1. home Home
  2. state
  3. up
  4. court ordered non bailable warrant against ex mla vijay mishra

पूर्व विधायक विजय मिश्रा के खिलाफ गैरजमानती वारंट जारी, BJP नेता के भाई की दिनदहाड़े गोली मारकर की गई थी हत्या

समाजवादी पार्टी ने पूर्व विधायक विजय मिश्रा को पहली बार सन 2001 में ज्ञानपुर सीट से चुनाव लड़ाया था. मतदान के दिन भाजपा विधायक गोरखनाथ पांडे के भाई रामेश्वर नाथ पांडे की दिनदहाड़े गोली मारकर हत्या कर दी गई थी. इस हमले में उनके दूसरे भाई त्रियम्बक नाथ पांडे घायल हो गए थे.

By Prabhat Khabar Digital Desk, Prayagraj
Updated Date
Ex MLA Vijay Mishra
Ex MLA Vijay Mishra
Facebook

Prayagraj News : भाजपा विधायक गोरखनाथ पांडे के भाई रामेश्वर नाथ पांडे की चुनाव के दिन दिनदहाड़े गोली मारकर हत्या मामले में इलाहाबाद हाईकोर्ट ने भदोही के पूर्व विधायक विजय कुमार मिश्रा व अन्य के खिलाफ गैरजमानती वारंट जारी किया है. मामले में अगली सुनवाई छह दिसंबर को होगी. यह आदेश न्यायमूर्ति डॉ. केजे ठाकर व न्यायमूर्ति अजय त्यागी ने शासकीय अपील पर सुनवाई करते हुए दिया है.

भाजपा विधायक गोरखनाथ पांडे के भाई की हुई थी हत्या : समाजवादी पार्टी ने पूर्व विधायक विजय मिश्रा को पहली बार सन 2001 में ज्ञानपुर सीट से चुनाव लड़ाया था. मतदान के दिन भाजपा विधायक गोरखनाथ पांडे के भाई रामेश्वर नाथ पांडे की दिनदहाड़े गोली मारकर हत्या कर दी गई थी. इस हमले में उनके दूसरे भाई त्रियम्बक नाथ पांडे घायल हो गए थे. इसमें विजय कुमार मिश्रा, मनोज मिश्रा उर्फ लाला, गुलाब मिश्रा, मनीष मिश्रा, अशोक शुक्ला, कृष्ण मोहन तिवारी व आध्या तिवारी समेत अज्ञात के खिलाफ गोपीगंज थाने में FIR दर्ज कराई गई थी. चुनाव के बाद आए परिणाम में पूर्व विधायक मिश्रा ने भदोही सीट जीतकर सपा की झोली में डाल दी थी.

भदोही की एडीजे कोर्ट प्रथम ने किया था बरी : भाजपा विधायक गोरखनाथ पांडे के भाई रामेश्वर नाथ पांडे की दिनदहाड़े गोली मारकर हत्या मामले में भदोही एडीजे कोर्ट प्रथम ने विजय मिश्रा को 28 मार्च, 2003 को दिए अपने फैसले में बरी कर दिया था. इसके खिलाफ इलाहाबाद हाईकोर्ट में शासकीय अपील दाखिल की गई थी. कोर्ट ने सुनवाई के बाद उपस्थित न होने पर गैरजमानती वारंट जारी कर दिया. मामले में अगली सुनवाई 6 दिसंबर को होगी.

हत्या, दुराचार समेत 79 मुकदमे दर्ज : बाहुबली पूर्व विधायक विजय मिश्रा पर हत्या, रंगदारी, जान से मारने की धमकी, दुराचार, संपत्ति हड़पने, विधायक के भाई की हत्या, पुलिस के सिपाही की हत्या समेत लगभग 79 मुकदमें दर्ज हैं. इस वक्त वह आगरा जेल में निरुद्ध. बीते कुछ माह पहले टोल प्लाजा व्यवसायी को धमकी देने का ऑडियो वायरल होने और रिश्तेदार द्वारा मकान और फर्म पर कब्जा करने की शिकायत पुलिस से करने के बाद उनपर शिकंजा कसता चला गया था. मामलों में सख्त हुई तो पुलिस ने विधायक को मध्य प्रदेश से महाकाल का दर्शन कर लौटते वक्त गिरफ्तार कर लिया था. तब से वह आगरा जेल में निरुद्ध हैं. इसके बाद विधायक पर बनारस की एक गायिका ने दुष्कर्म का मुकदमा दर्ज कराया था.

रिपोर्ट : एसके इलाहाबादी

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें