1. home Home
  2. state
  3. up
  4. cm yogi adityanath big announcement now meat and liquor not be sold in pilgrimage areas of uttar pradesh including mathura and vrindavan slt

सीएम योगी का बड़ा एलान : अब मथुरा-वृंदावन सहित यूपी के तीर्थ क्षेत्रों में नहीं बिकेगा मांस और शराब

श्रीकृष्ण जन्माष्टमी के मौके पर मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने एक बड़ा ऐलान किया है. उन्होंने संतों की इच्छा के अनुरूप मथुरा-वृंदावन सहित यूपी के तीर्थ क्षेत्रों में पूर्णतः मांस-मदिरा की बिक्री पर रोक लगाने का एलान किया.

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
यूपी के तीर्थ क्षेत्रों में नहीं बिकेगा मांस और शराब
यूपी के तीर्थ क्षेत्रों में नहीं बिकेगा मांस और शराब
Twitter

Sale of meat and liquor banned in UP pilgrimage site : कान्हा की नगरी मथुरा में कृष्ण जन्मोत्सव मनाने पहुंचे मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने एक बड़ी घोषणा की है. उन्होंने कहा कि तीर्थ क्षेत्रों में मांस और मदिरा की बिक्री पर पूरी तरह से प्रतिबंध लगाया जाएगा.

बता दें कि अभी तक मंदिरों और धर्मस्थलों से 100 मीटर की दूरी पर शराब दुकानें और मांस की दुकानें खोलने पर रोक है. ऐसे में सीएम की इस घोषणा के बाद अब मथुरा-वृंदावन सहित प्रदेश के अन्य तीर्थ स्थलों पर मांस और मदिरा की बिक्री पर रोक लग गई है.

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि पूज्य संतों का कहना है कि ब्रज के सभी क्षेत्रों में मांस की बिक्री पर रोक लगनी चाहिए और यह होना चाहिए. प्रशासन इस संबंध में योजना बनाकर, जो लोग इस क्षेत्र में कार्य कर रहे हैं, उनके पुनर्वास की व्यवस्था करें. साथ ही उन्होंने कहा कि पहले की सरकारों के जनप्रतिनिधि मंदिर जाने तक में डरते थे, लेकिन आज ऐसा नहीं है. आज वह लोग भी कहते हैं कि राम हमारे हैं.

मुख्यमंत्री ने कहा कि मथुरा की सांस्कृतिक और आध्यात्मिक महिमा को पुनर्जीवित करने के लिए शराब और मांस के व्यापार में प्रतिबंध लगे. इससे प्रभावित लोग दूध बेचना शुरू कर सकते हैं. द्वापर युग का स्मरण करते हुए मुख्यमंत्री ने कहा कि दुग्ध उत्पादन और दूध की बिक्री के क्षेत्र में लोगों को प्रोत्साहित करने की जरूरत है.

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने सोमवार को कहा कि मथुरा के वृन्दावन, गोवर्धन, नन्दगांव, बरसाना, गोकुल, महावन एवं बलदेव में जल्द ही मांस और शराब की बिक्री बंद कर इन कार्यों में लगे लोगों का अन्य व्यवसायों में पुनर्वास किया जाएगा.

आपको बता दें कि मथुरा में जन्माष्टमी पर मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने श्रीकृष्ण जन्मस्थान मंदिर में कान्हा के दर्शन किए. वह काफी देर तक श्रीराधाकृष्ण की अद्भुत छवि को निहारते रहे. उन्होंने कहा कि पिछले तीन साल से इस मौके का इंतजार कर रहा था, लेकिन हर बार कोई न कोई बाधा उन्हें रोक देती थी. अब उनकी इच्छा पूरी हुई है.

Posted By Ashish Lata

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें