1. home Hindi News
  2. state
  3. bihar
  4. patna
  5. vaishali two csp operators on the radar of prohibition department dealing with liquor mafia and sending money on commission rdy

वैशाली के दो सीएसपी संचालक मद्यनिषेध विभाग के रडार पर, शराब माफियाओं से डील कर कमीशन पर भेज रहे पैसे

बंगाल, हरियाणा, दिल्ली समेत अन्य राज्यों से मद्य निषेध विभाग की टीम ने कई शराब माफियाओं को गिरफ्तार भी किया है. सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार मुजफ्फरपुर व दरभंगा में कई सीएसपी संचालकों पर कार्रवाई हो चुकी है और अब वैशाली के दो से अधिक संचालक रडार पर हैं.

By Prabhat Khabar Print Desk
Updated Date
सीएसपी
सीएसपी
फाइल फोटो

बिहार में शराबबंदी को और भी सफल बनाने के लिए मद्य निषेध व पुलिस की टीम लगातार कार्रवाई कर रही है. बिहार के ही शराब माफिया नहीं बल्कि अब देश के विभिन्न राज्यों से बिहार भेजने वाले शराब माफियाओं को गिरफ्तार कर रही है. बंगाल, हरियाणा, दिल्ली समेत अन्य राज्यों से मद्य निषेध विभाग की टीम ने कई शराब माफियाओं को गिरफ्तार भी किया है. शुक्रवार को हरियाणा के सोनीपत से लाये गये दो शराब माफियाओं की गिरफ्तारी के बाद एक बड़ा खुलासा हुआ है. ये लोग हवाला के माध्यम से शराब की डील करते हैं.

वैशाली के दो से अधिक संचालक रडार पर

विभागीय सूत्रों के अनुसार बिहार के शराब माफिया अब बैंकों के सीएसपी (कस्टमर सर्विस प्वाइंट) संचालक द्वारा दूसरे राज्यों में बैठे शराब माफियाओं के खातों में पैसों का ट्रांजेक्शन कर रहे हैं. जब बिहार के बाहर से गिरफ्तार कर लाये शराब माफियाओं का अकाउंट चेक किया गया, तो पाया गया कि सीएसपी संचालक करोड़ों रुपये का ट्रांजेक्शन साल भर में कर चुके हैं. ग्राहक सेवा केंद्र होने के कारण उस पर किसी को शक भी नहीं होता था. सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार मुजफ्फरपुर व दरभंगा में कई सीएसपी संचालकों पर कार्रवाई हो चुकी है और अब वैशाली के दो से अधिक संचालक रडार पर हैं. उन सभी के नाम मिल गये हैं, जल्द ही टीम अब कार्रवाई भी करेगी.

इस काम के लिए सीएसपी संचालकों को भी मिलते हैं कमीशन

जानकारी के अनुसार जांच में यह बात सामने आयी है कि दरअसल शराब माफिया सीएसपी संचालकों को पैसा भेजने के लिए कमीशन भी देते हैं. दोनों तरफ से कमीशन का पैसा मिलता है. अगर बाहर बैठे किसी शराब माफिया का पैसा किसी अकाउंट में आता है, तो उसका भी कमीशन बन जाता है. फिलहाल विभाग इस पूरे मामले की जांच कर रहा है और कई संचालकों पर कार्रवाई करेगा. अभी पटना के किसी भी संचालक का नाम सामने नहीं आया है.

एक स्पेशल नोट व कोड से भी मामला सामने आया

दरअसल विभाग ने बंगाल के डालकोवा से एक शराब माफिया को गिरफ्तार किया था. उसके अकाउंट में कई करोड़ रुपये बिहार से ट्रांजेक्शन किये गये थे. जब आरोपित का मोबाइल चेक किया गया, तो उसमें एक नोट की तस्वीर मिली और उसके नंबर के बारे में कुछ मैसेज भी पाये गये. जब पूछताछ की गयी तो उसने बताया था कि नोट के माध्यम से एक लड़का बिहार से बाहर पैसा आदान-प्रदान करता है. जितने का हवाला होना था, उतने का एक नोट का दाम हो जाता है.

Prabhat Khabar App :

देश-दुनिया, बॉलीवुड न्यूज, बिजनेस अपडेट, मोबाइल, गैजेट, क्रिकेट की ताजा खबरें पढ़ें यहां. रोजाना की ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज कवरेज के लिए डाउनलोड करिए

googleplayiosstore
Follow us on Social Media
  • Facebookicon
  • Twitter
  • Instgram
  • youtube

संबंधित खबरें

Share Via :
Published Date

अन्य खबरें