1. home Home
  2. state
  3. jharkhand
  4. bokaro
  5. jharkhand news coal block allotted to tvnl why production could not start even after 6 years this is the reason grj

Jharkhand News : टीवीएनएल को आवंटित कोल ब्लॉक से 6 साल बाद भी आखिर क्यों शुरू नहीं हो सका उत्पादन, ये है वजह

टीटीपीएस परियोजना 420 मेगावाट की दो यूनिट है. पहली यूनिट 210 मेगावाट की 1996 के सितंबर माह से सचांलित है. परियोजना की दूसरी यूनिट 210 मेगावाट‌ की है, जो सितंबर 1997 से संचालित है. परियोजना की दोनों यूनिट के संचालन में प्रतिदिन सात हजार एमटी कोयले की आवश्यकता पड़ती है.

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
Jharkhand News : तेनुघाट थर्मल पावर स्टेशन
Jharkhand News : तेनुघाट थर्मल पावर स्टेशन
प्रभात खबर

Jharkhand News, बोकारो न्यूज (नागेश्वर) : झारखंड के बोकारो जिले के गोमिया प्रखंड अंतर्गत ललपनिया में रिकॉर्ड विद्युत उत्पादन करने वाली टीटीपीएस (तेनुघाट थर्मल पावर स्टेशन) परियोजना है, जो कम लागत में अधिक बिजली उत्पादन करने वाली परियोजना है. सरकार द्वारा कोल ब्लॉक आवंटन के 6 वर्षों से भी अधिक‌ समय गुजर जाने के बाद भी टीवीएनएल में आज तक परियोजना का संचालन नहीं हो पाया, जबकि लातेहार में आवंटित कोल ब्लॉक राजवरा में 420 मिलियन मीट्रिक टन कोयला का भंडार है. ये कोल ब्लॉक चालू हो जाये तो कोयला व आर्थिक संकट से जूझ रही परियोजना को उससे निजात मिलेगी.

टीटीपीएस परियोजना 420 मेगावाट की दो यूनिट है. पहली यूनिट 210 मेगावाट की 1996 के सितंबर माह से सचांलित है. परियोजना की दूसरी यूनिट 210 मेगावाट‌ की है, जो सितंबर 1997 से संचालित है. परियोजना की दोनों यूनिट के संचालन में प्रतिदिन सात हजार एमटी कोयले की आवश्यकता पड़ती है. परियोजना को बिजली उत्पादन में कोयले की आपूर्ति के लिए पूर्ण रूप से सीसीएल पर आश्रित होना पड़ रहा है. कोयले की कमी को पाटने व समस्याओं को दूर करने के लिये टीवीएनएल को सरकार के द्वारा लातेहार में कोल ब्लॉक राजवार इएडी आवंटन किया गया ताकि कोयले की कमी को अपने कोल ब्लॉक से पाटा जा सके. आवंटित कोल‌ ब्लॉक को संचालित करने के लिये लातेहार में कार्यालय‌ का संचालन किया जा रहा है. सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार कोल ब्लॉक को चालू करने से पूर्व कई विभागों से एनओसी लेनी पड़ेगी.

आपको बता दें कि परियोजना में द्वितीय फेज के निर्माण के लिये 660 मेगावाट विद्युत उत्पादन की दो यूनिट प्रस्तावित है. कुल 1320 मेगावाट बिजली उत्पादन की दो यूनिट लगनी है. इसके लिये पूर्व से परियाजना में जमीन उपल्ब्ध है. साथ ही पानी भी. इसके अलावा अन्य‌ कई संसाधन उपलब्ध हैं. टीटीपीएस में द्वितीय चरण का विस्तार होने पर कोयले की खपत को इसी कोल ब्लॉक से कोयले की आपूर्ति किया जाना निर्धारित है.

टीवीएनएल के प्रभारी एमडी सह जीएम अनिल कुमार शर्मा ने कहा कि केन्द्र सरकार द्वारा आवंटित‌ कोल ब्लॉक को जल्द से जल्द चालू करने के लिये कहा जा रहा है. कोल ब्लॉक परियोजना में द्वितीय चरण में टीवीएनएल को आवंटित कोल ब्लॉक को चालू करने की दिशा में विभागीय स्तर पर कार्य रूप दिया जा रहा है. प्रयास है कि जल्द से जल्द आवंटित कोल ब्लॉक से कोयले की आपूर्ति हो. झारखंड सरकार को टीवीएनएल से अन्य बिजली औद्योगिक प्रतिष्ठान से कहीं सस्ती बिजली मिलती है.

Posted By : Guru Swarup Mishra

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें