1. home Hindi News
  2. state
  3. bihar
  4. patna
  5. tejashwi yadav meets cm nitish kumar on caste based census in bihar news skt

सीएम नीतीश कुमार से तेजस्वी यादव ने की मुलाकात, जातीय जनगणना को लेकर बिहार में फिर गरमायी सियासत

जातीय जनगणना के मुद्दे पर आक्रमण रवैया अपनाये तेजस्वी यादव को सीएम नीतीश कुमार ने मुलाकात के लिए बुलाया. तेजस्वी यादव ने एकबार फिर जाति आधारित जनगणना के मुद्दे को तूल पकड़ा दिया है.

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
बिहार के CM नीतीश कुमार और नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव
बिहार के CM नीतीश कुमार और नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव
File pics

जातीय जनगणना पर बिहार की सियासत गरमायी हुई है. नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव आज बुधवार को मुख्यमंत्री नीतीश कुमार से मिलने पहुंचे. सीएम नीतीश कुमार ने उन्हें आज मुलाकात का समय दिया था. तेजस्वी यादव और सीएम नीतीश कुमार ने करीब 45 मिनट तक बातचीत किये. मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक जातीय जनगणना पर उन्हें सीएम ने भरोसा दिया है. उनसे मुलाकात के पहले तेजस्वी यादव ने कहा कि वो हर कीमत पर बिहार में जातीय जनगणना चाहते हैं और इसे पूरा होने तक वो प्रयास जारी रखेंगे.

तेजस्वी ने सीएम नीतीश से मुलाकात का लिया था वक्त

जातीय जनगणना को लेकर बिहार में फिर एकबार माहौल गरम है. नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव ने मंगलवार को इसे लेकर प्रेस कांफ्रेंस किया था. उन्होंने इस मुद्दे पर अब किसी भी तरह के विलंब को अस्वीकार करते हुए सरकार को 48 से 72 घंटे तक का अल्टीमेटम भी दे दिया था. तेजस्वी यादव ने मुख्यमंत्री से मुलाकात की इच्छा जाहिर की थी. साथ ही इस बात का जिक्र भी किया था कि वो विधिवत तरीके से सीएम से मुलाकात का समय मांगेंगे. लेकिन अब अगर जातीय जनगणना पर बात नहीं बनी तो सड़क पर उतरेंगे.

तेजस्वी ने पदयात्रा की कही बात

इससे पहले तेजस्वी यादव ने कहा था कि अब बात नहीं बनने पर बिहार से दिल्ली तक की पदयात्रा की जाएगी. उनके पदयात्रा पर जदयू के राष्ट्रीय अध्यक्ष ललन सिंह ने कहा कि वो इसका विरोध नहीं करेंगे. उधर जातीय जनगणना के मुद्दे पर वीआईपी प्रमुख मुकेश सहनी और हम पार्टी के नेता जीतन राम मांझी के भी तेवर सख्त दिखे. सहनी ने तेजस्वी को इस मुद्दे पर साथ देने की बात कही.

जातीय जनगणना पर बोले सीएम नीतीश

गौरतलब है कि जातीय जनगणना के मुद्दे पर सोमवार को सीएम नीतीश कुमार ने कहा कि केंद्र सरकार इसे नहीं करेगी. लेकिन राज्य सरकारों को इसकी अनुमति दी गयी है. बिहार में हम पहले सब लोगों की राय लेंगे, तभी आगे काम करेंगे. इस पर मीटिंग करेंगे, तो और लोगों का आइडिया भी पता चलेगा. सीएम ने कहा कि बीच में चुनाव आ गया और फिर इसे लेकर बातचीत नहीं हुई. बीच में कोरोना बढ़ गया, फिर इधर कोरोना का खतरा है. बिहार में जब यह होगी, तो पूरे तौर पर होगी. उसके लिए सब पार्टियों की मीटिंग होगी.

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें