25.1 C
Ranchi

BREAKING NEWS

Advertisement

Jharkhand Weather: आंधी-तूफान के साथ मूसलाधार बारिश, ओलावृष्टि से फसलें बर्बाद, करीब 5 लाख रुपये का नुकसान

किसानों तथा ग्रामीणों ने अंचल प्रशासन से मुआवजे की मांग की है. सीओ प्रवीण कुमार सिंह ने बताया कि ओलावृष्टि से प्रभावित किसानों को सरकारी प्रावधान के तहत मुआवजा दिया जायेगा. किसान आवेदन जमा करें. जांच के बाद जिला प्रशासन को आवेदन भेजा जायेगा.

कुड़ू (लोहरदगा), अमित कुमार राज. झारखंड के लोहरदगा जिले के कुड़ू प्रखंड के पश्चिमी क्षेत्र में आई आंधी-तूफान एवं ओलावृष्टि से फसलों को भारी नुकसान हुआ है. खेतों में तैयार मटर, खीरा, टमाटर, धनिया पत्ती,पालक साग से लेकर विभिन्न प्रकार की साग-सब्जियों व फसलों को काफी नुकसान पहुंचा है. तेज आंधी के कारण कोलसिमरी में शिव मंदिर के ऊपर एक पेड़ गिर गया. इससे मंदिर का गुंबद तथा छज्जा क्षतिग्रस्त हो गया है. ओलावृष्टि से किसानों को भारी क्षति हुई है. करीब पांच लाख रुपये का नुकसान पहुंचा है. प्रभावित किसानों ने मुआवजे की मांग की है.

ओलावृष्टि से फसलों को भारी नुकसान

बताया जा रहा है कि प्रखंड की पश्चिमी क्षेत्र सलगी तथ बड़की चांपी पंचायत में अचानक तेज आंधी के साथ मूसलाधार बरिश तथा ओलावृष्टि शुरू हो गयी. लगभग आधा घंटा तक ओलावृष्टि हुई. बड़की चांपी पंचायत को छोटकी चांपी, ओपा, जरियो तथा अन्य क्षेत्रों में सुंदरू पंचायत के सुकुमार, सरनाटोली, सलगी पंचायत के कुछ क्षेत्रों में ओलावृष्टि से खेतों में लगी धनिया पत्ती, पालक साग, खीरा, कद्दू, टमाटर, फूलगोभी, बंदागोभी, मटर, मिर्च, शिमला मिर्च तथा अन्य फसलों को भारी नुकसान हुआ है. छोटकी चांपी के किसान बबलू महतो के खेत में तैयार मटर की फसल क्षतिग्रस्त हो गयी. उन्होंने बताया कि लगभग एक एकड़ में मटर लगाया था. शनिवार को मटर तोड़ना था. इसी बीच शुक्रवार शाम को ओलावृष्टि के बाद पूरी फसल बर्बाद हो गयी. ओलावृष्टि से लगभग एक लाख रुपए का नुकसान हुआ है.

Also Read: झारखंड में कब तक होती रहेगी बारिश? आज यहां हैं बारिश के आसार, वज्रपात की आशंका, येलो अलर्ट जारी

प्रभावित किसानों को मिलेगा मुआवजा

दूसरी तरफ छोटकी चांपी के किसान तकिम अंसारी, रामनाथ उरांव, ताजीम अंसारी, इदरीश अंसारी, शमशेर अंसारी, जग्गू उरांव, तबारक अंसारी एवं लाल प्रभाकर नाथ शाहदेव के खेत में लगी धनिया पत्ती, पालक साग, खीरा को काफी नुकसान पहुंचा. किसानों ने बताया कि ओलावृष्टि के कारण छोटकी चांपी, सुकुमार, ओपा तथा बड़की चांपी में करीब पांच लाख रुपए का नुकसान हुआ है. दूसरी तरफ कोलसिमरी गांव स्थित शिव मंदिर के उपर विशाल पेड़ गिर गया. इससे मंदिर का गुंबद तथा छज्जा क्षतिग्रस्त हो गया है. कुड़ू में तारा लायक के मकान का एस्बेस्टस उड़ गया. आंधी-पानी के कारण प्रखंड में लगभग दो दर्जन से अधिक पेड़ धराशायी हो गये. आंधी के कारण आम के मंजर को नुकसान पहुंचा है. किसानों तथा ग्रामीणों ने अंचल प्रशासन से मुआवजे की मांग की है. सीओ प्रवीण कुमार सिंह ने बताया कि ओलावृष्टि से प्रभावित किसानों को सरकारी प्रावधान के तहत मुआवजा दिया जायेगा. किसान आवेदन जमा करें. जांच के बाद जिला प्रशासन को आवेदन भेजा जायेगा.

Prabhat Khabar App :

देश, एजुकेशन, मनोरंजन, बिजनेस अपडेट, धर्म, क्रिकेट, राशिफल की ताजा खबरें पढ़ें यहां. रोजाना की ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज कवरेज के लिए डाउनलोड करिए

Advertisement

अन्य खबरें

ऐप पर पढें