1. home Home
  2. state
  3. maharashtra
  4. political battle continues in mumbai drugs case nawab maliks son in law sent legal notice to ex cm fadnavis vwt

मुंबई ड्रग्स मामले में सियासी जंग जारी, नवाब मलिक के दामाद ने पूर्व सीएम फडनवीस को भेजा कानूनी नोटिस

महाराष्ट्र के मंत्री और एनसीपी नेता नवाब मलिक के दामाद ने पूर्व मुख्यमंत्री और भाजपा नेता देवेंद्र फडणवीस को मानहानिकारक और झूठे आरोपों के लिए कानूनी नोटिस भेजा है.

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
देवेंद्र फडनवीस और नवाब मलिक.
देवेंद्र फडनवीस और नवाब मलिक.
फोटो : ट्विटर.

मुंबई : महाराष्ट्र में मुंबई ड्रग्स मामले में सियासी जंग अब भी बदस्तूर जारी है. इस मामले में महाराष्ट्र के मंत्री और राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी (एनसीपी) ने नवाब मलिक के दामाद ने पूर्व मुख्यमंत्री देवेंद्र फडनवीस को कानूनी नोटिस भेजा है. उन्होंने नोटिस भेजकर फडनवीस पर मानसिक प्रताड़ना और पीड़ा पहुंचाने का आरोप लगाते हुए पांच करोड़ रुपये की मांग की है.

मीडिया की रिपोर्ट्स के अनुसार, महाराष्ट्र के मंत्री और एनसीपी नेता नवाब मलिक के दामाद ने पूर्व मुख्यमंत्री और भाजपा नेता देवेंद्र फडणवीस को मानहानिकारक और झूठे आरोपों के लिए कानूनी नोटिस भेजा है. उन्होंने मानसिक प्रताड़ना और पीड़ा का आरोप लगाते हुए वित्तीय नुकसान के लिए 5 करोड़ रुपये की मांग की है.

वहीं, महाराष्ट्र के मंत्री और एनसीपी नेता नवाब मलिक ने समाचार एजेंसी एएनआई को बताया कि मेरी बेटी ने पूर्व सीएम और भाजपा नेता देवेंद्र फडणवीस को उनके आवास पर ड्रग्स पाए जाने के आरोप पर कानूनी नोटिस भेजा है. फडणवीस के खिलाफ मानहानि का मामला दर्ज करेंगे, अगर वह हमसे माफी नहीं मांगेंगे.

उधर, शिवसेना के सांसद संजय राउत ने एनसीपी नेता नवाब मलिक से अपील की है कि वे भाजपा नेता देवेंद्र फडनवीस के साथ सियासी जंग को समाप्त करें. हालांकि, खबर यह भी है कि महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने नवाब मलिक की पीठ थपथपाई है.

मलिक ने जिस तरीके से आर्यन खान ड्रग्स मामले में एनसीबी के खिलाफ हमलावर रुख अख्तियार किया है, उसके बाद ठाकरे ने उन्हें राज्य सरकार समर्थन देने की बात कही है. मीडिया की रिपोर्ट्स के अनुसार, इस मामले में उन्होंने नवाब मलिक को जंग जारी रखने की खुद ही सूचना दी है.

बता दें कि नवाब मलिक ने बुधवार को देवेंद्र फडनवीस पर आरोप लगाते हुए बयान दिया कि देवेंद्र फडनवीस के इशारे पर महाराष्ट्र में उगाही और नकली नोटों का धंधा चलाया जाता था. अपने आरोप में उन्होंने कहा कि देवेंद्र फडनवीस अधिकारी समीर वानखेड़े को बचाने की कोशिश कर रहे हैं, क्योंकि वह उनका करीबी है.

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें