1. home Hindi News
  2. state
  3. jharkhand
  4. gumla
  5. prabhat khabar impact sulekha of gumla of jharkhand started to see with his own eyes she was suffering from cataract health minister banna gupta took cognizance in this case grj

प्रभात खबर इंपैक्ट : अब अपनी आंखों से देखने लगी झारखंड के गुमला की सुलेखा, स्वास्थ्य मंत्री बन्ना गुप्ता ने लिया था संज्ञान

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
Jharkhand News : ऑपरेशन के बाद अपने परिजनों के साथ सुलेखा
Jharkhand News : ऑपरेशन के बाद अपने परिजनों के साथ सुलेखा
प्रभात खबर

Jharkhand News, Gumla News, गुमला (दुर्जय पासवान) : प्रभात खबर (गुमला) की पहल रंग लायी. अपनी आंखों से सुलेखा कुमारी देखने लगी. शनिवार को गुमला सदर अस्पताल में डॉ पीएम बाड़ा ने सुलेखा की एक आंख का ऑपरेशन किया और चश्मा पहनाया. इसके बाद सुलेखा देखने लगी. एक और आंख का ऑपरेशन एक सप्ताह के बाद होगा. जिससे सुलेखा दोनों आंखों से देख पायेगी. आपको बता दें कि सुलेखा मोतियाबिंद से ग्रसित थी. स्वास्थ्य मंत्री बन्ना गुप्ता ने समाचार प्रकाशित होने के बाद इस मामले पर संज्ञान लिया था.

ऑपरेशन के वक्त सुलेखा के साथ उसकी चाची ललिता कच्छप, चाचा सुनील उरांव व दादा सुंदर उरांव थे. यहां बतातें चलें कि सुलेखा के परिजनों ने उसे जन्म से ही नेत्रहीन मान कर उसका दिव्यांग सर्टिफिकेट बनाने के लिए आवेदन सौंपा था, लेकिन जब नेत्र विभाग के चिकित्सक डॉक्टर पीएम बाड़ा ने उसकी आंखों की जांच की, तो उसे मोतियाबिंद से ग्रसित पाया. जिसके बाद सुलेखा के आंख के ऑपरेशन में तकनीकी समस्या की जानकारी दी. प्रभात खबर में समाचार प्रकाशित होने के बाद स्वास्थ्य मंत्री बन्ना गुप्ता ने सुलेखा के समुचित इलाज की व्यवस्था कराने का निर्देश दिया था.

इस संबंध में डॉक्टर पीएम बाड़ा ने बताया कि सुलेखा की बायीं आंख का ऑपरेशन किया गया. ऑपरेशन सफल रहा. शनिवार को उसकी बायीं आंख की पट्टी खोली गयी है. वह अब सब कुछ बायीं आंख से देख सकती है. उन्होंने बताया कि सुलेखा की दायीं आंख का ऑपरेशन एक सप्ताह बाद होगा. उन्होंने उनके परिजनों को एक सप्ताह के बाद सुलेखा को पुन: ऑपरेशन के लिए लाने का आग्रह किया है. डॉक्टर पीएम बाड़ा ने सुलेखा के इलाज करने में सहयोग के लिए प्रभात खबर का आभार प्रकट किया.

सुलेखा के चाची ललिता कच्छप ने बताया कि सुलेखा की एक छोटी बहन सुप्रिया कुमारी (10) भी मोतियाबिंद से ग्रसित है. चिकित्सक से बात हो गयी है. वह उसका भी जांच कर ऑपरेशन करने के लिए तैयार है. उन्होंने प्रभात खबर की सराहना करते हुए कहा कि प्रभात खबर में प्रकाशित खबर के बाद उनकी भतीजी का ऑपरेशन हुआ है. परिजनों ने प्रभात खबर के प्रति आभार प्रकट किया.

Posted By : Guru Swarup Mishra

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें