1. home Hindi News
  2. state
  3. jharkhand
  4. palamu
  5. panki remained closed on the appeals of businessmen annoyed by the functioning of the police movement ended at the initiative of mla smj

पुलिस की कार्यशैली से नाराज व्यवसायियों की अपील पर बंद रहा पांकी, विधायक के पहल पर खत्म हुआ आंदोलन

By Prabhat khabar Digital
Updated Date

व्यवसायियों पर लाठीचार्ज के खिलाफ  पांकी रहा बंद. विधायक की पहल पर आंदोलन हुआ खत्म.
व्यवसायियों पर लाठीचार्ज के खिलाफ पांकी रहा बंद. विधायक की पहल पर आंदोलन हुआ खत्म.
प्रभात खबर.

Jharkhand News (पांकी-पलामू) : झारखंड के पलामू जिला अंतर्गत पांकी के व्यवसायी पुलिसिया व्यवहार से खफा हैं. पुलिस की कार्यशैली से नाराज व्यवसायियों के आह्वान पर रविवार को पांकी बंद रहा. विधायक डाॅ शशिभूषण मेहता की पहल पर व्यवसायी और पुलिस प्रशासन के बीच वार्ता हुई जिससे संतुष्ट होकर व्यवसायियों ने अनिश्चितकालीन बंद को वापस लेने का ऐलान किया. बताया गया कि सोमवार से स्वास्थ्य सुरक्षा सप्ताह के नियमों का अनुपालन करते हुए फिर से दुकान खुलेगा.

मालूम हो शनिवार को कोविड नियमों के अनुपालन को लेकर पुलिस पांकी बाजार क्षेत्र का भ्रमण कर रही थी. आरोप है कि इसी दौरान पुलिस अकारण व्यवसायियों से उलझ गयी. इस दौरान पुलिस ने व्यवसायियों पर लाठी भी चलाया. जिसका वीडियो भी वायरल हुआ. लोगों को गुस्सा पांकी थाना प्रभारी पवन कुमार के प्रति था. लोगो का कहना था कि इस तरह यह पहला मामला नहीं है. इसके पूर्व भी पांकी थाना प्रभारी श्री कुमार पर व्यवसायियों के साथ बदसूलकी करने का आरोप लगा था.

इस बीच फिर से एक बार वैसी घटना की पुनरावृत्ति हो गयी. इससे व्यवसायी काफी खफा थे. व्यवसायियों ने इस पूरे मामले की जानकारी विधायक डाॅ शशिभूषण मेहता को दी. सूचना मिलने पर विधायक डाॅ मेहता पांकी पहुंचे. पलामू चेंबर ऑफ कॉमर्स एंड इंडस्ट्रीज के पांकी इकाई के पदधारियों के साथ-साथ प्रशासनिक पदाधिकारियों की बैठक बुलायी गयी.

बैठक में दोनों पक्षों को सुनने के बाद विधायक डाॅ मेहता ने कहा कि पुलिस और आमजनों के बीच मित्रवत व्यवहार रहना चाहिए. नियमों का हवाला देकर व्यवसायी और आमजनों को परेशान करने की कार्यशैली किसी दृष्टिकोण से उचित नहीं है. विधायक ने पुलिस के पदाधिकारियों को कहा कि इस तरह की घटना की पुनरावृत्ति न हो इसे सुनिश्चित करायें.

विधायक ने कहा कि पुलिस अपराधियों के लिए कालदूत बने और आमजनों के लिए देवदूत की तरह काम करे तभी समाज के अंदर एक बेहतर वातावरण तैयार होगा. यदि पुलिस की छवि को लेकर आमजनों के मन में गलत धारणा बैठ जायेगी, तो फिर आखिर मित्रवत व्यवहार कैस कायम होगा? इसलिए पुलिस को कोई भी ऐसा काम नहीं करना चाहिए जिससे पुलिस के प्रति आमजनों के मन में आक्रोश पैदा हो.

बैठक में मौजूद डीएसपी अनूप बडाईक ने विधायक डाॅ मेहता को भरोसा दिलाया कि आगे से ऐसी घटना की पुनरावृत्ति नहीं होगी. वहीं, थाना प्रभारी पवन कुमार का कहना है आमजनों को परेशान करने का इरादा नहीं था. पुलिस समझाने का प्रयास कर रही थी कि कोविड से बचाव के लिए मास्क और सोशल डिस्टैंसिंग जरूरी है. इस बात को लेकर नोक-झोंक हो गयी. इसी बीच कुछ पुलिसकर्मियो ने भीड हटाने के उद्देश्य से लाठी भांजी थी. आगे से ऐसा न हो इसका पूरा ख्याल रखा जायेगा.

बैठक के बाद विधायक डाॅ मेहता ने कहा सोमवार से पांकी की दुकान खुलेंगी. पांकी थाना प्रभारी के खिलाफ आमजनों ने उनके समक्ष जो शिकायत दर्ज करायी है उससे पलामू के पुलिस अधीक्षक संजीव कुमार को भी अवगत कराया जायेगा.

Posted By : Samir Ranjan.

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें