1. home Hindi News
  2. state
  3. up
  4. aligarh news main accused in the poisonous liquor case will be shifted to mainpuri firozabad and agra jail sht

जहरीली शराब कांड: मैनपुरी, फिरोजाबाद, आगरा जेल में शिफ्ट होंगे आरोपी,106 लोगों की मौत से मच गया था हड़कंप

अलीगढ़ के जहरीली शराब कांड में मुख्य आरोपित ऋषि शर्मा, मुनीश शर्मा और अनिल चौधरी को अलीगढ़ के नजदीकी जेलों में शिफ्ट किया जाएगा.

By Prabhat Khabar Digital Desk, Aligarh
Updated Date
अलीगढ़ जहरीली शराब कांड का मुख्य आरोपित ऋषि शर्मा
अलीगढ़ जहरीली शराब कांड का मुख्य आरोपित ऋषि शर्मा
Prabhat khabar

Aligarh News: अलीगढ़ के चर्चित जहरीली शराब कांड में मुख्य आरोपित ऋषि शर्मा, मुनीश शर्मा और अनिल चौधरी को अलीगढ़ के नजदीकी जेलों में शिफ्ट किया जाएगा. 5 महीने पहले तीनों को अलीगढ़ जेल से अन्य जेलों में शिफ्ट किया गया था.

अलीगढ़ के पास की जेलों में किया जाएगा शिफ्ट

जहरीली शराब कांड में ऋषि शर्मा, उसका भाई मुनीश शर्मा और अनिल चौधरी मुख्य आरोपी है. मंगलवार को आए शासनादेश के अनुसार, अलीगढ़ के जहरीली शराब कांड के मुख्य आरोपित ऋषि शर्मा को मैनपुरी जिला कारागार में, मुनीश शर्मा को फिरोजाबाद जिला कारागार में और अनिल चौधरी को आगरा जेल में शिफ्ट किया जाएगा.

5 माह पहले अलीगढ़ से भेजा गया था अन्य जेलों में

जहरीली शराब कांड के मुख्य आरोपी ऋषि शर्मा, मुनीश शर्मा अनिल चौधरी गिरफ्तारी के समय से अलीगढ़ जिला कारागार में थे. ऋषि शर्मा की पत्नी पूर्व ब्लॉक प्रमुख रेनू शर्मा की जेल में 3 दिसंबर को तबियत बिगड़ी और मेडिकल कॉलेज में ले जाते हुए मौत हो गई थी. इसके बाद ऋषि शर्मा के परिजन अंबेडकर पार्क में धरने पर बैठे थे. चुनाव भी नजदीक था. शासन ने ऋषि शर्मा को अंबेडकरनगर, उनके भाई मुनीश कुमार शर्मा को सेंट्रल जेल बनारस और अनिल चौधरी को प्रयागराज की जेल में शिफ्ट किया था.

ट्रायल में अब आएगी तेजी

जहरीली शराब प्रकरण में 33 मुकदमों में अलीगढ़ कोर्ट में ट्रायल की प्रक्रिया चल रही है. ऋषि शर्मा, मुनीश शर्मा और अनिल चौधरी के अलीगढ़ से बाहर अन्य जिलों में रहने के कारण मुख्य आरोपितों की कई बार सुनवाई नहीं हो सकी, इसलिए तीनों आरोपितों को अब अलीगढ़ की नजदीकी जेलों में शिफ्ट करने के निर्देश हुए हैं, ताकि ट्रायल में तेजी आए.

क्या था पूरा मामला

दरअसल, 28 मई 2021 को अलीगढ़ के गांव करसुइ में शराब पीने से लोगों की मौत का सिलसिला शुरू हुआ. गांव के ठेके से लोगों ने शराब खरीदी और पीने के बाद हालत बिगड़ी. खैर के गांव रायट, अंडला, हैबतपुर, फतेह नगरिया, नंदपुर पला में भी लोगों की शराब पीने से मौत हुई. पहले दिन 22 से अधिक मौतें हुई. 10 दिन तक लगातार मौत का सिलसिला जारी रहा. सरकारी रिकॉर्ड के अनुसार 106 मृतकों के पोस्टमार्टम हुए.

रिपोर्ट- चमन शर्मा

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें