंसी उसे अदालत में पेश करके उसकी न्यायिक हिरासत का अनुरोध करेगी. उन्होंने बताया कि सैनी के पिता किसान हैं. सैनी ने सहारनपुर जिले के एक कॉलेज से बीसीए किया है. जांच में सैनी के बैंक खाते में 60 लाख रुपये पाए गए, जिसके बाद खाते से लेनदेन पर तत्काल रोक लगा दी गई है. उन्होंने कहा कि सैनी के खाते में इतनी रकम कहां से आयी, इसकी जांच की जाएगी.

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें