15.1 C
Ranchi
Friday, February 23, 2024

BREAKING NEWS

Trending Tags:

Homeझारखण्डजमशेदपुरश्रीरामलला की प्राण प्रतिष्ठा को लेकर जमशेदपुर में उत्साह, पूजन सामग्रियों की बढ़ी मांग

श्रीरामलला की प्राण प्रतिष्ठा को लेकर जमशेदपुर में उत्साह, पूजन सामग्रियों की बढ़ी मांग

काशीडीह, सोनारी, मानगो सहित हर कुम्हारपाड़े में मिट्टी के दीये की मांग बढ़ गयी है. सोनारी कुम्हारपाड़ा के रामचंद्र प्रजापति बताते हैं कि यह दूसरी दीपावली है. दीये की मांग बहुत ज्यादा है. उस हिसाब से वे लोग दीया तैयार नहीं कर पा रहे.

Jamshedpur News: अयोध्या में 22 जनवरी को श्रीरामलला के प्राण प्रतिष्ठा समारोह को लेकर घर-घर अक्षत आमंत्रण दिये जाने से उत्साह चरम पर है. लग रहा है जैसे अभी से जमशेदपुर राममय हो गया हो. फुटपाथ की हर दुकान भगवा ध्वजा और गमछा से पट गयी है. बाजार में पूजन सामग्रियों की दुकानों पर रौनक है. दुकानदारों की मानें तो हर दिन भगवान राम और राम दरबार के पताका, गमछा आदि के अनेक ग्राहक आ रहे हैं. मंदिर कमेटी और कई संस्थाओं की तरफ से थोक में सामान का उठाव हो रहा है. उधर, मिट्टी के दिये की मांग भी दीपावली के समान ही बढ़ गयी है. जो अयोध्या नहीं जा पा रहे हैं, वे अपने घर या मंदिरों में श्रीरामलला की आराधना की तैयारी में जुटे हैं.

दीये पर जयश्री राम, दीपावली के समान मिल रहे ऑर्डर

काशीडीह, सोनारी, मानगो सहित हर कुम्हारपाड़े में मिट्टी के दीये की मांग बढ़ गयी है. सोनारी कुम्हारपाड़ा के रामचंद्र प्रजापति बताते हैं कि यह दूसरी दीपावली है. दीये की मांग बहुत ज्यादा है. उस हिसाब से वे लोग दीया तैयार नहीं कर पा रहे. ठंड के कारण कारीगर भी नहीं मिल रहे. वे बताते हैं कि हर दिन कई ग्राहक आ रहे हैं और पूछ कर जा रहे हैं. कई जगह से एक-एक हजार, पांच-पांच सौ दीये के ऑर्डर भी आये हैं. मांग पूरी करने के लिए उनलोगों को दिन-रात एक करना पड़ रहा है. वहीं, कई लोग कई लोग रेडीमेड दीया बेच रहे हैं. जानकारी के मुताबिक, कई मंदिरों और संस्था की तरफ से 10-10 हजार दीये खरीदे गये हैं, जिसे लोगों के बीच बांटा जा रहा है. वहीं, समाचार चैनल और सोशल मीडिया से लोगों को अयोध्या की तैयारी की हरेक जानकारी मिल रही है. उसी हिसाब से ग्राहकों की मांग हो रही है. कई ग्राहक डेकोरेटेड दीये की मांग कर रहे हैं, जिसमें लाल रंग से जयश्री राम या केवल राम लिखा हो. इस तरह कुम्हार ग्राहकों की मांग के हिसाब से भी दिये तैयार कर रहे हैं.

ध्वजा-पताके की मांग दोगुनी

बाजार में देखें तो अभी सबसे ज्यादा मांग रामलला के ध्वजा और पताके की है. जिस पर जयश्री राम उकेरे गये हैं. किसी पर भगवान राम का चित्र है. किसी में पूरा राम दरबार है, किसी में अयोध्या राम मंदिर के साथ भगवान राम हैं. किसी ध्वजा-पताके में राम-हनुमान मिलन के चित्र है. दुकानदारों की मानें तो लोग अयोध्या राम मंदिर और राम दरबार वाले ध्वजा-पताके की मांग अधिक कर रहे हैं. रामनवमी की तुलना में करीब दोगुना मांग है. दुकानदारों को अनुमान नहीं था कि मांग इतनी बढ़ जायेगी. इसलिए कुछ दुकानदारों ने स्टॉक कम मंगाया था, जिसकी बिक्री करीब-करीब पूरी होने वाली है. ध्वजा के आकार के हिसाब से इसकी कीमत तय की गयी है. एक नंबर (75 सेंटीमीटर) थोक में 180 रुपये दर्जन, दो नंबर (एक मीटर) 360 रुपये दर्जन, तीन नंबर (डेढ़ मीटर) 540 रुपये दर्जन और चार नंबर (दो मीटर) 840 रुपये दर्जन के हिसाब से मिल रहा है. खुदरा भाव थोड़ा अधिक है. रोल वाली प्लेन झंडी थोक में 40 रुपये पैकेट, जयश्री राम लिखी झंडी 55 रुपये पैकेट मिल रही है. एक पैकेके में 24 पताके होते हैं. इसकी लंबाई 30 फुट है.

Also Read: जमशेदपुर के इस मंदिर में 1101 दीये जला कर मनाया जायेगा दीपोत्सव, जानें इतिहास और खासियत

गमछा-पट्टा पर राम का चित्र

गेरुआ गमछे की मांग भी बहुत ज्यादा है. गमछे में भी भगवान राम के चित्र हैं. किसी में जयश्री राम लिखा है. कई प्लेन गमछे हैं. गमछे की कीमत 40 से 150 रुपये तक है. इसी तरह जयश्री राम लिखा पट्टा 10 से 150 रुपये तक मिल रहे हैं. जयश्री राम लिखा कुर्ता, साड़ी भी ग्राहक ले जा रहे हैं.

मूर्ति व राम मंदिर के मॉडल की बिक्री

भगवान राम और राम दरबार की मूर्ति, चित्र की मांग भी बढ़ गयी है. ये मूर्तियां स्टोन और संगमरमर के डस्ट से बनी हैं, जिसे पानी से धोया जा सकता है. आकार के हिसाब से ही इसकी कीमत है. 13 इंच राम दरबार की कीमत 2,100 रुपये और 14 इंच राम दरबार की कीमत 7,400 रुपये है. दुकानदारों की मानें तो अभी सबसे अधिक मांग अयोध्या राम मंदिर के चित्र और उसकी आकृति (मॉडल) की है. अयोध्या राम मंदिर का मॉडल फाइबर मटीरियल में है, जिसकी कीमत 240 रुपये है. इसके अलावा लोग बाजार से तुलसी माला, अक्षत, तिल, कुश, धूप, बत्ती, धूमन आदि भी ले जा रहे हैं.

राम मंदिर के मॉडल कि मांग

नवीन राव जो कि साकची में एक दुकानदार हैं उन्होंने बताया कि, अभी लोग सबसे अधिक अयोध्या राम मंदिर के मॉडल की मांग कर रहे हैं. 22 जनवरी तक इसकी खूब बिक्री होगी. राम दरबार की मूर्ति और चित्र भी बिक रहे हैं. वहीं, गिरधारी लाल खेमका साकची के ही एक अन्य दुकानदार ने बताया कि, अयोध्या राम मंदिर प्राण प्रतिष्ठा को लेकर बाजार में सबसे अधिक मांग राम दरबार चित्र वाले ध्वजा-पताके की है. अनुमान से अधिक बिक्री हो रही है. अभिषेक कुमार अग्रवाल साकची के अन्य दुकानदार ने बताया कि, ध्वजा-पताके की बिक्री इतनी अधिक है कि हमलोग ग्राहकों को दे नहीं पा रहे हैं. रामनवमी की तुलना में दोगुना से अधिक की बिक्री हो रही है. जबकि, सोनारी के रामचंद्र प्रजापति ने बताया कि, दीपावली के समान ही दीये की मांग बढ़ गयी है. हमारे पास कई लोगों के एक-एक हजार दीये के ऑर्डर आये हैं. हर दिन ग्राहक आ रहे हैं. कुम्हारपाड़ा, काशीडीह के सकलदेव प्रसाद ने बताया कि, हमलोग रेडीमेड दीया बेचते हैं. कई ग्राहक डेकोरेटेड दीये जिस पर राम या जयश्री राम लिखा हो, उसकी मांग कर रहे हैं. दीया बनाने में जुटा हूं.

राम मंदिर से जुड़े प्रोडक्ट और कीमत

  • संगमरमर की मूर्ति – 2,100 से 7,400 रुपये पीस

  • राम मंदिर मॉडल – 240 रुपये पीस

  • ध्वजा – 180 से 840 रुपये दर्जन

  • झंडी – 40 से 55 रुपये पैकेट

  • गमछा – 40 से 150 रुपये पीस

  • पट्टा -10 से 150 रुपये पीस

  • दीया – 15 से 20 रुपये दर्जन

  • अक्षत – 40 रुपये किलो

  • काला तिल – 120 रुपये किलो

  • लकड़ी धूप – 120 रुपये किलो

पांच करोड़ के कारोबार की उम्मीद

सचिव कैट सुरेश सोंथालिया ने बताया कि, झंडा, पताका, कपड़ा आदि को मिलाकर देखें तो रामलला के प्राण प्रतिष्ठा समारोह को लेकर कोल्हान में पांच करोड़ रुपये के कारोबार का अनुमान है. हर दिन ग्राहकों का फुटफॉल बाजार में बढ़ रहा है, जिससे बाजार बूम पर है.

दीपावली की तरह मिल रहे दीयों के ऑर्डर

काशीडीह, सोनारी, मानगो सहित हर कुम्हारपाड़े में मिट्टी के दीये की मांग बढ़ गयी है. सोनारी कुम्हारपाड़ा के रामचंद्र प्रजापति बताते हैं कि यह दूसरी दीपावली है. दीये की मांग बहुत ज्यादा है. उस हिसाब से वे लोग दीया तैयार नहीं कर पा रहे. ठंड के कारण कारीगर भी नहीं मिल रहे. वे बताते हैं कि हर दिन कई ग्राहक आ रहे हैं और पूछ कर जा रहे हैं. कई जगह से एक-एक हजार, पांच-पांच सौ दीये के ऑर्डर भी आये हैं. मांग पूरी करने के लिए उनलोगों को दिन-रात एक करना पड़ रहा है. वहीं, कई लोग कई लोग रेडीमेड दीया बेच रहे हैं. जानकारी के मुताबिक, कई मंदिरों और संस्था की तरफ से 10-10 हजार दीये खरीदे गये हैं, जिसे लोगों के बीच बांटा जा रहा है. वहीं, समाचार चैनल और सोशल मीडिया से लोगों को अयोध्या की तैयारी की हरेक जानकारी मिल रही है. उसी हिसाब से ग्राहकों की मांग हो रही है. कई ग्राहक डेकोरेटेड दीये की मांग कर रहे हैं, जिसमें लाल रंग से जयश्री राम या केवल राम लिखा हो. इस तरह कुम्हार ग्राहकों की मांग के हिसाब से भी दिये तैयार कर रहे हैं.

Also Read: राम नाम से नाता जोड़ रहे जमशेदपुर के युवा, टैटू बनवाने का बढ़ा क्रेज

You May Like

Prabhat Khabar App :

देश, एजुकेशन, मनोरंजन, बिजनेस अपडेट, धर्म, क्रिकेट, राशिफल की ताजा खबरें पढ़ें यहां. रोजाना की ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज कवरेज के लिए डाउनलोड करिए

अन्य खबरें