29.1 C
Ranchi

BREAKING NEWS

Advertisement

झारखंड के पलामू टाइगर रिजर्व में फिर दिखा बाघ, वन विभाग ने जारी किया अलर्ट

छह माह पहले बाघ को पलामू टाइगर रिजर्व के कुटकू प्रक्षेत्र में देखा गया था. इस बार सुरक्षा सहित अन्य कारणों को देखते हुए बाघ के देखे जाने वाले स्थान का खुलासा नहीं किया जा रहा है. बेतला के जंगल में विचरण कर रहे बाघ की तस्वीर लेने के लिए एक दर्जन से अधिक कैमरा ट्रैप लगाए गए हैं.

बेतला (पलामू), संतोष कुमार : झारखंड के पलामू टाइगर रिजर्व (पीटीआर) में एक बार फिर बाघ देखा गया है. पीटीआर के उत्तरी प्रमंडल में ट्रैकर गार्ड व ग्रामीणों ने बाघ को देखा है. बाघ देखे जाने की सूचना मिलने के बाद वन विभाग की टीम वहां पहुंची और बाघ के पग मार्क, स्टेट (मल) व बाघ के बाल बरामद किए. वन विभाग की टीम को अलग-अलग जगहों पर गायों के अवशेष भी मिले हैं. माना जा रहा है कि उसी बाघ ने इन गायों का शिकार किया है. पीटीआर के डायरेक्टर कुमार आशुतोष ने बाघ को देखे जाने की पुष्टि की है. उन्होंने कहा है कि बाघ की सभी गतिविधियों पर विशेष नजर रखी जा रही है. बाघ दिखने के साथ ही एक बार फिर से पलामू टाइगर रिजर्व के पदाधिकारियों में खुशी की लहर है. करीब छह माह पहले बाघ को पलामू टाइगर रिजर्व के कुटकू प्रक्षेत्र में देखा गया था. इस बार सुरक्षा सहित अन्य कारणों को देखते हुए बाघ के देखे जाने वाले स्थान का खुलासा नहीं किया जा रहा है. बेतला के जंगल में विचरण कर रहे बाघ की तस्वीर लेने के लिए एक दर्जन से अधिक कैमरा ट्रैप लगाए गए हैं.

बाघ के बाल की देहरादून में होगी जांच

विभागीय पदाधिकारी का कहना है कि स्केट व बाल को जांच के लिए वाइल्डलाइफ इंस्टीट्यूट ऑफ देहरादून भेज दिया गया है. बाघ देखे जाने वाले स्थल पर डिप्टी डायरेक्टर प्रजेश कांत जेना सहित अन्य टीम के लोग पहुंचे और सर्च अभियान चलाकर पग मार्क का लोकेशन हासिल किया. प्लास्टर ऑफ पेरिस के जरिए पागमार्क को अंकित किया गया. बाघ के पग मार्क खोजने के लिए टीम के लोगों को पूरी सतर्कता के साथ काम करने का निर्देश दिया गया था. अधिकारियों ने उम्मीद जतायी है कि बाघ आसपास के ही इलाके में मौजूद है.

पीटीआर में वन्य प्राणियों की गतिविधियों पर नजर

अधिकारियों ने बाघ की सभी गतिविधियों पर नजर रखने के निर्देश दिए हैं. साथ ही वन विभाग के ट्रैकर गार्ड सहित अन्य वनकर्मियों को अलर्ट कर दिया गया है. इस बात का भी पता लगाने का निर्देश दिया गया है कि पिछली बार जो बाघ इस अभ्यारण्य में देखा गया था, कहीं वही बाघ तो फिर से नहीं दिखा है.

Also Read: तीन साल बाद पलामू टाइगर रिजर्व में दिखा बाघ, डिप्टी डायरेक्टर ने खुद खींची तस्वीर, बढ़ी चौकसी

क्या कहते हैं पीटीआर डायरेक्टर

पलामू टाइगर रिजर्व के डायरेक्टर कुमार आशुतोष ने कहा कि बाघ दिखने के साथ ही कैमरा ट्रैप लगाकर उसकी तस्वीर लेने का प्रयास किया जा रहा है. वहीं, पूरे इलाके में बाघ सहित अन्य वन्य प्राणियों की गतिविधियों पर नजर रखी जा रही है. सुरक्षा सहित अन्य कारणों के कारण जिस जगह बाघ देखा गया है, उस जगह का खुलासा नहीं किया जा सकता.

Also Read: खुशखबरी! पलामू टाइगर रिजर्व में लंबे अरसे बाद दिखा बाघ, हाई अलर्ट जारी, आप भी देखें PHOTO

Prabhat Khabar App :

देश, एजुकेशन, मनोरंजन, बिजनेस अपडेट, धर्म, क्रिकेट, राशिफल की ताजा खबरें पढ़ें यहां. रोजाना की ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज कवरेज के लिए डाउनलोड करिए

Advertisement

अन्य खबरें