1. home Hindi News
  2. state
  3. jharkhand
  4. gumla
  5. jharkhand crime news junior engineer woman panchayat samiti member in gumla demands action grj

Jharkhand Crime News : गुमला में जूनियर इंजीनियर पर महिला पंचायत समिति सदस्य के साथ दुष्कर्म का आरोप, कार्रवाई की मांग

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
Jharkhand Crime : तीन बच्चों की मां के साथ सामूहिक दुष्कर्म करने का एक आरोपी गिरफ्तार
Jharkhand Crime : तीन बच्चों की मां के साथ सामूहिक दुष्कर्म करने का एक आरोपी गिरफ्तार
फाइल फोटो

Jharkhand Crime News, गुमला न्यूज, दुर्जय पासवान : गुमला जिले के चैनपुर प्रखंड की बामदा पंचायत की पंचायत समिति सदस्य (पंसस) के साथ दुष्कर्म का मामला प्रकाश में आया है. पीड़िता ने चैनपुर प्रखंड के जूनियर इंजीनियर (जेई) संदीप कुमार तिवारी पर दुष्कर्म का आरोप लगाया है. इस संबंध में महिला थाने में पीड़िता ने लिखित आवेदन सौंपकर प्राथमिकी दर्ज करते हुए कार्रवाई की मांग की है. दुष्कर्म की घटना 17 मार्च की है, लेकिन जेई द्वारा मिली धमकी व लोकलाज के डर से नौ दिनों तक पीड़िता चुप रही. जब उन्होंने अपने पति को घटना की जानकारी दी. तब 27 मार्च को महिला थाने में केस दर्ज करने के लिए आवेदन सौंपा गया.

पीड़िता सबसे पहले चैनपुर थाना गयी. परंतु वहां से गुमला महिला थाना भेज दिया गया. आज शनिवार को पीड़िता दोपहर में गुमला महिला थाना पहुंची. जहां उन्होंने लिखित आवेदन सौंपा. पीड़िता ने कहा कि पंचायत समिति सदस्य के रूप में एक सेवक के रूप में जुड़ी हुई हैं. बीते 17 मार्च को विधायक की अनुशंसा पर मिले सात कूप निर्माण की फाइल रोजगार सेवक, पंचायत सेवक व मुखिया से हस्ताक्षर कराने के बाद जेई संदीप कुमार तिवारी के पास गयी थी. उस समय वह डेरा में नहीं था, तो उन्होंने अपने मोबाइल से उससे संपर्क किया. इसके बाद साढ़े तीन बजे चैनपुर प्रखंड के समीप कौशल विकास केंद्र के ऊपरी तल्ले में पहुंची. जहां जेई रहता है. वहां जाने पर पीड़िता ने फाइल में साइन करने को कहा, तो आरोपी ने कहा कि वह नशे में है. उसके कमरे में चलें. इसके बाद पंसस जेई के रूम में चली गयी, तो रूम में एक और युवक सोया हुआ था. जिसे जेई ने उठाया और कुछ रुपया देते हुए बाइक मरम्मत कराने के लिए भेज दिया. इसके बाद जेई पंसस के साथ छेड़छाड़ करने लगा और कमरे को बंद कर दुष्कर्म किया.

इसके बाद जेई ने इस घटना के बारे में किसी को कुछ बताने पर जान से मारने की धमकी दी और फाइल पर साइन कर दिया. पीड़िता ने कहा कि वे काफी डरी हुई थीं और लोकलाज के डर से किसी को घटना के संबंध में कुछ नहीं बताया. हिम्मत करके उन्होंने 26 मार्च को अपने पति को सारी घटना की जानकारी दी और 27 मार्च को महिला थाना पहुंचकर लिखित आवेदन सौंपकर कार्रवाई की मांग की.

चैनपुर के उपप्रमुख सह झामुमो के जिला उपाध्यक्ष सुशील दीपक मिंज ने कहा कि यह घटना निंदनीय है. ऐसे जेई को सबक सिखाने की आवश्यकता है. वे पुलिस अधीक्षक से मांग करते हैं कि ऐसे लोगों पर कठोर कार्रवाई करें, ताकि जनप्रतिनिधियों के अलावा महिलाओं पर कोई बुरी नजर अथवा इस तरह की घटना करने के लिए ना सोचे. इस मामले को लेकर प्रखंड के सभी पंचायत समिति सदस्यों की एक बैठक बुलायी जायेगी. पूरे मामले पर विचार विमर्श करने के बाद पुलिस अधीक्षक से मिलकर कठोर कार्रवाई करने के लिए मांग की जायेगी. होली के बाद इस मुद्दे को लेकर प्रतिनिधि बैठक की जायेगी.

गुमला की महिला थानेदार प्रियंका तिर्की ने कहा कि अभी तक उनके पास कोई आवेदन नहीं आया है. न ही पीड़िता शिकायत करने पहुंची है. पहुंचने पर लिखित आवेदन लेकर मामला दर्ज कर कार्रवाई की जायेगी. वहीं, चैनपुर थानेदार अमित चौधरी ने कहा कि इस मामले में पुलिस अधीक्षक से बात हुई. उन्होंने इस मामले को महिला थाना गुमला भेजने की बात कही है. पीड़िता व उसके पति को महिला थाना भेज दिया गया है.

चैनपुर के बीडीओ शिशिर सिंह ने कहा कि वे अवकाश पर हैं. मामले की सूचना मिली है. छुट्टी से लौटने के बाद इस मामले पर कुछ कहा जा सकता है. जेई अगर दोषी है, तो दोषी के खिलाफ कार्रवाई होगी. वहीं, आरोपी जूनियर इंजीनियर संदीप तिवारी ने कहा कि उनके ऊपर लगाया गया आरोप बेबुनियाद और झूठा है. एक साजिश के तहत फंसाने की कोशिश की जा रही है. उन्होंने किसी के साथ दुष्कर्म नहीं किया है.

Posted By : Guru Swarup Mishra

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें