1. home Home
  2. state
  3. jharkhand
  4. ranchi
  5. lalu yadav dissolved jharkhand rjd committee the effect of factionalism visible smj

लालू यादव के निर्देश पर झारखंड प्रदेश राजद कमेटी भंग, पार्टी में आंतरिक कलह का दिखा असर, अधिसूचना जारी

राजद के राष्ट्रीय अध्यक्ष लालू प्रसाद यादव के निर्देश पर झारखंड प्रदेश राजद के सभी प्रकोष्ठों को तत्काल प्रभाव से भंग कर दिया गया है. राज्य में पार्टी के बीच गुटबाजी का असर दिखा.

By Prabhat Khabar Digital Desk
Updated Date
Jharkhand news: राजद सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव के निर्देश पर झारखंड राजद कमेटी को किया भंग.
Jharkhand news: राजद सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव के निर्देश पर झारखंड राजद कमेटी को किया भंग.
ट्विटर.

Jharkhand News (रांची) : RJD सुप्रीमो लालू यादव ने झारखंड प्रदेश राजद की पूरी कमेटी भंग कर दी है. जारी अधिसूचना में कहा गया है कि पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष लालू प्रसाद यादव के निर्णय के अनुसार, राजद के प्रदेश संगठन सहित सभी प्रकोष्ठों को तत्काल प्रभाव से भंग किया जाता है. अब पार्टी के नेतृत्व की ओर से झारखंड में जल्द ही नये प्रदेश अध्यक्ष की घोषणा होगी. पार्टी के राष्ट्रीय प्रधान महासचिव अब्दुल बारी सिद्दीकी की ओर से यह अधिसूचना जारी हुई है.

राजद ने झारखंड प्रदेश राजद के सभी प्रकोष्ठों को भंग करने संबंधी अधिसूचना की जारी.
राजद ने झारखंड प्रदेश राजद के सभी प्रकोष्ठों को भंग करने संबंधी अधिसूचना की जारी.
RJD.

सूत्रों के मुताबिक, झारखंड प्रदेश राजद में आंतरिक कलह सतह पर आने और प्रदेश प्रवक्त समेत अन्य नेताओं को पार्टी से हटाये जाने के बाद से ही पार्टी में विवाद शुरू हो गया था. बता दें कि झारखंड के तत्कालीन प्रदेश अध्यक्ष अभय कुमार सिंह ने प्रदेश प्रवक्ता डॉ मनोज कुमार समेत चार अन्य नेताओं को पार्टी से 6 साल के लिए निष्कासित कर दिया था. हालांकि, राष्ट्रीय अध्यक्ष की अनुमति से निष्कासन के कुछ घंटे बाद ही डॉ मनोज कुमार को दोबारा पार्टी प्रवक्ता बना दिया गया.

इसके अलावा झारखंड राजद प्रदेश अध्यक्ष अभय सिंह के अलावा सुभाष यादव व रंजन कुमार के खिलाफ भी पार्टी के अन्य लाेग गोलबंद हो गये थे. इधर, संभावना यह भी जतायी जा रही है कि पार्टी के आंतरिक विवाद को खत्म करने के लिए ही झारखंड प्रदेश राजद के सभी प्रकोष्ठाें को भंग किया गया है. इसके बाद नये सिरे से प्रदेश संगठन के गठन की तैयारी होगी.

इधर, पिछले कुछ दिनों से झारखंड राजद के अंदर खींचतान का असर पार्टी के कार्यों पर पड़ रहा था. गुटबाजी चरम पर होने के कारण पदाधिकारी अपने-अपने तरीके से पार्टी को चलाना चाहते थे. इसके कारण पार्टी की गतिविधियों पर असर दिखने लगा था. इसको देखते हुए ही राष्ट्रीय अध्यक्ष लालू यादव को हस्तक्षेप करना पड़ा. इसके बाद श्री यादव के निर्देश पर पार्टी के राष्ट्रीय प्रधान महासचिव अब्दुल बारी सिद्दिकी ने झारखंड प्रदेश संगठन सहित सभी प्रकोष्ठ को तत्काल प्रभाव से बुधवार को भंग करने संबंधी अधिसूचना जारी किया.

Posted By: Samir Ranjan.

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें