14.1 C
Ranchi
Sunday, February 25, 2024

BREAKING NEWS

Trending Tags:

Homeबड़ी खबरझारखंड राज्यसभा चुनाव: सत्ता पक्ष की राह है आसान लेकिन आपस में हो सकती है तनातनी

झारखंड राज्यसभा चुनाव: सत्ता पक्ष की राह है आसान लेकिन आपस में हो सकती है तनातनी

10 जून को झारखंड का राज्यसभा चुनाव होने वाला है, इसे लेकर राजनीतिक सरगर्मी बढ़ गयी है, 2 सीटों पर होने वाले चुनाव को लेकर सत्ता पक्ष की राह आसान है लेकिन झामुमो, कांग्रेस के बीच सीटों को लेकर तनातनी हो सकती है.

रांची : 10 जून को झारखंड में राज्यसभा की दो सीटों के लिए चुनाव होगा. देशभर के 15 राज्यों में राज्यसभा की 57 खाली सीटों पर चुनाव होना है. झारखंड से भाजपा के राज्यसभा सांसद महेश पोद्दार और मुख्तार अब्बास नकवी की सीट खाली होगी. भाजपा की दो सीटें खाली हो रही हैं, लेकिन भाजपा को एक सीट पर जीत के लिए भी आंकड़ा जुटाना होगा. वहीं सत्ताधारी गठबंधन एक सीट पर जीत दर्ज करने की स्थिति में है. झामुमो, कांग्रेस व राजद गठबंधन को दोनों सीट निकालना आंकड़े में मुश्किल है.

बढ़ी सरगरमी :

चुनावी घोषणा के साथ ही सत्ता पक्ष में तकरार का प्लॉट भी तैयार हो रहा है. कांग्रेस प्रभारी अविनाश पांडेय ने कहा है कि इस बार उनकी पार्टी का हक बनता है. पिछली बार शिबू सोरेन को जिताया था. वहीं झामुमो ने कहा है कि दोनों सीटों को निकालने की कोशिश करेंगे. एक सीट तो झामुमो का है और दूसरी सीट कांग्रेस को देंगे. पिछली बार भी गठबंधन ने दो उम्मीदवार दिये थे. एक शिबू सोरेन थे, दूसरे कांग्रेस के शहजादा अनवर थे. सत्ता पक्ष शिबू सोरेन की जीत निश्चित कर पाया. अगर झामुमो ने फिर वही पासा फेंका, तो कांग्रेस के साथ तनातनी हो सकती है.

जीत के लिए पहली वरीयता के 28 वोट जुटाने होंगे :

राज्यसभा चुनाव के लिए पहले वरीयता का 28 वोट प्रत्याशी को हासिल करना है. सत्ता पक्ष आसानी से इस आंकड़े को पार कर लेगा. वहीं भाजपा के पास वर्तमान में 26 विधायक हैं. ऐसे में भाजपा को दो वोटों की जरूरत होगी. आजसू व निर्दलीय पर भाजपा को भरोसा करना होगा. बंधु तिर्की की सदस्यता आय से अधिक मामले में चली गयी है. कांग्रेस में शामिल होनेवाले श्री तिर्की इस बार वोट नहीं दे पायेंगे.

गठबंधन में बात होगी पर हमारी दावेदारी

कांग्रेस अध्यक्ष राजेश ठाकुर ने कहा है कि गठबंधन में बात होगी. पिछली बार हमने गुरुजी को जिता कर भेजा था, तो स्वाभाविक है कि इस बार हमें मौका मिलना चाहिए़. इस बार कांग्रेस नामित उम्मीदवार को मौका मिलना चाहिए़ . उन्होंने कहा कि सामूहिक रूप से रणनीति बनाने की जरूरत है. हमारी पार्टी में आलाकमान का निर्णय अंतिम होगा.

दो सीट निकालने की कोशिश होगी : सुप्रियो

झामुमो के वरिष्ठ नेता सुप्रियो भट्टाचार्य ने कहा है कि आंकड़ा हमारे साथ है. हम दोनों ही सीट निकालने की कोशिश करेंगे. राज्यसभा में हमारी कोशिश होगी कि गठबंधन के दोनों दल जायें. झामुमो तो एक सीट पर खड़ा होगा ही, गठबंधन के अंदर बात होगी. पूरी रणनीति के साथ चुनाव में उतरेंगे. भाजपा को शिकस्त देने के लिए पूरी ताकत से लड़ेंगे.

आजसू सहित सभी सहयोगी से बात करेंगे : दीपक

भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष व सांसद दीपक प्रकाश ने कहा कि पिछले चुनाव में हमने 31 वोट लाया था. हमारी जीत इस बार भी तय है. भाजपा आजसू सहित सभी सहयोगी दलों से बात करेगी. निर्दलीय सरयू राय से भी बात होगी. हमें पिछली बार पूरा सहयोग मिला था. भाजपा की एक सीट पर जीत का पूरा आंकड़ा है.

Posted By: Sameer Oraon

You May Like

Prabhat Khabar App :

देश, एजुकेशन, मनोरंजन, बिजनेस अपडेट, धर्म, क्रिकेट, राशिफल की ताजा खबरें पढ़ें यहां. रोजाना की ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज कवरेज के लिए डाउनलोड करिए

अन्य खबरें