1. home Hindi News
  2. state
  3. up
  4. allahabad
  5. priyanka gandhis anger on yogi government over prayagraj murder case sht

Prayagraj News: गोहरी हत्याकांड को लेकर प्रियंका का योगी सरकार पर फूटा गुस्सा, घटना को सुन कांप उठेगी रूह!

कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी फाफामऊ थाना क्षेत्र के मोहनगंज फुलवरिया गोहरी गांव पहुंची. जहां वह एक ही परिवार के चार लोगों की हत्या के बाद मृतकों के परिजनों से मिली, जिसके बाद उन्होंने बीजेपी सरकार पर जमकर निशाना साधा.

By Prabhat Khabar Digital Desk
Updated Date
priyanka gandhi vadra
priyanka gandhi vadra
fb

Prayagraj News : कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी शुक्रवार शाम को फाफामऊ थाना क्षेत्र के मोहनगंज फुलवरिया गोहरी गांव पहुंची. प्रियंका यहां एक ही परिवार के चार लोगों की हत्या के बाद मृतकों के परिजनों से मिलने पहुंची थी. मृतकों के परिजनों से करीब एक घंटे की मुलाकात के बाद प्रियंका ने सरकार से एक के बाद एक कई सवाल किए, साथ ही गंभीर आरोप लगाए.

प्रियंका ने योगी सरकार से सवाल पूछते हुए कहा कि, प्रदेश में क्या हो रहा है? आगरा में अरुण वाल्मीकि के साथ क्या हुआ? हाथरस का जिक्र करते हुए उन्होंने कहा यहां क्या हो रहा? क्या दलितों पर ऐसे ही अत्याचार होता रहेगा? सब ऐसे ही हाथ पर हाथ रख देखते रहेंगे. संविधान दिवस क्यों मना रहे हैं.

योगी सरकार में पीड़ितों को न्याय नहीं- प्रियंका

प्रियंका ने पुलिस प्रशासन की कार्यशैली पर सवाल उठाते हुए कहा कि, इन्हें सुरक्षा क्यों नहीं दी गई थी, जो आज पुलिस लगाई गई है तब मदद क्यों नहीं दी गई थी. उन्होंने कहा कि इस सरकार में दलितों, किसानों और महिलाओं के लिए न्याय नहीं है. मृतक के परिजनों ने प्रियंका गांधी अपनी आप बीती साझा की. जिसे सुनने के बाद प्रियंका बेहद भावुक नजर आईं. प्रियंका ने कहा कि वह न्याय की लड़ाई में पीड़ितों के साथ हैं. प्रियंका घटना को लेकर बेहद परेशान नजर आई. नम आंखों के साथ वह अपना माथा पकड़े दिखीं.

पुलिस ने 11 के खिलाफ दर्ज की है FIR

मृतक के भाई लालचंद की तहरीर के मुताबिक, सभी 11 आरोपी गांव के ही हैं. पुलिस ने लालचंद की तहरीर मिलने के बाद गांव के ही आकाश सिंह, बबली सिंह पत्नी अमित सिंह, रवि सिंह, मनीष सिंह, अमित सिंह, अभय सिंह राजा, कुलदीप कान्हा, अशोक, रंजू आदि के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर जांच शुरू कर दी है.

नजारा देख कांप गई थी भाई की रूह

मृतक के भाई लालचंद के मुताबिक, गुरुवार सुबह पड़ोस में रह रहे चाट वाले ने आकर बताया कि तुम्हारे भाई के घर से दो-तीन दिन से कोई बाहर नहीं निकला है. कोई है नहीं क्या? जिसके बाद लालचंद मौके पर पहुंचा तो दरवाजा बंद था. धक्का देते ही दरवाजा खुल गया. लालचंद ने बताया की अंदर का नजार देख वह कांप गया था. उसने घरवालों को घटना की सूचना दी. लाल चंद ने बताया भाई फूलचंद (50) उसकी पत्नी मीनू देवी (45) बेटे शिव (10) का शव ओसारे में पड़ा था. अंदर कमरे में चारपाई पर बेटी की लाश पड़ी थी. सभी की कुल्हाड़ी से काटकर हत्या की गई थी.

फटे-नुचे कपड़ो में चारपाई पर पड़ी थी बेटी की लाश

लालचंद ने prabhatkhabar.com को बताया कि जब वह ओसारे से कमरे में घुसा तो चारपाई पर पड़ी बेटी की लाश देख उसका दिल दहल गया. लालचंद ने कहा कि बिटिया के कपड़े फटे - नुचे थे. लालचंद ने दुष्कर्म की भी आशंका जताई है.

गांव वालों ने पांच घंटे तक नहीं उठने दिया था शव

घटना से आक्रोशित परिजनों ने करीब 5 घंटे तक चारों मृतकों के शव नहीं उठने दिए थे. सूचना के बाद मौके पर पहुंचे डीएम संजय खत्री और डीआईजी/ एसएसपी सर्वश्रेष्ठ त्रिपाठी के समझाने और कड़ी कारवाई के आश्वासन के बाद परिजन और ग्रामीण माने, जिसके बाद शव पोस्टमार्टम के लिए मेडिकल कॉलेज भेजा गया.

परिजनों ने पुलिस पर लगाया गंभीर आरोप

मृतकों के परिजनों का आरोप है कि गांव के ही कुछ दबंगों के साथ रास्ते की जमीन को लेकर लंबे समय से विवाद चल रहा था. विवाद के चलते दबंगों ने कई बार उनकी पिटाई भी की थी. इस संबंध में एक एससी एसटी का मुकदमा दर्ज हुआ था, जिसकी चार्जशीट आज तक नहीं लगी. दबंग मुकदमे को वापस लेने का दबाव बना रहे थे. पुलिस के पास कई बार गए लेकिन पुलिस ने उनकी एक नहीं सुनी.

पुलिस को अब पोस्टमार्टम रिपोर्ट का इंतजार

मामले में 11 लोगों के खिलाफ मुकदमा दर्ज करने के बाद पुलिस को अब मृतकों की पोस्टमार्टम रिपोर्ट आने का इंतजार है. साथ ही 17 वर्षीय मृतका की हत्या से पहले दुष्कर्म की आशंका की भी पुष्टि उसकी पोस्टमार्टम रिपोर्ट आने के बाद ही होगी. वहीं, दूसरी ओर पुलिस ने 11 नामजद में चार लोगों को पहले ही हिरासत में ले लिया था. साथ ही मामले में फाफामऊ इंस्पेक्टर समेत दो सिपाहियों को निलंबित कर दिया है.

रिपोर्ट- एस के इलाहाबादी

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें