1. home Hindi News
  2. state
  3. jharkhand
  4. jamshedpur
  5. tata steel employees get money 23554 crore bonus in tata steel know how much bonus prt

Tata Steel : टाटा स्टील में 235.54 करोड़ बोनस, 7935.89 करोड़ का हुआ मुनाफा, जानिये कर्मचारियों को कितना मिलेगा बोनस

By Prabhat Khabar Print Desk
Updated Date
टाटा स्टील में 235.54 करोड़ बोनस
टाटा स्टील में 235.54 करोड़ बोनस
Prabhat Khabar

जमशेदपुर : टाटा स्टील में सोमवार को बोनस समझौता हुआ. 235.54 करोड़ रुपये बतौर बाेनस कंपनी के कुल 24,074 कर्मचारियों के बीच बांटे जायेंगे. इसमें जमशेदपुर यूनिट के साथ ट्यूब डिवीजन के 12,807 कर्मचारियों को 142.05 करोड़ रुपये मिलेंगे. बाकी के 93.49 करोड़ रुपये कलिंगानगर प्लांट, मार्केटिंग एंड सेल्स, नोवामुंडी, जामाडोबा, झरिया और बोकारो माइंस के 11,267 कर्मचरियों के बीच बांटे जायेंगे.

कर्मचारियों को न्यूनतम 26,839 रुपये और अधिकतम 3,01,402 रुपये मिलेंगे. बोनस पहले से तय फॉर्मूला के आधार पर दिया गया है. बोनस समझौते पर टाटा स्टील के एमडी सह ग्लोबल सीइओ टीवी नरेंद्रन और टाटा वर्कर्स यूनियन के अध्यक्ष आर रवि ने हस्ताक्षर किये. पिछले साल की तुलना में इस बार कुल बोनस की राशि में करीब 4 करोड़ रुपये कम हैं, लेकिन कर्मचारियों के खाते में अधिक रकम जायेगी.

खास बातें

  • जमशेदपुर यूनिट के साथ ट्यूब डिवीजन के 12,807 कर्मियों को 142.05 करोड़ रुपये मिलेंगे

  • पिछले साल से 4 करोड़ रुपये कम बोनस, लेकिन कर्मचारियों के खाते में जायेगी ज्यादा रकम

  • ग्रेड रिवीजन के अनुसार बढ़े बेसिक डीए व एरियर को लेकर कर्मियों को पिछली बार से अधिक रकम मिलेगी

क्योंकि ग्रेड रिवीजन के अनुसार बढ़ी बेसिक, डीए और उसके 18 माह के एरियर की राशि के साथ इस बार बोनस की राशि पिछले बार से ज्यादा होगी. प्रतिशत के अनुसार अगर बोनस की बात करें, तो पिछले साल 15.6 प्रतिशत बोनस हुआ था. इस साल 12.9 प्रतिशत है, जो 2.7 प्रतिशत कम है. बावजूद इसके कर्मचारियों को कुल राशि में लाभ होने वाला है. पिछली बार अधिकतम बोनस की राशि जहां 2.36 लाख रुपये थी, वहीं इस बार यह 3.01 लाख रुपये है. बोनस भले ही तय फॉर्मूला पर तय किया गया हो, लेकिन इस कोरोना काल में इस तरह के समझौता का होना सभी बेहतर बता रहे है.

टाटा स्टील के बोनस समझौता में ऐसा पहली बार हुआ है जब बगैर तीन-चार बैठक, शोर-शराबा, हंगामा के ही बोनस समझौता हो गया. प्रबंधन और यूनियन के तमाम पदाधिकारियों ने बोनस को संतोषजनक व बेहतर बताया है. बोनस समझौता के दौरान प्रबंधन की ओर से प्रबंध निदेशक टीवी नरेंद्रन, वीपी एचआरएम सुरेश दत्त त्रिपाठी, चीफ अत्रेयी सरकार, जुबिन पालिया, यूनियन से आर रवि प्रसाद, सतीश सिंह, अरविंद पांडेय, प्रभात लाल, शाहनवाज आलम, भगवान सिंह, हरिशंकर सिंह, शत्रुघ्न कुमार राय, नितेश राज, धर्मेंद्र उपाध्याय व कमलेश सिंह ने हस्ताक्षर किये.

बोनस को ऐसे समझें

टाटा स्टील के कर्मचारियों को इस साल 235.54 करोड़ रुपये बोनस मिलेगा. इसमें जमशेदपुर यूनिट के साथ ट्यूब डिवीजन के 12,807 कर्मचारियों के बीच 142.05 करोड़ रुपये बंटेंगे. इस वर्ष कर्मचारियों को ग्रेड रिवीजन के एरियर की राशि पर भी बोनस दिया गया है. जमशेदपुर यूनिट व ट्यूब डिवीजन के कर्मचारियों को इस वर्ष एरियर की राशि पर 212.71 करोड़ रुपये और वित्तीय वर्ष 2019-20 के वार्षिक बेसिक और डीए पर वार्षिक बोनस 888.13 करोड़ रुपये है. दोनों को मिलाकर 1100.83 करोड़ रुपये बोनेसेबल राशि मिलेगी. यूं तो टाटा स्टील में प्रतिशत के आधार पर बोनस नहीं मिलता है. फार्मूला के आधार पर गणना की गयी राशि का भुगतान किया जाता है.

हालांकि, कर्मचारी अपने बेसिक व डीए के आधार पर प्रतिशत की गणना कर लेते हैं. इसके अनुसार वार्षिक बोनस की राशि 888.13 करोड़ के आधार पर 15.99 प्रतिशत और एरियर को मिलाकर कुल राशि 1100.84 करोड़ रुपये के आधार पर 12.9 प्रतिशत बोनस होता है. हालांकि, पूरे टाटा स्टील के लिए बोनेसेबल 1825.37 करोड़ रुपये है, जिसमें जमशेदपुर व ट्यूब डिवीजन के लिए 1100.84 करोड़ रुपये शामिल है. इस वर्ष एनएस ग्रेड के कर्मचारियों को न्यूनतम 26,839 रुपये और अधिकतम 84,496 रुपये मिलेंगे. ओल्ड ग्रेड में औसत 1,10,914 व अधिकतम 3,01,402 रुपये बोनस मिलेगा.

पिछले वर्ष 239.61 करोड़ रुपये बोनस मिला था, जिसमें जमशेदपुर व ट्यूब डिवीजन के 13,675 कर्मचारियों के बीच 131.22 करोड़ की राशि बंटी थी, जो प्रतिशत में गणना के आधार पर 15.86 प्रतिशत था. एनएस ग्रेड के कर्मचारियों को न्यूनतम 34,764 रुपये व अधिकतम 63,945 रुपये मिले थे. पिछले वर्ष कुल बोनेसेबुल राशि 1510.67 करोड़ रुपये थी. पिछले वर्ष 24 सितंबर को बोनस समझौता हुआ था और बोनस की राशि 26 सितंबर तक कर्मचारियों के बैंक खाते में भेज दी गयी थी.

इस साल बोनस की राशि

  • टाटा स्टील का मुनाफा 7935.89 करोड़

  • बोनस में दी गयी राशि 119.04 करोड़

  • प्रोफिटेबिलिटी

  • 6162 रु. प्रति टन

  • बोनस में दी गयी राशि 41.5 करोड़

  • उत्पादकता 546 प्रति टन

  • बोनस में दी गयी राशि 75 करोड़

  • सेफ्टी : जीरो

पिछले साल कितना मिला था बोनस

  • टाटा स्टील का मुनाफा 8207 करोड़

  • बोनस में दी गयी राशि 123.11 करोड़

  • प्रोफिटेबिलिटी 6323 रु. प्रति टन

  • बोनस में दी गयी राशि 41.5 करोड़

  • उत्पादकता 528 प्रति टन

  • बोनस में दी गयी राशि 70 करोड़

अधिकतम 03 लाख न्यूनतम 26 हजार

  • पिछली बार अधिकतम बोनस की राशि जहां 2.36 लाख रुपये थी, वहीं इस बार यह 3.01 लाख रुपये है

  • पिछले साल 15.6 प्रतिशत बोनस हुआ था. इस साल 12.9 प्रतिशत है, जो 2.7 प्रतिशत कम है

  • बोनस की राशि कितनी इस साल बंटेगी

  • जमशेदपुर में कर्मचारी : 12,807

  • कुल बोनस (बोनेसेबल एमाउंट) जिसके आधार पर बोनस दिया 1825.37 करोड़

  • कुल बोनस की राशि 235.54 करोड़

  • कुल बोनस की राशि जो जमशेदपुर में बंटेगी 142.05 करोड़

  • कुल बोनेसेबल अमाउंट सिर्फ जमशेदपुर टाटा स्टील और ट्यूब डिवीजन मिलाकर 1100.84 करोड़

  • औसतन बोनस की राशि जमशेदपुर के साथ ट्यूब डिवीजन में 1,10,914

किसे कितना मिलेगा बोनस

  • अधिकतम हाजिरी वाले मजदूर जो ओल्ड ग्रेड के कर्मचारी है, उसको कितना बोनस मिलेगा 3,01,402

  • एनएस ग्रेड के सबसे ज्यादा हाजिरी वाले कर्मचारी का बोनस की राशि 84,496

Post by : Pritish Sahay

Share Via :
Published Date
Comments (0)
metype

संबंधित खबरें

अन्य खबरें