1. home Hindi News
  2. state
  3. jharkhand
  4. gumla
  5. prabhat khabar impact jharkhand cm hemant soren took cognizance in the witch hunting case gave instructions to gumla dc regarding the suffering elderly grj

Prabhat Khabar Impact : झारखंड के सीएम हेमंत सोरेन ने डायन बिसाही मामले में लिया संज्ञान, पीड़ित बुजुर्गों को लेकर गुमला डीसी को दिया ये निर्देश

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
Jharkhand News : सीएम हेमंत सोरेन
Jharkhand News : सीएम हेमंत सोरेन
फाइल फोटो

Jharkhand News, (गुमला), दुर्जय पासवान : झारखंड के गुमला जिले के गुमला थाना से 12 किमी दूर बड़ा लोरो गांव के तीन वृद्धों को डायन बिसाही का आरोप लगाकर तीन साल पहले गांव से निकाल दिया गया था. प्रभात खबर ने इस समाचार को पिछले 20 मार्च को प्रकाशित किया है. समाचार प्रकाशित होने के बाद झारखंड के मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन ने इस मामले में संज्ञान लिया है. सीएम ने गुमला उपायुक्त को ट्वीट कर कार्रवाई करने का निर्देश दिया है.

झारखंड के सीएम हेमंत सोरेन ने गुमला डीसी को निर्देश दिया है कि इस मामले को संज्ञान में लें. उन वृद्धों को तत्काल सहायत पहुंचाते हुए उन्हें सूचित करें. इसके साथ ही अंधविश्वास के खिलाफ क्षेत्र में व्यापक प्रचार प्रसार करें, ताकि भविष्य में ऐसी घटनाओं पर रोक लगाया जा सके. इस संबंध में गुमला डीसी शिशिर कुमार सिन्हा ने कहा है कि मामले को संज्ञान में लेते हुए गुमला बीडीओ व सीओ को जांच कर पीड़ित महिला को तत्काल सहायता उपलब्ध कराने का निर्देश दिया गया है. इसके साथ ही गुमला जिले में डायन बिसाही, अंधविश्वास के विरुद्ध जागरूकता अभियान चलाकर ऐसी घटनाओं को रोकने का प्रयास चल रहा है.

गुमला थाना क्षेत्र के बड़ा लोरो गांव में एक परिवार में बीमारी से अलग-अलग महीने में तीन लोग मर गये थे. इससे उस परिवार के लोग अंधविश्वास में आ गये. घर की सभी वृद्ध महिलाओं पर डायन बिसाही का आरोप लगाकर महिला को घर से निकाल दिया. 90 वर्षीय वृद्ध महिला अभी अपनी बेटी के घर नवाडीह गांव में रह रही है. तीन साल हो गये. महिला को गांव में घुसने नहीं दिया गया है. वहीं गांव के दूसरे मामले में गांव के लोगों ने वृद्ध दंपती पर डायन बिसाही का आरोप लगाकर गांव से निकाल दिया. फिलहाल बुजुर्ग दंपती गुमला शहर से सटे पुग्गू ढौठाटोली में अपनी बेटी के घर रह रहे हैं. ये वृद्ध गांव जाना चाहते हैं, परंतु गांव के लोग आने नहीं दे रहे हैं.

Posted By : Guru Swarup Mishra

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें