1. home Hindi News
  2. state
  3. jharkhand
  4. ranchi
  5. people spit on coronavirus warriors in hindpidhi of ranchi

रांची में भी कोरोना वारियर से बदसलूकी, हिंदपीढ़ी को सैनिटाइज करने गये निगम कर्मियों पर लोगों ने थूका

By Prabhat Khabar Print Desk
Updated Date
रांची की हर गली में लगातार किया जा रहा है केमिकल का छिड़काव.
रांची की हर गली में लगातार किया जा रहा है केमिकल का छिड़काव.

रांची : झारखंड की राजधानी रांची में भी कोरोना वारियर्स के साथ बदतमीजी शुरू हो गयी है. हिंदपीढ़ी में एक साथ 5 मरीज मिलने के बाद इलाके को सैनिटाइज करने के लिए गये रांची नगर निगम के कर्मचारियों पर लोगों ने थूकना शुरू कर दिया. इससे गुस्साये निगम के सफाई कर्मचारी वहां से लौट आये. उन्होंने निगम से इसकी शिकायत की. रांची नगर निगम के उप-आयुक्त ने वरीय अधिकारी से बात करके दोषी लोगों के खिलाफ कार्रवाई का उन्हें भरोसा दिया.

हिंदपीढ़ी में कोरोना के सात मरीज पाये जाने के बाद नगर निगम मुहल्ले के तीन किलोमीटर के दायरे को पूरी तरह से सेनिटाइज करने की तैयारी में है. नाला रोड से सभी पॉजिटिव मरीजों के पाये जाने के कारण निगम का विशेष ध्यान इस मोहल्ले पर है. निगम प्रतिदिन इस मोहल्ले के सभी घरों को सेनिटाइज करवा रहा है.

गुरुवार को भी निगम की टीम सेनिटाइज करने के लिए वार्ड नंबर-23 स्थित नाला रोड पहुंची. यहां सेनिटाइजेशन का काम शुरू हुआ. कुछ घरों के बाद ही सेनिटाइजेशन का काम कर रहे कर्मचारी ने कहा कि लोग छतों पर अचानक आकर उनके ऊपर थूक रहे हैं. इसके बाद तेजी से वे आगे बढ़े लेकिन नाला रोड के बीच में जैसे ही पहुंचे, अचानक थूकनेवाले लोगों की संख्या में वृद्धि हो गयी.

गाड़ी में बैठे ड्राइवर व टैंकर पर बैठे कर्मचारी ने पाया कि हर छत से पांच से छह व्यक्ति थूक रहा है. इसके बाद निगम की टीम नाला रोड से वापस आ गयी. यहां आकर कर्मचारियों ने पूरे मामले की जानकारी उप नगर आयुक्त रजनीश कुमार को दी. इसके बाद श्री कुमार ने कर्मचारियों को आश्वस्त किया कि इस संबंध में वे उपायुक्त से बात करेंगे.

उन्होंने कर्मचारियों से आग्रह किया कि वे अपना काम जारी रखें. अभी मुश्किल वक्त में किसी प्रकार की हड़ताल आदि करने का निर्णय नहीं लें. इंफोर्समेंट टीम का प्रोटेक्शन भी नहीं आया काम निगम कर्मचारियों के साथ पांच दिन पहले भी बदसलूकी हुई थी.

इस दौरान पूर्व पार्षद ने सेनिटाइज करने गये निगम के टैंकर ड्राइवर की पिटाई की थी. इसकी शिकायत भी निगम अधिकारियों से की गयी थी. इसके बाद निगम अधिकारियों ने निर्णय लिया कि अब सेनिटाइज करने का काम निगम के इंफोर्समेंट अफसरों की देखरेख में होगा. जो भी वाहन हिंदपीढ़ी जायेंगे, उनके साथ में इंफोर्समेंट अफसरों की टीम भी जायेगी. गुरुवार को इंफोर्समेंट टीम के रहने के बावजूद यह घटना घटी.

Share Via :
Published Date
Comments (0)
metype

संबंधित खबरें

अन्य खबरें