1. home Hindi News
  2. state
  3. up
  4. ed now be questioned by azam in sitapur jail may increase difficult asj

सीतापुर जेल में बंद आजम से अब इडी करेगी इस मामले में पूछताछ, बढ़ सकती मुश्किल

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
आजम
आजम
ट्वीटर

लखनऊ : योगी सरकार आने के बाद से समाजवादी पार्टी के वरिष्ठ नेता और सांसद आजम खान की मुश्किलें बढ़ती ही जा रही हैं. प्रवर्तन निदेशालय सीतापुर जेल में बंद आजम खान से अब एक और मामले में पूछताछ करने की तैयारी में है. यह पूछताछ जौहर यूनिवर्स‍िटी से जुड़ी जमीन मामले में होगी.

सूत्रों की मानें तो प्रवर्तन निदेशालय की एक टीम सपा सांसद आजम खान से सीतापुर जेल में जल्द पूछताछ करने पहुंचेगी. कहा जा रहा है कि जौहर यूनिवर्स‍िटी से जुड़ी जमीन को ईडी अटैच कर सकती है. ईडी ने इस यूनिवर्स‍िटी से जुड़े दस्तावेजों को जिला प्रशासन और हायर एजुकेशन ऑथारिटी से मांगा है.

पूछा गया है कि ये जमीन कैसे आजम खान को यूनिवर्स‍िटी के लिए दी गयी, क्योंकि ये जमीन एनमी प्रॉपर्टी एक्ट के तहत आती है. इससे पहले आजम खान पर ईडी ने एक मामला और दर्ज किया था. इससे पहले ईडी ने जौहर यूनिवर्सिटी से जुड़े तमाम फंड और ट्रांजैक्शन की डिटेल जुटाई है.

उधर, योगी सरकार कुछ ऐसी व्यवस्था करने जा रही है, जिससे आजम खान के बेटे अब्दुल्ला आजम अगले 6 साल तक चुनाव ही नहीं लड़ पायेंगे. अब्‍दुल्‍ला आजम को 72 महीनों तक चुनाव लड़ने से डिबार करने की योजना है. इस बात का खुलासा शासन के सूत्रों ने किया है. जानकारी के मुताबिक, पिछले साल दिसंबर में स्वार सीट से चुनाव जीतने वाले अब्दुल्ला आजम के निर्वाचन को इलाहाबाद हाईकोर्ट ने रद्द कर दिया था, तभी से इसकी तैयारी की जा रही थी.

आजम और उनकी पत्नी-बेटे के खिलाफ कुल 83 मुकदमे दर्ज हैं. कुछ में गिरफ्तारी से उन्हें स्टे मिल गया है. वहीं कुछ मामलों में जमानत मिल गयी. फिलहाल आजम खान किसानों की जमीन हथियाने सहित कई मामलों में आरोपी हैं.

लखनऊ : योगी सरकार आने के बाद से समाजवादी पार्टी के वरिष्ठ नेता और सांसद आजम खान की मुश्किलें बढ़ती ही जा रही हैं. प्रवर्तन निदेशालय सीतापुर जेल में बंद आजम खान से अब एक और मामले में पूछताछ करने की तैयारी में है. यह पूछताछ जौहर यूनिवर्स‍िटी से जुड़ी जमीन मामले में होगी.

सूत्रों की मानें तो प्रवर्तन निदेशालय की एक टीम सपा सांसद आजम खान से सीतापुर जेल में जल्द पूछताछ करने पहुंचेगी. कहा जा रहा है कि जौहर यूनिवर्स‍िटी से जुड़ी जमीन को ईडी अटैच कर सकती है. ईडी ने इस यूनिवर्स‍िटी से जुड़े दस्तावेजों को जिला प्रशासन और हायर एजुकेशन ऑथारिटी से मांगा है.

पूछा गया है कि ये जमीन कैसे आजम खान को यूनिवर्स‍िटी के लिए दी गयी, क्योंकि ये जमीन एनमी प्रॉपर्टी एक्ट के तहत आती है. इससे पहले आजम खान पर ईडी ने एक मामला और दर्ज किया था. इससे पहले ईडी ने जौहर यूनिवर्सिटी से जुड़े तमाम फंड और ट्रांजैक्शन की डिटेल जुटाई है.

उधर, योगी सरकार कुछ ऐसी व्यवस्था करने जा रही है, जिससे आजम खान के बेटे अब्दुल्ला आजम अगले 6 साल तक चुनाव ही नहीं लड़ पायेंगे. अब्‍दुल्‍ला आजम को 72 महीनों तक चुनाव लड़ने से डिबार करने की योजना है. इस बात का खुलासा शासन के सूत्रों ने किया है. जानकारी के मुताबिक, पिछले साल दिसंबर में स्वार सीट से चुनाव जीतने वाले अब्दुल्ला आजम के निर्वाचन को इलाहाबाद हाईकोर्ट ने रद्द कर दिया था, तभी से इसकी तैयारी की जा रही थी.

आजम और उनकी पत्नी-बेटे के खिलाफ कुल 83 मुकदमे दर्ज हैं. कुछ में गिरफ्तारी से उन्हें स्टे मिल गया है. वहीं कुछ मामलों में जमानत मिल गयी. फिलहाल आजम खान किसानों की जमीन हथियाने सहित कई मामलों में आरोपी हैं.

posted by ashish jha

Share Via :
Published Date
Comments (0)
metype

संबंधित खबरें

अन्य खबरें