1. home Hindi News
  2. state
  3. jharkhand
  4. gumla
  5. good initiative corona vaccination done in a different way in gumla administration reached to those selling vegetables smj

अच्छी पहल : गुमला में अलग अंदाज में हुआ टीकाकरण, सब्जी बेचने वालों तक पहुंचा प्रशासन

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
Jharkhand News : गुमला में सब्जी बिक्रेताओं तक पहुंचा प्रशासन. ऑन स्पॉट दिया कोरोना का टीका.
Jharkhand News : गुमला में सब्जी बिक्रेताओं तक पहुंचा प्रशासन. ऑन स्पॉट दिया कोरोना का टीका.
प्रभात खबर.

Jharkhand News ( दुर्जय पासवान, गुमला) : गुमला जिले के चैनपुर प्रखंड प्रशासन ने कोरोना टीका देने के लिए अलग अंदाज अपनाया है. अब प्रशासन सड़क के किनारे व बाजार में सब्जी बेचने वालों के बीच पहुंचना शुरू कर दिया है. सब्जी बेचने वालों को उन्हीं के दुकान में बैठाकर कोरोना टीका दिया जा रहा है.

पूछा जा रहा है कि टीका लिये हैं या नहीं. जैसे ही जवाब मिल रहा कि टीका नहीं लिये हैं, नर्स तुरंत ऑन द स्पॉट टीका दे रही है. खुद बीडीओ डॉ शिशिर कुमार सिंह व थाना प्रभारी अमित चौधरी लोगों के बीच स्वास्थ्यकर्मियों को लेकर जा रहे हैं. सब्जी बेचने वाले जो भी किसान टीका नहीं लिये हैं. उन्हें टीका लगवा रहे हैं.

प्रखंड के 10 पंचायतों में कैंप लगाया गया. जहां सभी पंचायत में टीकाकरण का कार्य किया गया. मोबाइल वैन के माध्यम से बैंक ऑफ इंडिया, चैनपुर के बगल में कैंप लगाया गया. कैंप में बामदा में 30, बेंदोरा में 10, छिछवानी में 10, लूथेरान हाई स्कूल में 80, रामपुर में 61, मालम में 20, कातिंग में 11, जनावाल में 40, बरवे नगर में 10, बारडीह में 20 तथा मोबाइल वैन द्वारा बैंक ऑफ इंडिया के पास पर्यवेक्षक रामकृष्ण ओहदार व थानेदार के सहयोग से 100 लोगों को टीकाकरण कराया गया. इस तरह कुल 400 लोगों का टीकाकरण किया गया. बीडीओ शिशिर कुमार सिंह ने कहा कि रविवार को 22 जगहों में कैंप लगाया गया.

लोगों को जागरूक करने पैदल घूमे अपर समाहर्ता

जिन गांवों में कोरोना टीका लेने को ग्रामीण तैयार नहीं हैं. उन गांवों में अपर समाहर्ता सह नोडल पदाधिकारी सुधीर कुमार गुप्ता पैदल घूम रहे हैं. वे लोगों के घरों तक जा रहे हैं. पेड़ के नीचे छांव में बैठी महिलाओं से बात कर कोरोना टीका लेने के लिए जागरूक करने का काम कर रहे हैं. रविवार को घाघरा प्रखंड के आदर क्षेत्र के कई गांव व साप्ताहिक हाट में एसी सुधीर प्रसाद गुप्ता व सीओ धनंजय पाठक ने लोगों को कोरोना वैक्सीन के प्रति जागरूक किया.

एसी ने साप्ताहिक हाट के हर दुकान और मोहल्ला में घूम-घूम कर लोगों को कोरोना वैक्सीन के होने वाले फायदे के बारे में बताया. अधिकारियों के जागरूक करने के बाद कई लोगों ने वैक्सीन लिया. एसी ने कहा कि कोरोना टीका ही हम सभी को कोरोना से बचा सकता है. वहीं, सीओ ने कहा कि इस तरह से लगातार लोगों को जागरूक करने के लिए गांव-गांव में जाकर लोगों से संपर्क किया जायेगा. मौके पर बीटीएम इंद्र प्रताप पांडे समेत अन्य मौजूद थे.

काथलिक सभा का फरमान, ईसाई समुदाय टीका जरूर लें

गुमला धर्मप्रांत के काथलिक सभा ने ईसाई समाज के 18 वर्ष से ऊपर के सभी लोगों को टीका लेने के लिए फरमान जारी किया. काथलिक सभा, गुमला धर्मप्रांत के अध्यक्ष सेत कुमार एक्का ने कहा है कि ऐसी खबरें आ रही है कि हमारे समुदाय के लोग कोरोना टीका नहीं ले रहे हैं. राष्ट्रव्यापी टीकाकरण अभियान में कोई दिलचस्पी नहीं दिखा रहे हैं. ऐसा कर हम कोरोना से लड़ने के बजाय उसे निमंत्रण दे रहे हैं जबकि सबको पता है कि कोरोना की दूसरी लहर ने हमें बहुत नुकसान पहुंचाया है. तीसरी लहर से बचने के लिए जरूरी है कि हम सभी टीका लें.

काथलिक सभा द्वारा जारी दिशा निर्देश

- टीकाकरण को लेकर उड़ रही सोशल मीडिया की भ्रामक बातों में न आये, बल्कि विश्व स्वास्थ्य संगठन, भारत सरकार एवं राज्य सरकार के निर्देशों का पालन करें. साथ ही टीकाकरण का राष्ट्रीय अभियान का समर्थन कर अपने नागरिक कर्तव्य का पालन करें.

- इससे पहले भी चेचक, हैजा, पोलियो आदि बीमारी व वायरस के खात्मे के लिए टीका दी गयी है. इतना तक कि आजकल तो नवजात को भी टीका दिया जा रहा है. इस कारण निसंकोच टीका लें और कोरोना की तीसरे लहर से लड़ने के लिए अपनी प्रतिरोधक क्षमता को मजबूत करें.

- कोई भी टीका नुकसानदेह नहीं है, बल्कि ज्यादा फायदेमंद साबित हुआ है. जा लोग दूसरी लहर में संक्रमित नहीं हुए हैं. वे भी चिकित्सकों के परामर्श अनुसार जरूर टीका लगवाये, ताकि आप सुरक्षित रह सके.

- काथलिक सभा, महिला संघ व युवा संघ की पल्ली समितियों से आग्रह है कि आप अपने टोला, पंचों और अगुवों का इस दिशा में मार्गदर्शन करें. जहां जरूरत पड़े, तो टीकाकरण टीम की अगुवाई करें. आप क्या कर रहे हैं. इसकी सूचना हमें फोन या व्हाटसअप के माध्यम से दें.

- टीकाकरण के लिए जरूरी है कि आप एक टीम बना लें. टीम इस प्रकार हो सकती है. पल्ली पुरोहित, काथलिक सभा, महिला संघ और युवा संघ के लोग टीम में हो. ऐसी ही टीम गांव में भी बन सकती है.

Posted By : Samir Ranjan.

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें