1. home Hindi News
  2. state
  3. bihar
  4. patna
  5. tarkishor prasad to change the decision of mukesh sahani in ministry of bihar news skt

मंत्रालय में मुकेश सहनी के लिये फैसले को बदलेंगे तारकिशोर प्रसाद, यहां से हटेगी अधिकारियों की भूमिका...

बिहार में सियासी फेरबदल के बाद अब मुकेश सहनी के लिए फैसले को पशु एवं मत्स्य संसाधन विभाग बदलने की तैयारी में है. नये मंत्री तारकिशोर प्रसाद अब पूर्व के फैसले को बदलेंगे.

By Prabhat Khabar Print Desk
Updated Date
तारकिशोर प्रसाद  के साथ रेणु देवी व संजय जायसवाल
तारकिशोर प्रसाद के साथ रेणु देवी व संजय जायसवाल
प्रभात खबर

बिहार एनडीए में उथल-पुथल के बाद मुकेश सहनी को मंत्री पद से हटा दिया गया. वहीं अब पशु एवं मत्स्य संसाधन विभाग अपने पूर्व मंत्री मुकेश सहनी के उस फैसले को बदलेगी, जिसमें उन्होंने प्रखंड मत्स्यजीवी सहयोग समिति में ’मंत्री’ की भूमिका को हटा कर उनकी जगह अधिकारी को बिठाने का काम किया था.

विभाग के मंत्री तारकिशोर प्रसाद का आश्वासन

विभाग इसके साथ ही विभाग मछुआ समाज का वर्गीकरण करके सहकारिता विभाग को सूची उपलब्ध कराने एवं उनकी वांछित अहर्ता को प्रकाशित करने का कार्य करेगी. यह आश्वासन उप मुख्यमंत्री सह पशु एवं मत्स्य संसाधन विभाग के मंत्री तारकिशोर प्रसाद ने भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष डॉ संजय जायसवाल के नेतृत्व में गये प्रतिनिधिमंडल को दिया. इस दौरान उप मुख्यमंत्री रेणु देवी, पथ निर्माण मंत्री नितिन नवीन और सांसद अजय निषाद भी मौजूद रहे.

भाजपा प्रदेश अध्यक्ष ने मंत्री को ज्ञापन सौंपा

भाजपा प्रदेश अध्यक्ष ने मंत्री को ज्ञापन सौंपते हुए कहा कि सहकारिता विभाग ने छह बार पत्र के माध्यम से पशु एवं मत्स्य संसाधन विभाग से परंपरागत मछुआ समाज का वर्गीकरण करके सूची उपलब्ध कराने को कहा गया, लेकिन दुर्भाग्य से हमारे गठबंधन के तत्कालीन पशु एवं मत्स्य विभाग के मंत्री मुकेश सहनी ने इस विषय पर गंभीरता नहीं बरती और सूची उपलब्ध नहीं हो सकी.

मुकेश सहनी पर आरोप

पूर्व मंत्री ने 15 मार्च 2022 को अपनी विभागीय बैठक में उपरोक्त दो पदों में से सिर्फ एक अध्यक्ष को बनाये रखने की अनुशंसा किया है और निर्वाचित पदेन मंत्री के स्थान पर पदेन प्रबंधक जो बिहार सरकार का एक पदाधिकारी होगा, उसे स्थान देने की अनुशंसा भी किया है.

आदेश वापस लेने की मांग

डॉ जायसवाल ने इससे मत्स्य पालन से जुड़े समाज को नुकसान पहुंचने की आशंका जताते हुए आदेश वापस लेने की मांग की. प्रदेश अध्यक्ष की मांग पर उप मुख्यमंत्री ने जल्द निर्णय का भरोसा दिलाया. बता दें कि भाजपा ने वीआईपी के सभी विधायकों को अपने खेमें में शामिल करके मुकेश सहनी को एनडीए से बाहर का रास्ता दिखा दिया है.

Published By: Thakur Shaktilochan

Prabhat Khabar App :

देश-दुनिया, बॉलीवुड न्यूज, बिजनेस अपडेट, मोबाइल, गैजेट, क्रिकेट की ताजा खबरें पढ़ें यहां. रोजाना की ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज कवरेज के लिए डाउनलोड करिए

googleplayiosstore
Follow us on Social Media
  • Facebookicon
  • Twitter
  • Instgram
  • youtube

संबंधित खबरें

Share Via :
Published Date

अन्य खबरें