15.1 C
Ranchi
Wednesday, February 21, 2024

BREAKING NEWS

Trending Tags:

Homeबिहारआराबिहार में डॉक्टरों के 8 हजार पद खाली, नियुक्ति को लेकर स्वास्थ्य मंत्री ने सदन में कही ये बात

बिहार में डॉक्टरों के 8 हजार पद खाली, नियुक्ति को लेकर स्वास्थ्य मंत्री ने सदन में कही ये बात

विधायक ने कहा कि राज्य में जनसंख्या -चिकित्सक अनुपात में बड़ा गैप है. 22 हजार की आबादी पर एक डॉक्टर हैं. जबकि मानक के अनुसार प्रति एक हजार की आबादी पर एक डॉक्टर होने चाहिए. बिहार में डॉक्टरों के 21,755 पद सृजित हैं.

आरा. राज्य के अस्पतालों में डॉक्टरों के रिक्त पदों पर अविलंब बहाली, सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र अगिआंव, गड़हनी और चरपोखरी में स्त्री एवं प्रसूति रोग विशेषज्ञ डॉक्टरों की नियुक्ति, सदर अस्पताल में आंख, हड्डी एवं दांत के डॉक्टर समेत ड्रेसर, कंपाउडर की नियुक्ति के मुद्दे को विधायक मनोज मंजिल ने शुक्रवार को विधानसभा सत्र के अंतिम दिन जोरदार तरीके से उठाया. विधायक ने कहा कि मैं स्वास्थ्य विभाग से संबंधित मुद्दों को कई बार विभाग में भेजा, लेकिन आज तक कोई कार्रवाई इस पर नहीं की गयी, जो बहुत ही निंदनीय है. महोदय इसको जल्द किया जाये. जिससे ग्रामीण जनता को अच्छी स्वास्थ्य सुविधा मिल सके. जब विधायक ने सरकार से पूछा कि कब इसकी पूर्ति की जाएगी. तो स्वास्थ्य मंत्री ने जवाब दिया कि डॉक्टर और स्वास्थ्यकर्मियों की नियुक्ति प्रक्रियाधीन है. इन खाली पदों को जल्द भर लिया जायेगा.

बिहार में 22 हजार की आबादी पर एक डॉक्टर

विधायक ने अपने अल्पसूचित प्रश्न के माध्यम से राज्य में डॉक्टरों व स्वास्थ्यकर्मियों की भारी कमी के मद्देनजर अविलंब बहाली का मुद्दा उठाया. विधायक ने कहा कि राज्य में जनसंख्या -चिकित्सक अनुपात में बड़ा गैप है. 22 हजार की आबादी पर एक डॉक्टर हैं. जबकि मानक के अनुसार प्रति एक हजार की आबादी पर एक डॉक्टर होने चाहिए. बिहार में डॉक्टरों के 21,755 पद सृजित हैं. जिसमें से 13,845 कार्यरत हैं. जिसमें 10,929 नियमित/स्थायी हैं और 2916 संविदा पर कार्यरत हैं. अभी भी लगभग 8 हजार डॉक्टरों के पद खाली पड़े हैं. बिहार की कुल आबादी 13 करोड़ 7 लाख 25 हजार की है. जिसके लिए 1 लाख 30 हजार डॉक्टरों की जरूरत है. जिसको सरकार अविलंब भरें. पिछले दिनों राज्य के उपमुख्यमंत्री ने कहा कि था कि राज्य में डेढ़ लाख होने वाली बहाली में डॉक्टर, नर्स के साथ पारा स्टाफ के पद भी हैं.

Also Read: बिहार में सबसे अधिक कुर्मी जाति के पास गवर्नमेंट जॉब, जानें पिछड़े वर्ग की नौकरी में
यादवों की हिस्सेदारी

बिहार में डॉक्टरों की होगी बंपर बहाली

स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों की मानें तो बिहार स्वास्थ्य सेवा के तहत ये भर्तियां की जाएंगी. विभाग के अपर मुख्य सचिव प्रत्यय अमृत ने कहा कि चिकित्सकों की कमी से मरीजों के इलाज में परेशानी हो रही है. इसी के चलते बहाली का निर्णय लिया गया है. बिहार में डॉक्टरों के खाली पदों को भरने के लिए स्वास्थ्य विभाग ने प्रक्रिया शुरू कर दी है. इसके तहत राज्य के विभिन्न मेडिकल कॉलेजों में असिस्टेंट प्रोफेसर के 1300 पद और जनरल अस्पताल में डॉक्टर के कुल 3800 पदों को भरा जाएगा. स्वास्थ्य विभाग द्वारा बिहार लोक आयोग को भर्ती के लिए अभियाचना भेज दी गई है. विभाग ने आयोग से चिकित्सक शिक्षकों की बहाली प्रक्रिया को जल्द पूरा करने का अनुरोध किया है. बिहार लोक सेवा जल्द ही डॉक्टर के 5000 पदों पर भर्ती के लिए नोटिफिकेशन जारी करेगा.

डॉक्टर के 6629 पद हैं, जिसमें 6391 पदों पर डॉक्टर कार्यरत

बिहार स्वास्थ्य सेवा के तहत डॉक्टरों के पदों को भरा जाएगा. विभाग में जनरल डॉक्टर के 6629 पद हैं, जिसमें 6391 पदों पर डॉक्टर कार्यरत हैं. ऐसे में राज्य में जनरल डॉक्टर्स के 238 पदों पर भर्तियां होंगी. स्पेशल मेडिकल ऑफिसर के 5093 पद स्वीकृत हैं, जिसमें 1570 पद पर डॉक्टर कार्यरत हैं. वहीं 3523 पद खाली पड़े हैं. इन पदों को भरने के लिए स्पेशल टीम तैयार की जाएगी. राज्य में डेंटिस्टों की भी भर्ती होनी है. राज्य में कुल 586 पद डेंटल के लिए स्वीकृत हैं, जिनमें 523 पद पर डेंटिस्ट कार्यरत हैं. वहीं 63 खाली पड़े पदों पर भर्तियां होनी हैं.

You May Like

Prabhat Khabar App :

देश, एजुकेशन, मनोरंजन, बिजनेस अपडेट, धर्म, क्रिकेट, राशिफल की ताजा खबरें पढ़ें यहां. रोजाना की ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज कवरेज के लिए डाउनलोड करिए

अन्य खबरें