1. home Home
  2. state
  3. maharashtra
  4. maharashtra flood ndrf teams are engaged in rescue and relief operations in flood affected ratnagiri and kolhapur smb

Maharashtra Flood : महाराष्ट्र में बाढ़ से हाहाकार, NDRF की टीम राहत और बचाव कार्य में जुटी

Maharashtra Flood महाराष्ट्र में बाढ़ से भारी तबाही हुई है. राज्य सरकार की ओर से शनिवार को दी गई जानकारी के मुताबिक, राज्य में बाढ़ से अब तक 76 लोगों की मौत हो चुकी है. जबकि, 38 अन्य घायल हो गए हैं. साथ ही बताया जा रहा है कि 30 लोग बाढ़ में लापता हो गए हैं.

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
Maharashtra Flood News Updates
Maharashtra Flood News Updates
ANI

Maharashtra Flood महाराष्ट्र में बाढ़ से भारी तबाही हुई है. राज्य सरकार की ओर से शनिवार को दी गई जानकारी के मुताबिक, राज्य में बाढ़ से अब तक 76 लोगों की मौत हो चुकी है. जबकि, 38 अन्य घायल हो गए हैं. साथ ही बताया जा रहा है कि 30 लोग बाढ़ में लापता हो गए हैं. रत्नागिरी जिले में रायगढ़ और पश्चिमी महाराष्ट्र में कोल्हापुर जिला बाढ़ से सबसे ज्यादा प्रभावित है. इसके अलावा सातारा जिले के कई हिस्सों में भारी बारिश का कहर देखने को मिल रहा है. इन सबके बीच एनडीआरएफ की टीम बाढ़ प्रभावित रायगढ़ और कोल्हापुर में राहत और बचाव कार्य में जुटी है.

वहीं, महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने आज रायगढ़ में महाड़ के तलिये गांव का दौरा किया. मुख्यमंत्री ने कहा कि बाढ़ से जिन लोगों को नुकसान हुआ है उन्हें मुआवजा दिया जाएगा. उन्होंने कहा कि हम कोशिश करेंगे कि भविष्य में ऐसी घटनाओं में किसी की जान न जाए.

बता दें कि महाराष्ट्र के रायगढ़ ज़िले के तलिये गांव में भूस्खलन होने से भारी नुकसान हुआ है. न्यूज एजेंसी एएनआई से बातचीत में एक व्यक्ति ने बताया कि हमारे गांव में 40 घर हैं और इस वक्त 100 लोग रह रहे हैं. गांव में कुछ भी नहीं बचा है. भूस्खलन के बाद इलाका पूरा मैदान में बदल गया है.

न्यूज एजेंसी की रिपोर्ट के मुताबिक, महाराष्ट्र में सांगली जिले के कानेगांव और भारत्वादी गांव में बाढ़ के पानी से कई घर डूब गए हैं. एक शख्स ने बताया कि मेरा मकान पूरा पानी में डूब गया है. कुछ मकान तो टूट गए और खेतों में भी पानी भर गया है. एनडीआरएफ (NDRF) की टीम बचाव के लिए नहीं आई. लोग खुद ही सुरक्षित जगहों पर आए हैं.

इन सबके बीच, बारिश की वजह से रेल सेवाएं रूकने पर मध्य रेलवे के मुख्य जनसंपर्क अधिकारी शिवाजी सुतार ने कहा कि 22 जुलाई की बारिश के बाद से अब ट्रेन पुणे और नासिक की तरफ से आ रही हैं. हम कोविड निर्देशों का पालन कर रहे हैं. राज्य सरकार ने जिन लोगों को सफर की अनुमति दी है, हम उन्हें ही जाने दे रहे हैं.

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें