1. home Home
  2. state
  3. up
  4. up news more than 56 lakh students will get scholarship in one month ago cm yogi gave instructions acy

UP में इस बार एक महीने पहले मिलेगी स्कॉलरशिप, इन STUDENTS को किया जाएगा ब्लैक लिस्ट, CM योगी ने दिया निर्देश

यूपी में इस बार एक महीने पहले छात्र-छात्रों को स्कॉलरशिप दी जाएगी. सीएम योगी ने इसे लेकर अधिकारियों को निर्देश दिया है, जिसके बाद समाज कल्याण विभाग की तरफ से तैयारियां तेज कर दी गई हैं.

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
cm yogi adityanath
cm yogi adityanath
twitter

UP Students Scholarship Update: उत्तर प्रदेश (Uttar pradesh) में इस बार छात्र-छात्राओं को एक महीने पहले स्कॉलरशिप (Scholarship) दी जाएगी. गरीब परिवारों के करीब 56 लाख छात्र-छात्राओं को इसका फायदा मिलेगा. अभी तक 2 अक्टूबर और 26 जनवरी को स्कॉलरशिप वितरित की जाती थी, लेकिन इस बार 27 दिसंबर को स्कॉलरशिप दे दी जाएगी. इस संबंध में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ (Chief Minister Yogi Adityanath) ने आदेश जारी कर दिया है, जिसके बाद समाज कल्याण विभाग (Social Welfare Department) की तरफ से तैयारियां तेज कर दी गई हैं.

56 लाख छात्रों को मिलता है स्कॉलरशिप

यूपी में हर साल गरीब परिवारों के 56 लाख से अधिक छात्र-छात्राओं को दशमोत्तर छात्रवृत्ति, शुल्क प्रतिपूर्ति एवं पूर्व दशम छात्रवृत्ति मिलती है. प्रदेश सरकार इसके लिए करीब 4500 करोड़ रुपये खर्च करती है.

विधानसभा चुनाव से पहले मिले छात्रवृत्ति

बता दें, अगले साल विधानसभा चुनाव होने वाले हैं, इसलिए सरकार की कोशिश है कि सभी छात्र-छात्राओं को चुनाव से पहले छात्रवृत्ति मिल जाए. मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने स्कूल-कॉलेजों में अन्य पिछड़ा वर्ग, अनुसूचित जाति एवं अनुसूचित जनजाति संवर्ग के छात्र-छात्राओं को छात्रवृत्ति का भुगतान समयबद्ध ढंग से करने के निर्देश दिए हैं. उन्होंने कहा कि यह छात्रवृत्ति विद्यार्थियों के लिए अत्यंत उपयोगी है. इसलिए छात्रों को स्कॉलरशिप देने में देरी न की जाए.

ये छात्र होंगे ब्लैकलिस्ट

इस बार ऐसे छात्र ब्लैकलिस्ट होंगे, जो सरकार से स्कॉलरशिप तो लेते हैं, लेकिन स्कूलों को फीस नहीं जमा करते. समाज कल्याण विभाग इसको लेकर नियम भी बना रहा है.

इस वजह से सरकार देती है छात्रवृत्ति 

बता दें कि आर्थिक स्थिति खराब होने के कारण कई बार छात्र-छात्राएं अपनी शिक्षा पूरी करने से वंचित रह जाते हैं. इसी बात को ध्यान में रखते हुए सरकार हर साल गरीबी रेखा से नीचे आने वाले छात्र-छात्राओं को छात्रवृत्ति देती है ताकि उनकी शिक्षा में किसी प्रकार की कोई बाधा न आने पाए.

Posted by : Achyut Kumar

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें