1. home Hindi News
  2. state
  3. up
  4. up crime news anganwadi centers soybean oil found on samosa cart deoria news sht

समोसे के ठेले पर मिला आंगनबाड़ी केंद्र का सोयाबीन ऑयल, मंत्री प्रतिभा शुक्ला ने दिए कार्रवाई के निर्देश

देवरिया जिले का 18 अप्रैल को एक वीडियो वायरल हुआ था, जिसमें आंगनबाड़ी केंद्र पर मिलने वाला सोयाबीन ऑयल एक समोसे के ठेले पर पाया गया था. मामले की जांच करने पहुंची राज्य मंत्री प्रतिभा शुक्ला ने आरोपियों के खिलाफ सख्त से सख्त कार्रवाई के निर्देश दिए हैं.

By Prabhat Khabar Digital Desk, Gorakhpur
Updated Date
Minister Pratibha Shukla
Minister Pratibha Shukla
Prabhat khabar

Deoria News: देवरिया जिले का 18 अप्रैल को एक वीडियो वायरल हुआ था, जिसमें आंगनबाड़ी केंद्र पर मिलने वाला सोयाबीन ऑयल एक समोसे के ठेले पर देखा गया था. पूछने पर समोसा बेचने वाले दुकानदार ने स्वीकार किया कि उसने 50 रुपए प्रति किलो के हिसाब से ऑयल खरीदा है. वायरल वीडियो जनपद के बनकटा विकासखंड के अकटही बाजार का है.

वीडियो वायरल होने के बाद शासन और प्रशासन सकते में आ गया. यह खबर आग की तरह फैल गई. उसके बाद मामले का संज्ञान लेते हुए राज्य मंत्री प्रतिभा शुक्ला जांच करने देवरिया पहुंची. उन्होंने कहा कि इस मामले में सख्त से सख्त कार्रवाई की जाएगी. बाल विकास पुष्टाहार विभाग से आंगनबाड़ी केंद्रों पर सोयाबीन ऑयल पहुंचाया जाता है. जो गर्भवती महिलाओं और बच्चों को दिया जाता है. उन्होंने कहा कि विभाग की लापरवाही का ही कारण है कि ऑयल कालाबाजारी कर समोसे के ठेलों और दुकानों पर पहुंच गया.

मीडिया से बात करते हुए उत्तर प्रदेश सरकार की राज्य मंत्री प्रतिभा शुक्ला ने बताया कि हम लोग जब निरीक्षण करने मौके पर पहुंचे तो वहां पर जो दुकानदार भी गलत पाया गया. उसने किसी भी तरह से बात करने से इंकार कर दिया और न ही अपना नाम बताया. इसके अलावा जिस व्यक्ति से उसने सामान खरीदा था उसका भी नाम नहीं बताया मंत्री ने दुकानदार के खिलाफ एफआईआर दर्ज कराने की बात कही. उन्होंने इस पूरे मामले में एक चपरासी सुरजीत सिंह को भी दोषी बताया.

मंत्री ने कहा कि सीडीपीए के खिलाफ भी शिकायत मिली है. उनके खिलाफ भी निलंबन की कार्रवाई की जा रही है. साथ ही सुपरवाइजर को भी दोषी पाया गया है क्योंकि सुपर विज़न उन्होंने किया ही नहीं है और जो सुपरवाइजर है वह एक महिला है. 99 केंद्र उनसे जुड़े हुए हैं. 99 केंद्रों में उन्होंने कहीं भी चेकिंग नहीं की. इसके अलावा दो आंगनबाड़ी बहने भी दोषी पाई गई हैं. सभी दोषियों के खिलाफ भी विभागीय कार्रवाई की जाएगी.

रिपोर्ट- कुमार प्रदीप

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें