1. home Hindi News
  2. state
  3. jharkhand
  4. ranchi
  5. jharkhand farmers news cycle e rickshaw and other facilities will get srn

झारखंड के किसानों को मिलेंगी साइकिल, ई-रिक्शा व अन्य सुविधाएं, जानें किन लोगों को दिया जाएगा इसका लाभ

झारखंड के किसानों को हार्वेस्ट एंड प्रिजर्वेशन इंफ्रास्ट्रक्चर विकास योजना तहत साइकिल ई-रिक्शा व छोटे-छोटे कोल्ड स्टोरेज दिये जाएंगे. इसका लाभ इ-नैम से निबंधित किसानों को ही दिया जायेगा.

By Prabhat Khabar Print Desk
Updated Date
किसानों को साइकिल व ई-रिक्शा देगी झारखंड सरकार
किसानों को साइकिल व ई-रिक्शा देगी झारखंड सरकार
Prabhat Khabar

कृषि विभाग के अधीन संचालित उद्यान निदेशालय किसानों को फल-सब्जी के प्रोसेसिंग व रख-रखाव के लिए छोटे-छोटे उपकरण देगी. पहली बार उद्यान निदेशालय किसानों के लिए पोस्ट हार्वेस्ट एंड प्रिजर्वेशन इंफ्रास्ट्रक्चर विकास योजना शुरू की है.

इसके लिए वित्त वर्ष 2021-22 में 11 करोड़ रुपये का प्रावधान किया गया था. राशि निकाल कर पीएल खाते में रखी गयी है. यह योजना चालू वित्तीय वर्ष में चलायी जायेगी. किसानों को साइकिल, ई-रिक्शा व छोटे-छोटे कोल्ड स्टोरेज भी दिये जायेंगे. इसका लाभ इ-नैम से निबंधित किसानों को ही दिया जायेगा.

तीन हजार किसानों को साइकिल देने की योजना :

इस स्कीम के तहत राज्य के 300 ग्रामीण बाजार में 10-10 किसानों को साइकिल दी जायेगी. एक साइकिल की कीमत पांच हजार रुपये होगी. इस पर डेढ़ करोड़ रुपये खर्च करने की योजना है. सभी साइकिल लेने वाले किसानों को दो-दो कार्ट (बख्शा) भी दिया जायेगा. 250 किसानों को बख्शा सहित ट्राइ साइकिल दिया जायेगा.

एक यूनिट की लागत 40 हजार रुपये होगी. इस पर एक करोड़ रुपये खर्च करने की योजना है. 250 किसानों को ई-रिक्शा देने की योजना भी उद्यान विभाग के पास है. इस पर 87 लाख रुपये सरकार खर्च करेगी. एक यूनिट की लागत दो लाख रुपये होगी. इसके लिए एक-एक हजार रुपये का 12 क्रेट (फल-सब्जी रखनेवाली टोकरी) भी ई-रिक्शाधारी को दिये जायेंगे.

10 एपीएमएसी मेंबनेगा कोल्ड रूम

उद्यान निदेशालय राज्य के 10 बाजार समिति (एपीएमसी) में कोल्ड रूम बनवायेगा. एक कोल्ड रूम की लागत 3.24 लाख रुपये होगी. इसी लागत का 10-10 कोल्ड रूम ग्रामीण हाटों में भी बनाया जायेगा. एक कोल्ड रूम में रखने के लिए 50 क्रेट दिये जायेंगे.

राज्य में 2.44 लाख किसान निबंधित हैं इ-नैम से

राज्य में इ-नैम से 2.44 लाख किसान निबंधित हैं. अधिक 29 हजार से अधिक किसान पाकुड़ में निबंधित हैं. सबसे कम किसान चाईबासा में निबंधित हैं.

बाजार समिति निबंधित किसान

बोकारो 13758

चाईबासा 2045

चाकुलिया 7540

डालटनगंज 15857

देवघर 6165

धनबाद 22863

दुमका 3830

गढवा 16481

गिरिडीह 15262

गुमला 8668

हजारीबाग 28759

जमशेदपुर 8857

कोडरमा 13338

लोहरदगा 10421

पाकुड़ 29393

रांची 15452

रामगढ़ 11051

साहिबगंज 4437

सिमडेगा 10444

Posted By: Sameer Oraon

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें