1. home Hindi News
  2. state
  3. up
  4. bullion trader wife and son murdered for govt job and funds anjali somesh arrested aligarh nrj

Aligarh News: सरकारी नौकरी और फंड के लिए हुई सर्राफा व्यापारी की पत्नी-बेटे की हत्या, अंजली-सोमेश धरे गए

मृतका शिखा के पिता देवेंद्र किशोर वर्मा जिला बचत अधिकारी थे. उनकी मौत पिछले साल 13 अप्रैल 2021 को आगरा के एसएन मेडिकल कॉलेज में हो गई थी. उससे 3 साल पहले 16 अगस्त 2018 को उनकी मां का निधन हुआ था. शिखा तीन बहनें थी, उनका कोई भाई नहीं था.

By Prabhat Khabar Digital Desk, Aligarh
Updated Date
सर्राफा व्यापारी की पत्नी और बेटे की हत्या पर लोगों ने जताया रोष.
सर्राफा व्यापारी की पत्नी और बेटे की हत्या पर लोगों ने जताया रोष.
File Photo

Aligarh News: अलीगढ़ के क्वार्सी थाना अंतर्गत सुरेंद्र नगर में सर्राफा व्यापारी की पत्नी और बेटे की हत्या के पीछे सर्राफा व्यापारी के ससुर की सरकारी नौकरी व 45 लाख रुपए के फंड के विवाद को बताया जा रहा है. मां बेटे का पोस्टमार्टम के बाद अंतिम संस्कार कर दिया गया है. मामले में पुलिस ने अंजली-सोमेश को हिरासत में ले लिया है.

दोनों बहनों में था विवाद

पुलिस के अनुसार, मृतका शिखा के पिता देवेंद्र किशोर वर्मा जिला बचत अधिकारी थे. उनकी मौत पिछले साल 13 अप्रैल 2021 को आगरा के एसएन मेडिकल कॉलेज में हो गई थी. उससे 3 साल पहले 16 अगस्त 2018 को उनकी मां का निधन हुआ था. शिखा तीन बहनें थी, उनका कोई भाई नहीं था. उनके बाद उनकी नौकरी पाने के लिए और फंड से मिले 45 लाख को लेकर शिखा और अंजली के बीच विवाद चल रहा था. 15 सितंबर 2021 में शिखा ने अनुकंपा के आधार पर नौकरी के लिए आवेदन किया था. इसके लिए अंजलि ने भी आवेदन किया गया था. अंजलि ने बेगम बाग निवासी सोमेश चौहान के साथ आर्य समाज मंदिर में शादी कर ली थी. नौकरी पाने के लिए अंजलि खुद को शादीशुदा नहीं बताती थी. कानूनी रूप से विवाहित बेटा या बेटी को मृतक आश्रित नहीं माना जाता है. इसलिए ललित वर्मा ने न्यायालय में वाद दायर कर रखा था.

सीसीटीवी में दिखे 2 नकाबपोश...

पुलिस ने सर्राफा कारोबारी ललित वर्मा की छोटी साली अंजली और उसके होने वाले पति सुमेश को हिरासत में ले लिया है. दोनों से मामले में गहन पूछताछ चल रही है. सर्राफा कारोबारी ललित वर्मा ने अंजली और सोमेश के खिलाफ हत्या की नाम दर्ज रिपोर्ट कराई थी. मां बेटे की हत्या के बाद पुलिस द्वारा तलाशे गए सीसीटीवी फुटेज में 2 नकाबपोश दिखे थे. दोनों सुरेंद्र नगर पानी की टंकी वाले रोड की तरफ से सर्राफा व्यापारी ललित वर्मा के मकान की गली में आए थे. दोनों आरोपितों ने गेट खुलवाया. इसके बाद दोनों अंदर घुस गए. करीब पौन घंटे बाद दोनों आरोपी सिंघल सदन की ओर बाहर चले गए. दोनों के हाथों में कुछ सामान भी दिख रहा था.

शोक में सर्राफा बाजार रहा बंद

सर्राफा व्यापारी की पत्नी व बेटे की हत्या के शोक में शुक्रवार को अलीगढ़ का फूल चौक व अन्य सर्राफा बाजार बंद रहे. इंडियन बुलियन एंड ज्वैलरी एसोसिएशन व अखिल भारतीय माहौर स्वर्णकार महासभा ने मामले पर रोष व्यक्त किया है. अलीगढ़ के सुरेंद्र नगर निवासी ललित वर्मा की फूल चौक पर राधिका ज्वेलर्स के नाम से दुकान है. सुरेंद्र नगर में ललित वर्मा की 37 वर्षीय पत्नी शिखा वर्मा और 8 वर्षीय बेटा गिरवांशु घर पर अकेले थे. ज्वेलर ललित वर्मा जब दुकान बंद कर घर लौटे तो पत्नी और बेटे को मृत लहूलुहान पड़े देखा. घर का सामान बिखरा हुआ था.

रिपोर्ट : चमन शर्मा

Prabhat Khabar App :

देश-दुनिया, बॉलीवुड न्यूज, बिजनेस अपडेट, मोबाइल, गैजेट, क्रिकेट की ताजा खबरें पढ़ें यहां. रोजाना की ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज कवरेज के लिए डाउनलोड करिए

googleplayiosstore
Follow us on Social Media
  • Facebookicon
  • Twitter
  • Instgram
  • youtube

संबंधित खबरें

Share Via :
Published Date

अन्य खबरें