1. home Hindi News
  2. state
  3. jharkhand
  4. giridih
  5. maoist resistance day after mobile tower naxalites blew up bridge panic due to posters grj

माओवादी प्रतिरोध दिवस: मोबाइल टावर के बाद नक्सलियों ने विस्फोट कर उड़ाया पुल, आवागमन बाधित

नक्सलियों ने बीती रात डुमरी थाना क्षेत्र अंतर्गत सिंदवरिया-बरागढ़ा घाट एवं लुरंगो घाट पर मुख्यमंत्री ग्राम सेतु योजना से बराकर नदी पर बने पुल को ब्लास्ट कर उड़ा दिया है. नक्सलियों ने पोस्टरबाजी भी की है. इससे दहशत का माहौल है.

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
Jharkhand News: विस्फोट कर उड़ाया गया पुल
Jharkhand News: विस्फोट कर उड़ाया गया पुल
प्रभात खबर

Jharkhand News: झारखंड के गिरिडीह जिले में नक्सलियों का उत्पात जारी है. एक करोड़ के इमामी नक्सली प्रशांत बोस और उसकी पत्नी शीला मरांडी की गिरफ्तारी के विरोध में मनाए जा रहे प्रतिरोध दिवस के दूसरे दिन शनिवार को भी नक्सलियों ने जमकर उत्पात मचाया. नक्सलियों ने बीती रात को ढाई बजे डुमरी थाना क्षेत्र अंतर्गत सिंदवरिया-बरागढ़ा घाट एवं लुरंगो घाट पर मुख्यमंत्री ग्राम सेतु योजना से बराकर नदी पर बने पुल को ब्लास्ट कर उड़ा दिया है. इस घटना के बाद गांव में दहशत का माहौल है. इतना ही नहीं नक्सलियों ने पोस्टरबाजी भी की है.

नक्सलियों ने ब्लास्ट कर उड़ाया पुल

बताया जा रहा है कि बीती रात को करीब 20 से 25 की संख्या में हथियारबंद नक्सलियों ने जमकर उत्पात मचाया. झारखंड के गिरिडीह जिले के डुमरी थाना क्षेत्र अंतर्गत सिंदवरिया-बरागढ़ा घाट एवं लुरंगो घाट पर मुख्यमंत्री ग्राम सेतु योजना से बराकर नदी पर पुल बनाया गया था. नक्सलियों ने इसे नि‍शाना बनाया और ब्लास्ट कर उड़ा दिया है. इतना ही नहीं नक्सलियों ने पोस्टरबाजी भी की है. इस घटना के बाद गांव में दहशत का माहौल है.

पुल उड़ाने के बाद आवागमन बाधित

गिरिडीह के जिस इलाके में नक्सलियों ने घटना को अंजाम दिया है, वो इलाका डुमरी और मुफस्सिल थाना का सीमावर्ती क्षेत्र है. नक्सलियों द्वारा पुल उड़ाए जाने के बाद आवागमन बाधित हो गया है. आपको बता दें कि प्रतिरोध दिवस के पहले दिन यानी शुक्रवार को नक्सलियों ने मधुबन ओर खुखरा में दो मोबाइल टावर उड़ा कर अपनी उपस्थिति दर्ज कराई थी. इधर, दूसरे दिन शनिवार को पुल उड़ाए जाने के बाद इलाके में पुलिस ने सर्च अभियान शुरू कर दिया है.

27 जनवरी को झारखंड-बिहार बंद की घोषणा

आपको बता दें कि एक करोड़ के इनामी नक्सली प्रशांत बोस और उसकी पत्नी शीला मरांडी की गिरफ्तारी के विरोध में नक्सलियों द्वारा बुलाए गए झारखंड व बिहार बंद (27 जनवरी 2022) के पूर्व प्रतिरोध दिवस के दौरान नक्सलियों ने अपनी उपस्थिति दर्ज कराई है. भाकपा मावोवादी संगठन का प्रतिरोध दिवस शुक्रवार से शुरू हो गया है. झारखंड के गिरिडीह जिले में नक्सलियों ने दो मोबाइल टावर उड़ाकर अपनी उपस्थिति दर्ज करा दी है. इधर, नक्सलियों के द्वारा टावर उड़ाए जाने की घटना के बाद से ही पुलिस अलर्ट है और इलाके में नक्सलियों के खिलाफ सर्च अभियान तेज कर दिया गया है. सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार मोबाइल टावर उड़ाने की घटना को 15 लाख के इनामी नक्सली कृष्णा हांसदा के दस्ते ने अंजाम दिया है.

रिपोर्ट: मृणाल कुमार

Prabhat Khabar App :

देश-दुनिया, बॉलीवुड न्यूज, बिजनेस अपडेट, मोबाइल, गैजेट, क्रिकेट की ताजा खबरें पढ़ें यहां. रोजाना की ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज कवरेज के लिए डाउनलोड करिए

googleplayiosstore
Follow us on Social Media
  • Facebookicon
  • Twitter
  • Instgram
  • youtube

संबंधित खबरें

Share Via :
Published Date

अन्य खबरें