1. home Hindi News
  2. state
  3. jharkhand
  4. jamshedpur
  5. tata steel jamshedpur recruitment 2022 when the employee son will be appointed this is the update srn

टाटा स्टील में सफल आश्रित अभ्यर्थियों की कब होगी नियुक्ति, ये है अपडेट, 500 लोगों की होनी है बहाली

टाटा स्टील में कार्यरत आश्रित बहाली परीक्षा के सफल अभ्यर्थियों की नियुक्ति 16 मई से आरंभ होगी. 500 रिक्तियों के लिए परीक्षा छह मार्च को ली गयी थी. इस बार की नियुक्ति में कई बड़े बदलाव देखने को मिलेंगे

By Sameer Oraon
Updated Date
टाटा स्टील में सफल आश्रित अभ्यर्थियों की नियुक्ति 16 मई से शुरू होगी
टाटा स्टील में सफल आश्रित अभ्यर्थियों की नियुक्ति 16 मई से शुरू होगी
फाइल फोटो

जमशेदपुर: टाटा स्टील निबंधित कर्मचारी आश्रित बहाली परीक्षा के सफल अभ्यर्थियों की नियुक्ति 16 मई से आरंभ होगी. वहीं इस सप्ताह में मेडिकल की प्रक्रिया शुरू हो जायेगी. टाटा स्टील में पहली बार निबंधित कर्मचारी मैट्रिक पास आश्रितों की नियुक्ति दक्षता व डिग्री के आधार पर हो रही है. नियुक्त होने वाले अभ्यर्थी सीधे एनएस 7 ग्रेड में बहाल हो सकेंगे. 2010 तक हुई इन बहालियों में सभी की नियुक्ति एनएस 1 में होती थी.

वैसे अभ्यर्थियों को पदोन्नति के लिए 5 से 10 साल तक इंतजार करना पड़ता था, जो डिप्लोमा, इंजीनियरिंग कर के आते थे. अब ऐसे अभ्यर्थियों को सीधे एनएस 7 ग्रेड में नियुक्त होने का अवसर मिलेगा. बुधवार को टाटा स्टील वीपी एचआरएम अत्रेयी सान्याल, चीफ ग्रुप एचआर जुबिन पालिया, चीफ आइआर एंड रिवार्ड राहुल दुबे, और टाटा वर्कर्स यूनियन से अध्यक्ष संजीव कुमार चौधरी, महामंत्री सतीश सिंह व डिप्टी प्रेसिडेंट शैलेश कुमार सिंह की उपस्थिति में समझौते पर हस्ताक्षर किया गया.

500 सफल अभ्यर्थियों की ऐसे होगी नियुक्ति

बहाली के लिए पूर्व से तय 500 रिक्तियों के लिए परीक्षा छह मार्च को ली गयी थी. समझौता के अनुसार 500 अभ्यर्थियों की नियुक्ति अगले तीन साल में होगी. इसमें पहले साल (2022) 175, दूसरे साल (2023) में 175 और 2024 में अंतिम 150 सफल अभ्यर्थियों को नियुक्त किया गया. नियुक्ति उम्र के आधार पर होने का समझौता है. पहले साल निर्धारित अधिकतम उम्र 42 से 32.6 साल आयु वाले अभ्यर्थियों को नियुक्त किया जायेगा. वहीं दूसरे साल उम्र 32.6 से 26.6 साल आयु के और 26.6 से नीचे (18) आयु वाले सफल अभ्यर्थियों को नियुक्त किया जायेगा.

जनरल को दो श्रेणी में रखा गया

गैर इंजीनियरिंग और गैर आइटीआइ, अप्रेंटिस अभ्यर्थियों को दो श्रेणी में रखा गया है. मैट्रिक पास स्तर पर हुई परीक्षा में सफल अभ्यर्थी अगर इंटर तक या स्नातक में साइंस विषय से पढ़ाई किये हैं तो उन्हें तीन माह का फाउंडेशन ट्रेनिंग और दो साल की प्लांट ट्रेनिंग दी जायेगी. उसके ये अभ्यर्थी एनएस 4 ग्रेड में नियुक्त होंगे. वहीं अन्य यानी मैट्रिक पास या कॉमर्स, आर्ट्स से इंटर, स्नातक करने वाले अभ्यर्थियों का तीन माह का फाउंडेशन कोर्स और एक साल की प्लांट ट्रेनिंग व परीक्षा के बाद एनएस 4 ग्रेड में नियुक्ति होगी.

Posted By: Sameer Oraon

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें