1. home Hindi News
  2. state
  3. jharkhand
  4. jamshedpur
  5. good news for pregnant women employees of tata steel now online leave know how smj

टाटा स्टील की गर्भवती महिला कर्मियों के लिए खुशखबरी, अब ऑनलाइन मिलेगी छुट्टी, जानिए कैसे

टाटा स्टील में कार्यरत गर्भवती महिला कर्मियों के लिए अच्छी खबर है. अब इन कर्मियों के लिए कंपनी के डॉक्टर के ही सर्टिफिकेट की अनिवार्यता खत्म कर दी गयी है. वहीं, मैनेजर के पास जाने की जगह ऑनलाइन भेजे आवेदन पर भी स्वीकृति मिल सकती है.

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
Jharkhand news: टाटा स्टील में कार्यरत गर्भवती महिला कर्मियों को अब ऑनलाइन आवेदन पर मिलेगी छुट्टी.
Jharkhand news: टाटा स्टील में कार्यरत गर्भवती महिला कर्मियों को अब ऑनलाइन आवेदन पर मिलेगी छुट्टी.
प्रभात खबर.

Jharkhand News: टाटा स्टील (Tata Steel) में कार्यरत गर्भवती महिला कर्मियों के लिए खुशखबरी है. इन गर्भवती महिला कर्मियों के लिए कंपनी के डॉक्टर का ही सर्टिफिकेट होने की अनिवार्यता खत्म कर दी गयी है. अब इन गर्भवती महिला कर्मचारी मान्य सुविधा के लिए ऑनलाइन आवेदन कर सकेंगी.

कपनी के डॉक्टर का ही सर्टिफिकेट होने की अनिवार्यता खत्म

टाटा स्टील कंपनी ने सर्कुलर जारी कर बताया कि मातृत्व अवकाश, अवकाश की अवधि बढ़ाने, गर्भपात की स्थिति में मिलने वाली अवकाश के प्रावधान में महिला कर्मचारियों को राहत दी गयी है. महिला कर्मी ऐसी स्थिति में छुट्टी का आवेदन ऑनलाइन डॉक्टर के सर्टिफिकेट के साथ अपलोड कर सकेंगी. इसमें कंपनी के डॉक्टर का ही सर्टिफिकेट होने की अनिवार्यता खत्म कर दी गयी है.

अब मैनेजर के पास जाने की जरूरत नहीं

अब आवेदन की स्वीकृति के लिए मैनेजर के पास जाने की जरूरत नहीं होगी. उसे ऑनलाइन ही स्वीकार कर दिया जाएगा. बता दें कि पूर्व में ऑफलाइन में प्रक्रिया पूरी होती थी. लेकिन, अब ऑनलाइन आवेदन भेजने से गर्भवती महिला कर्मियों को काफी राहत मिलेगी.

फैमिली सिक्योरिटी स्कीम और सैलरी करेक्शन का उठा मुद्दा

दूसरी ओर टाटा ब्लूस्कोप इम्प्लाइज यूनियन की ओर से आयोजित कमेटी मीटिंग में प्रोडक्शन इंसेटिव को जल्द से जल्द चालू करने का मामला छाया रहा. कमेटी मेंबरों ने फैमिली सिक्योरिटी स्कीम बनाने और सैलरी करेक्शन के मुद्दे को उठाया. इसके अलावा टीएमएच की सुविधा जल्द से जल्द उपलब्ध कराने, वेज रिवीजन के बचे हुए दो लंबित बिंदुओं को जल्द लागू करने एवं मेडिकल बोर्ड के लिमिट को बढ़ाने का मामला छाया रहा. साथ ही कमेटी मीटिंग में प्रोडक्शन इंसेटिव को जल्द से जल्द चालू कराने का मामला छाया रहा. इस संबंध में यूनियन अध्यक्ष राकेश्वर पांडये ने सभी बिंदुओं पर प्रबंधन के समक्ष कर उचित पहल करने की बात कही.

Posted By: Samir Ranjan.

Prabhat Khabar App :

देश-दुनिया, बॉलीवुड न्यूज, बिजनेस अपडेट, मोबाइल, गैजेट, क्रिकेट की ताजा खबरें पढ़ें यहां. रोजाना की ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज कवरेज के लिए डाउनलोड करिए

googleplayiosstore
Follow us on Social Media
  • Facebookicon
  • Twitter
  • Instgram
  • youtube

संबंधित खबरें

Share Via :
Published Date

अन्य खबरें