1. home Hindi News
  2. state
  3. jharkhand
  4. ranchi
  5. international womens day 2021 on the eve of womens day the organization paradise took care of the helpless women of nari niketan kanke ranchi jharkhand will help three shelter homes grj

International Women's Day 2021 : अंतरराष्ट्रीय महिला दिवस की पूर्व संध्या पर संस्था पैराडाइज ने ली नारी निकेतन की असहाय महिलाओं की सुध, तीन आश्रय गृहों को करेगी मदद

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
International Women's Day 2021 : नारी निकेतन को मदद सामग्री देते संस्था पैराडाइज के सदस्य
International Women's Day 2021 : नारी निकेतन को मदद सामग्री देते संस्था पैराडाइज के सदस्य
प्रभात खबर

International Women's Day 2021, Jharkhand News, रांची न्यूज : अंतरराष्ट्रीय महिला दिवस की पूर्व संध्या यानी आज रविवार को संस्था पैराडाइज रांची के 3 आश्रय घरों को अगले 3 महीने के लिए आवश्यक सहायता प्रदान करेगी. आज इसकी शुरुआत की गयी. इन तीन आश्रय घरों में स्नेहाश्रम, बालश्रम और प्रेमाश्रम शामिल हैं.

समाज और परिवार द्वारा तिरस्कृत, बेसहारा, एकल और कभी-कभी गर्भवती महिलाओं एवं किशोरियों के लिए रांची के कांके का स्नेहाश्रम (नारी निकेतन) एक ऐसा ठिकाना है, जहां उन्हें अल्पकालीन निवास एवं भोजन मुहैया कराया जाता है. सरकार द्वारा भवन का निर्माण करा दिया गया है, लेकिन राशि के अनियमित भुगतान के कारण पेरशानी हो रही है. अब इसमें संस्था मदद कर रही है.

भोली-भाली महिलाएं अक्सर मानव तस्करी के चंगुल में फंस कर शारीरिक शोषण की शिकार हो जाती हैं और पुलिस द्वारा उन्हें वापस लाकर नारी निकेतन में ही रखा जाता है, ताकि इनके घर वाले इनसे संपर्क कर सकें. झारखंड के ग्रामीण इलाकों में आदिवासी युवतियां अक्सर इन मानव तस्करों के जाल में फंस जाती हैं. वर्तमान में इस नारी निकेतन की क्षमता लगभग 25-30 महिलाओं की है और यहाँ अभी 2 बच्चे भी रह रहे हैं.

संस्था पैराडाइज द्वारा नारी निकेतन में जरूरी मरम्मत कार्य के अलावा उन्हें रोजमर्रा की चीजें (राशन, कपड़े, दवाइयां इत्यादि) उचित मात्रा में उपलब्ध करायी जा रही हैं. इसमें परियोजना की कुल लागत लगभग 1,75,000 रुपए है.

संस्था पैराडाइज मई 2019 में समान विचारधारा वाले दोस्तों द्वारा स्थापित है. गरीबों को राहत देने, चिकित्सा राहत, शिक्षा और सामान्य सार्वजनिक उपयोगिता की किसी भी अन्य वस्तु की उन्नति के लिए काम करता है, धर्म, जाति, रंग, पंथ, या लिंग भेद के बिना.

Posted By : Guru Swarup Mishra

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें