1. home Hindi News
  2. state
  3. jharkhand
  4. ranchi
  5. naxalite maharaj pramanik enumerated names assets of his friends and helpers grj

Jharkhand News: सरेंडर कर चुके नक्सली महाराज प्रमाणिक ने उगले राज, बताये साथियों व मददगारों के नाम

पिछले दिनों पुलिस के सामने सरेंडर करने वाले नक्सली सब जोनल कमांडर महाराज प्रमाणिक ने पुलिस को जानकारी दी है कि वर्ष 2008 में कांड्रा एवं वर्ष 2009 में चांडिल थाना से उसे जेल भेजा गया था.

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
Jharkhand News: पुलिस कस्टडी में महाराज प्रमाणिक
Jharkhand News: पुलिस कस्टडी में महाराज प्रमाणिक
प्रभात खबर

Jharkhand News: रांची आईजी कार्यालय में पिछले दिनों आत्मसमर्पण करने वाले नक्सली सब जोनल कमांडर महाराज प्रमाणिक ने पुलिस को पूछताछ में अपने सहयोगियों एवं मददगारों के नाम बताये हैं. उसने अपनी चल एवं अचल संपत्ति चार एकड़ पुश्तैनी जमीन, दो कमरे का खपरैल घर, एक पक्का मकान, एक दो मंजिला मकान, एक हॉस्पिटल जीवन दीप (चौका में), एक इंडिगो कार होने की जानकारी दी है. भाकपा माओवादी ने बुंडू, चांडिल सब जोन में जोनल कमांडर के पद के साथ ही जोनल प्रवक्ता (अशोक जी के नाम से) होने की बात बतायी है.

पहले भी जेल जा चुका है महाराज

पिछले दिनों पुलिस के सामने सरेंडर करने वाले नक्सली सब जोनल कमांडर महाराज प्रमाणिक ने पुलिस को जानकारी दी है कि वर्ष 2008 में कांड्रा एवं वर्ष 2009 में चांडिल थाना से उसे जेल भेजा गया था. उसने बताया कि दक्षिणी छोटानागपुर जोन के अंतर्गत बुंडू, चांडिल के जोनल कमांडर के रूप में उसका कार्यक्षेत्र रहा है. वर्तमान कार्यक्षेत्र के रूप में उसने सरायकेला-खरसावां, पूर्वी सिंहभूम, पश्चिम सिंहभूम, खूंटी, रांची का क्षेत्र जिसमें रांची का पूर्वी क्षेत्र, चौका थाना क्षेत्र, खरसावां थाना का उत्तरी भाग, ईचागढ़ थाना का पश्चिम भाग जो तमाड़ एवं सोनाहातू से लगा हुआ है.

सहयोगी व दस्ता के सदस्यों के नाम भी बताये

वर्तमान कार्यक्षेत्र में तिरूलडीह थाना क्षेत्र, कुचाई, दलभंगा क्षेत्र में सरायकेला-खरसावां का रायसिंदरी, जंबरो, झरझरा, लुदुबेड़ा, गंडकीदा, लांजी,रोलाहातु, रिलुंग,कुदादाबुरू, टोटकरा, जारागोड़ा, चैतनपुर, रायजामा, पंडाडीह, कांडेरकुटी, मेरोमजंगा, मारूपीडी, लोटाबुरू, सयालडीह, बनिदा, मुटुदा, गोमियाडीह, गिलुवा, पुनीसीर, बाउगुट्टू, हतनाबेड़ा, पांडूबुरू, रियारदा, बर्सिदा, रंका, टुरू रंगामाटिया, हाथीकोचा, हेस्साकोचा, मार्चाबेड़ा, गुटूउली, नागाडुंगरी, मुरूडीह, घाटदुलमी, झुंझकी, पतपत, सिलपिंगदा, रिडिंगदा, पुंडिता आदि क्षेत्र आते हैं. पुलिस को उसने सहयोगी, दस्ता के सदस्यों के नाम भी बताये हैं.

Posted By : Guru Swarup Mishra

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें