1. home Hindi News
  2. state
  3. the case of selling five women of telangana in dubai for two lakh rupees was revealed the family pleaded with the indian government ksl

तेलंगाना की पांच महिलाओं को दुबई में दो-दो लाख रुपये में बेचने का मामला सामने आया, परिजनों ने भारत सरकार से लगायी गुहार

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
परिजनों ने लगायी वापस बुलाने की गुहार
परिजनों ने लगायी वापस बुलाने की गुहार
ANI

हैदराबाद : तेलंगाना की पांच महिलाओं को दुबई में दो-दो लाख रुपये में बेचने का मामला सामने आया है. इन पीड़ित महिलाओं में से एक पीड़िता की बहन ने बताया है कि उसकी बहन को एक एजेंट ने घर का काम करने के लिए दुबई भेजा था, जहां उसे गलत कार्यों में डाल दिया गया. उसे टॉर्चर किया जा रहा है. साथ ही उन्होंने भारत सरकार से अपील की है कि उसे जल्द वापस लाया जाये.

जानकारी के मुताबिक, तेलंगाना के हैदराबाद में शहर की गरीब मुसलिम महिलाओं को ट्रैवल एजेंट के द्वारा ठगी करने का मामला सामने आया है. तेलंगाना टूडे के मुताबिक, पुराने शहर की इन महिलाओं को अक्तूबर माह में मिस्त्रीगंज से एक दलाल शफी के जरिये दुबई भेजा गया था.

दुबई में एक शॉपिंग मॉल में नौकरी का आश्वासन दिया गया था. साथ ही मुफ्त आवास के अलावा सभी महिलाओं को 40 हजार रुपये मासिक वेतन का वादा किया गया था. पीड़िता के मुताबिक, दुबई उतरने पर घरों में मदद के लिए काम करने को कहा गया.

वहीं, महिला के रिश्तेदारों ने आरोप लगाया है कि एजेंट ने अल-सेफर नामक कंपनी को दो-दो लाख रुपये में बेच दिया. प्रताड़ित किये जाने की सूचना मिलने पर परिजनों ने एजेंट शफी से संपर्क किया. रिश्तेदारों के मुताबिक स्थानीय एजेंट प्रत्येक महिलाओं की वापसी के लिए दो-दो लाख रुपये की मांग कर रहे हैं.

गरीब परिवारों से आनेवाली महिलाओं को दुबई में पर्यटक वीजा पर कथित सिंडिकेट द्वारा ले जाया गया था. एक महिला के रिश्तेदार एम नवाज ने बताया कि तेलंगाना सचिवालय के एनआरआई सेल और राज्य सरकार से मदद मांगी थी. नवाज ने कहा कि अल-सेफर कंपनी प्रबंधन उन्हें वापस भेजने के लिए दो लाख रुपये की मांग कर रहा है.

बताया जाता है कि पुलिस ने मामले की जांच शुरू कर दी है. मानव तस्करी का रैकेट का संदेह जताया जा रहा है. वहीं, स्थानीय एजेंट शफी फरार बताया जा रहा है. महिलाओं के रिश्तेदारों ने एजेंट के खिलाफ कार्रवाई की मांग करते हुए परिजनों की सकुशल वापसी की गुहार लगायी है.

इधर, तेलंगाना के सामाजिक कार्यकर्ता अमजद उल्लाह खान ने कहा है कि साइबराबाद और रचाकोंडा में मानव तस्करी के सबसे ज्यादा केस दर्ज हो रहे हैं. फिर भी सरकार जाग नहीं रही है. जिस एजेंट ने इन महिलाओं के साथ धोखा किया था, उसके खिलाफ कई पुलिस थानों में पहले से ही कई केस दर्ज हैं.

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें