1. home Hindi News
  2. state
  3. jharkhand
  4. ranchi
  5. jharkhand news palash brand provides market to the sisters of sakhi mandal aradhana patnaik said making rural women selfreliant is our priority smj

सखी मंडल की दीदियों को बाजार उपलब्ध कराता पलाश, आराधना पटनायक बोली- ग्रामीण महिलाओं को आत्मनिर्भर बनाना प्राथमिकता

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
पलाश मार्ट के उद्घाटन मौके पर ग्रामीण महिलाओं द्वारा तैयार सामानों को देखतीं सचिव आराधना पटनायक.
पलाश मार्ट के उद्घाटन मौके पर ग्रामीण महिलाओं द्वारा तैयार सामानों को देखतीं सचिव आराधना पटनायक.
सोशल मीडिया.

Jharkhand News, Ranchi News, रांची : झारखंड के ग्रामीण महिलाओं के उत्पादों को एक बाजार मिल रहा है. पलाश ब्रांड के तहत खेत के उत्पादों से लेकर बाजार तक सखी मंडल की दीदियों के लिए वैल्यू चेन एप्रोच में काम किया जा रहा है. सखी मंडल के उत्पादों को एक पहचान मिले और उनका ब्रांडिंग, पैकेजिंग एवं मार्केटिंग की समस्या को पलाश के जरिये दूर किया जा रहा है. उक्त बातें ग्रामीण विकास विभाग, झारखंड की सचिव आराधना पटनायक ने राज्य कार्यालय एवं सखी मंडल द्वारा निर्मित उत्पादों का मार्ट 'पलाश मार्ट' के उद्घाटन के दौरान कही.

रांची के हेहल स्थित एग्रीकल्चर मार्केटिंग बोर्ड भवन में पलाश मार्ट का उद्घाटन हुअा. NRLM, जोहार परियोजना, दीनदयाल उपाध्याय ग्रामीण कौशल योजना समेत अन्य राज्य संपोषित योजनाओं से जुड़े कार्य अब झारखंड स्टेट लाइवलीहुड प्रमोशन सोसाइटी के हेहल स्थित राज्य कार्यालय से संपन्न होंगे. ग्रामीण विकास सचिव आराधना पटनायक ने JSLPS के राज्य कार्यालय का मुआयना कर विभिन्न परियोजनाओं की प्रगति की जानकारी ली.

मौके पर श्रीमती पटनायक ने कहा कि पलाश ब्रांड के तहत किये जा रहे पहल आने वाले दिनों में मील का पत्थर साबित होगा. इस पहल के जरिये खेत के उत्पादों से लेकर बाजार तक दीदियों के लिए वैल्यू चेन एप्रोच में काम किया जा रहा है. सखी मंडल के उत्पादों को एक पहचान मिले, इसके लिए उनका ब्रांडिंग, पैकेजिंग एवं मार्केटिंग की समस्या को पलाश के जरिये दूर किया जा रहा है.

एमेजन, फ्लिपकार्ट एवं रिलायंस रिटेल से करें खरीदारी

उन्होंने कहा कि पलाश के उत्पाद लोगों को काफी पसंद आ रहे हैं एवं जल्द ही पलाश के उत्पाद की खरीददारी आप एमेजन, फ्लिपकार्ट एवं रिलायंस रिटेल से भी कर सकेंगे. इसके अलावा सरसों तेल, मड़ुआ का आटा एवं साबुन जैसे उत्पाद लोगों को काफी पसंद आ रहे हैं. गिरिडीह में दीदियां साबुन निर्माण में जुटी है, तो हजारीबाग में सरसों का तेल और पाकुड़ के पीवीटीजी परिवार लोबिया उत्पादन कर रही है. इन उत्पादों को पलाश ब्रांड के जरिये अब इन उत्पादों का उनको अच्छी कीमत मिल रही है. राज्य में पलाश अपनी पहचान स्थापित कर चुका है. आने वाले दिनों में पलाश राष्ट्रीय स्तर पर अपनी पहचान बनायेगा.

पलाश मार्ट से ग्रामीण महिलाओं की सशक्त होती आजीविका

हेहल स्थित JSLPS कार्यालय के ग्राउंड फ्लोर पर राज्य की ग्रामीण महिलाओं द्वारा निर्मित उत्पादों का बिक्री एवं प्रदर्शनी केंद्र पलाश मार्ट का शुभारंभ किया गया. पलाश मार्ट को सखी मंडल की बहनों के द्वारा चलाया जा रहा है. पलाश मार्ट के शुभारंभ के अवसर पर ग्रामीण विकास सचिव आराधना पटनायक ने ग्रामीण महिलाओं के ब्रांड पलाश की जमकर तारीफ की. उन्होंने मार्ट संचालक दीदियों को उत्पादों की गुणवत्ता पर विशेष ध्यान देने की बात कही, ताकि गुणवत्ता एवं शुद्धता पलाश उत्पादों की पहचान बन सके. पलाश मार्ट से ग्रामीण महिलाओं द्वारा उत्पादित आटा, चावल, हनी, मड़ुआ आटा, सरसो तेल, साबुन समेत 37 तरह के विभिन्न उत्पादों की खरीददारी आकर्षक मूल्य पर कर सकते हैं.

सखी मंडल की दीदियों को आत्मनिर्भर बनने के मिले टिप्स

JSLPS राज्य कार्यालय एवं पलाश मार्ट शुभारंभ के बाद ग्रामीण विकास सचिव ने JSLPS के पदाधिकारियों के साथ विभिन्न परियोजनाओं के क्रियान्वयन एवं प्रगति पर चर्चा की. इस दौरान श्रीमती पटनायक ने सखी मंडल से जुड़ी महिलाओं को आत्मनिर्भर बनाने के लक्ष्य के साथ कार्य करने का निदेश दिया. राज्य में अब तक 32 लाख परिवार सखी मंडल से जुड़े हुए हैं. श्रीमती पटनायक ने JSLPS टीम को संबोधित करते हुए कहा कि महिलाएं परिवार की रीढ़ होती है. उनको आत्मनिर्भर बनाने से हम पूरे परिवार को आत्मनिर्भर बना सकेंगे. इस अवसर पर JSLPS के सीईओ राजीव कुमार, सीओओ विष्णु चरण परिदा, प्रोजेक्ट डायरेक्टर जोहार बिपिन बिहारी समेत अन्य पदाधिकारी उपस्थित थे.

Posted By : Samir Ranjan.

Share Via :
Published Date
Comments (0)
metype

संबंधित खबरें

अन्य खबरें