1. home Hindi News
  2. state
  3. up
  4. kisan andolan latest update shamli minister sanjeev balyan protest new farm law farmers protest pm modi bjp amh

'पहले तीनों कानून वापस कराओ, फिर गांव में आओ', भाजपा नेताओं की शामली में 'नो एंट्री', केंद्रीय मंत्री संजीव बालियान का विरोध

By Agency
Updated Date
sanjeev balyan
sanjeev balyan
sanjeev balyan twitter photo
  • नये कृषि कानूनों को लेकर भाजपा के मेगा प्लान पर किसानों का गुस्सा

  • केंद्रीय मंत्री संजीव बालियान को रविवार को शामली में भारी विरोध का सामना करना पड़ा

  • भैंसवाल में संजीव बालियान और भाजपा के खिलाफ जमकर नारेबाजी

नये कृषि कानूनों (new farm law)को लेकर भाजपा (bjp) के मेगा प्लान पर किसानों (kisan andolan) का गुस्सा फूट पड़ा है. नये कृषि कानूनों के फायदे गिनाने पहुंचे केंद्रीय मंत्री संजीव बालियान को रविवार को शामली में भारी विरोध का सामना करना पड़ा. शामली के भैंसवाल में संजीव बालियान और भाजपा के खिलाफ जमकर नारेबाजी करते लोग नजर आये.

जानकारी के अनुसार केंद्र के तीन नये कृषि कानूनों के खिलाफ किसानों के आंदोलन के बीच किसानों और खाप चौधरियों से बातचीत करने गए केंद्रीय राज्यमंत्री संजीव बालियान और भाजपा के अन्य नेताओं को शामली जिले में रविवार को किसानों की खासी नाराजगी झेलनी पड़ी.

भैंसवाल गांव में खाप चौधरियों ने भाजपा प्रतिनिधि मंडल में शामिल केन्द्रीय मंत्री संजीव बालियान, पंचायती राज मंत्री भूपेंद्र सिंह समेत कई भाजपा नेताओं से मिलने तक से इनकार कर दिया. किसानों से बातचीत करने जा रहे भाजपा नेताओं का ग्रामीणों ने ट्रैक्टर लगाकार कई जगह काफिला रोक दिया और भाजपा और मंत्रियों के खिलाफ मुर्दाबाद के नारे लगाए.

विरोध के बीच बालियान ने कहा कि चंद लोगों के विरोध से वह रुकने वाले नहीं है. गृह मंत्री अमित शाह ने भाजपा से जुड़े किसान नेताओं और खास तौर से जाट नेताओं को खाप चौधरी और किसानों के बीच पहुंच कर कृषि कानूनों को लेकर भ्रांतियों को दूर करने की जिम्मेदारी दी है. इसी कड़ी में बालियान का काफिला रविवार को भैंसवाल गांव पहुंचा था, जहां पर एकत्र हुए किसानों ने बालियान और भाजपा के खिलाफ नारेबाजी की.

किसानों ने नारा लगाया कि पहले तीनों कानून वापस कराओ, फिर गांव में आओ. किसानों के विरोध के बाद केंद्रीय मंत्री ने कहा कि चंद लोगों के विरोध के चलते वह रुकने वाले नहीं है और किसानों को सच्चाई बताने का काम करते रहेंगे. स्थानीय किसान नेता सवीत मलिक ने बताया कि केन्द्रीय मंत्री बालियान समेत भाजपा के कई जनप्रतिनिधि भैंसवाल गांव में आए थे, जिनका विरोध हुआ और सरकार पहले दिन से इसे चंद किसानों का आंदोलन बताने की भूल कर रही है.

Posted By : Amitabh Kumar

Share Via :
Published Date
Comments (0)
metype

संबंधित खबरें

अन्य खबरें