1. home Hindi News
  2. state
  3. bihar
  4. patna
  5. sir i am hungry here flour is selling expensive

साहब मैं भूखा हूं, इधर आटा महंगा बेच रहा है

By Pritish Sahay
Updated Date

आनंद तिवारी, पटना : साहब भूखा हूं, खाना भिजवा दीजिए़ सर, लॉकडाउन में अधिकांश व्यापारी आटा के रेट बढ़ा दिये हैं. मेरे पड़ोस में कुछ लोग बाहर से आये हैं, उनकी जांच करा लो़ लॉकडाउन के बाद अब पुलिस कंट्रोल रूम पर कुछ इसी तरह मदद मांगने के साथ शिकायतें भी आ रही हैं. पांच दिनों में करीब 600 ऐसे मामले आ चुके हैं. एसएसपी ने सभी थानेदारों को शिकायतों को गंभीरता से लेते हुए मदद का निर्देश दिया है. हालांकि, पुलिस व प्रशासन ने गरीबों को खाद्य सामग्री बांटने की व्यवस्था की है. लेकिन, सभी गरीबों तक सरकारी मदद नहीं पहुंच रही है. ऐसे में पुलिस कंट्रोल रूम व डायल-100 पर लोग फोन कर मदद मांग रहे हैं.

एसएसपी ने सभी थानेदारों को मदद का निर्देश दिया

पुलिस कंट्रोल रूम में फुलवारीशरीफ से एक व्यक्ति का फोन आया कि उसके मोहल्ले में कुछ लोग बाहर से आये हैं. उन्होंने कोई जांच भी नहीं करायी है. अगर उन्हें कोरोना हुआ, तो आसपास के लोगों को परेशानी हो सकती है, इसलिए इन लोगों की जांच करा लो. मेरा नाम गुप्त रखना. कंट्रोल रूम के मुताबिक संबंधित जगह पुलिस गयी व सिविल सर्जन की मदद से बाहर से आये लोगों की जांच करायी गयी. जिसमें कोरोना निगेटिव मिला है.

एसएसपी ने सभी थानेदारों को मदद का निर्देश दिया

कंट्रोल रूम के मुताबिक करीब 20 से 25 लोगों ने फोन करके कहा है कि लॉकडाउन होने के बाद शहर के अधिकांश व्यापारियों ने खाद्य सामग्रियों के रेट बढ़ा दिये हैं. सबसे अधिक आटा का भाव बढ़ा हुआ है. वहीं, कुछ लोगों ने कहा कि वह और उनका परिवार भूखा है, कृपया खाने की व्यवस्था करा दें. पीरबहोर थाना क्षेत्र के रहने वाले एक व्यक्ति ने कंट्रोल रूम में फोन कर कहा कि लॉकडाउन के बावजूद लोग सड़क किनारे बैठ कर जुआ व ताश खेल रहे हैं. कैसे सोशल डिस्टेंस होगा. कोरोना वायरस से क्या इस तरह से बच सकते हैं? हालांकि, पुलिस ने संबंधित जगह पहुंच कर जुआ खेल रहे करीब पांच लोगों को गिरफ्तार किया.

कंट्रोल रूम में फोन करने वाले जरूरतमंद लोगों की मदद की जा रही है़ वहीं, लॉकडाउन लागू होने पर रेंज में आने वाले सभी सिटी एसपी, डीएसपी व थाना प्रभारियों को लोगों की मदद करने के निर्देश दिये गये हैं. कंट्रोल रूम में फोन कर कोई मदद मांगता है, तो उसे खाद्य सामग्री उपलब्ध करा दी जाती है. जो लोग कोरोना से संबंधित जानकारी दे रहे हैं उनको भी गंभीरता से लेकर संबंधित लोगों की जांच करायी जा रही है.

Share Via :
Published Date
Comments (0)
metype

संबंधित खबरें

अन्य खबरें