1. home Hindi News
  2. state
  3. jharkhand
  4. bokaro
  5. matric pass education minister of jharkhand jagarnath mahto manage to study books in his car while travelling see video mth

VIDEO: मैट्रिक पास शिक्षा मंत्री का चलता-फिरता स्टडी रूम आपने देखा क्या...

By Prabhat Khabar Digital Desk
Updated Date
क्षेत्र का भ्रमण करते समय जब भी कार में वक्त मिलता है, झारखंड के शिक्षा मंत्री किताब निकालकर पढ़ाई कर लेते हैं.
क्षेत्र का भ्रमण करते समय जब भी कार में वक्त मिलता है, झारखंड के शिक्षा मंत्री किताब निकालकर पढ़ाई कर लेते हैं.
Rakesh Verma

बेरमो-ऊपरघाट (राकेश वर्मा) : झारखंड के मैट्रिक पास शिक्षा मंत्री जगरनाथ महतो इन दिनों कार में बैठकर इंटर की पढ़ाई करते हैं. व्यस्त कार्यक्रमों की वजह से उन्हें पढ़ने का मौका नहीं मिलता. इसका रास्ता उन्होंने निकाल लिया है. जब भी शिक्षा मंत्री अपने क्षेत्र के भ्रमण के लिए निकलते हैं, कार से यात्रा करते समय ही पढ़ाई कर लेते हैं.

मैट्रिक की परीक्षा पास करने के 25 साल बाद फिर से पढ़ाई शुरू करने का निश्चय करने वाले जगरनाथ महतो ने कहा है कि अपने विरोधियों को जवाब देने के लिए ही उन्होंने फिर से पढ़ाई शुरू की है. मंत्री ने डुमरी विधानसभा क्षेत्र के नावाडीह प्रखंड के कठघरा स्थित देवी महतो इंटर कॉलेज में 11वीं के कला संकाय में कुछ दिन पहले दाखिला लिया था.

इस कॉलेज की स्थापना खुद मंत्री श्री महतो ने की है. नामांकन कराने के बाद से भारी व्यस्तता के कारण वह पढ़ाई नहीं कर पा रहे थे. तब उन्होंने निश्चय किया कि यात्रा के समय जब भी समय मिलेगा, कार में ही बैठकर वह पढ़ाई कर लेंगे. इसके बाद से उन्होंने अपनी इंटर की पुस्तकें कार में रखनी शुरू कर दी. जब भी खाली वक्त मिलता है, पढ़ाई कर लेते हैं.

बुधवार को नावाडीह प्रखंड के उग्रवाद प्रभावित क्षेत्र ऊपरघाट एवं डुमरी भ्रमण के दौरान गाड़ी में श्री महतो पढ़ाई करते नजर आये. पूछे जाने पर शिक्षा मंत्री जगरनाथ महतो ने कहा, ‘जब से मैंने इंटर में एडमिशन कराया है, तब से मेरे विरोधियों को दिन-रात यही चिंता सताती रहती है कि आखिर मैं इंटर की पढ़ाई कब करूंगा और कैसे करूंगा?’

श्री महतो ने आगे कहा, ‘ऐसे लोगों के लिए मैंने यह बीड़ा उठाया है. वाहन में फुर्सत के क्षणों में चुपचाप पढ़ाई करता रहूंगा. मैंने पुस्तकें खरीद ली हैं. जब-जहां अवसर मिलता है, पढ़ाई करता हूं. वे कहते हैं कि किसी भी कार्य में सफलता दृढ़ निश्चय से ही प्राप्त होती है.’

शिक्षा मंत्री ने कहा, ‘देश-दुनिया के बहुत से महान लोगों ने कभी सड़क किनारे, कभी स्ट्रीट लाइट के नीचे, कभी रेलवे प्लेटफॉर्म पर बैठकर, कभी रात भर जागकर, कभी दूसरों की पुरानी किताबें मांगकर पढ़ाई की. हमारे पूर्व प्रधानमंत्री स्व लाल बहादुर शास्त्री के पास एक ही वस्त्र था और स्कूल जाने के मार्ग में एक नदी को पार करना पड़ता था. वे अपने सभी कपड़े उतारकर झोली में भरते, तैरकर नदी पार करते और फिर कपड़े पहनकर स्कूल जाते थे.’

श्री महतो ने कहा कि ऐसी बहुत सी महान विभूतियां हैं, जिन्होंने हमारे देश का मान-सम्मान बढ़ाया है. झारखंड में भी महान लोगों की कमी नहीं है. इन महान विभूतियों के बारे में जानने के बाद ही मैंने आगे की पढ़ाई शुरू करने का निश्चय किया. इंटर की परीक्षा में बेहतर रिजल्ट लाकर अपने विरोधियों को करारा जवाब दूंगा.

Posted By : Mithilesh Jha

Share Via :
Published Date
Comments (0)
metype

संबंधित खबरें

अन्य खबरें