1. home Hindi News
  2. state
  3. bihar
  4. patna
  5. no topper in patna 10th 12th result education system in patna patna school bihar education news

सुविधाओं के बावजूद पटना जिले से क्यों नहीं निकले टॉपर!

By Prabhat Khabar Print Desk
Updated Date

पटना : मैट्रिक वार्षिक परीक्षा 2020 के रिजल्ट में पटना जिले से टॉप-10 में एक भी बच्चा शामिल नहीं होने पर जिला शिक्षा पदाधिकारी (डीइओ) सख्त है. डीइओ ज्योति कुमार ने कहा कि सारी सुविधा उपलब्ध कराने के बाद भी माध्यमिक वार्षिक परीक्षा 2020 का परीक्षाफल निराश करने वाला है. उन्होंने इस संबंध में माध्यमिक विद्यालयों के प्राचार्यों को निर्देश जारी कर समीक्षा बैठक करने का निर्देश दिया है. पत्र में उन्होंने प्राचार्यों से कहा कि मैट्रिक रिजल्ट में बच्चों के निराशाजनक प्रदर्शन रहा है.

इस प्रदर्शन की अपने शिक्षकों के साथ समीक्षा बैठक करें. इसमें कारण तलाशने को भी कहा है. बच्चों द्वारा अपना सही प्रदर्शन नहीं कर पाने के पीछे की वजह की अपने शिक्षकों के साथ समीक्षा करते हुए विद्यालयवार जो कमी है, उसका प्रतिवेदन 10 दिनों के अंदर उपलब्ध कराएं. डीइओ ने कहा है कि विद्यालयवार समीक्षा आने के बाद समस्याओं, कमियों, सुझावों पर समुचित निर्णय लेकर सही कदम उठाया जायेगा. नौवीं में जल्द समाप्त करें एडमिशन, जुलाई से क्लास ज्योति कुमार ने पत्र लिख कर कहा है कि प्रत्येक ग्राम पंचायत के चयनित मध्य विद्यालय, जहां नौवीं की पढ़ाई शुरू होनी है.

वहां नौवीं में एडमिशन प्रक्रिया जल्द समाप्त करें. शैक्षणिक सत्र 2020-21 से वर्ग नौवीं की पढ़ाई प्रारंभ करने वाले प्राचार्यों को कहा गया है कि जो बच्चे वर्ग आठवीं उत्तीर्ण हैं, उनका वर्ग नौवीं में नामांकन लेना सुनिश्चित करें. ताकि, जुलाई से छात्र-छात्राओं के लिए भी जब विद्यालय खोले जाये, तो वर्ग नौवीं का अध्यापन प्रारंभ हो सके. ऑनलाइन स्टडी रहेगी जारी, वर्ग शिक्षक करेंगे सहयोग अनलॉक-1 की स्थिति में स्टूडेंट्स के लिए विद्यालय पूर्णत: बंद रहेंगे. स्टूडेंट्स की पढ़ाई ऑनलाइन जारी रहेगी.

डीइओ ने कहा है कि मोबाइल एप के माध्यम से क्लास वन से लेकर 12वीं तक के स्टूडेंट्स के लिए epathshala.nic.in, क्लास 11वीं से 12वीं के लिए swayam.gov.in, क्लास वन से आठवीं तक के लिए nishtha.gov.in, क्लास वन से 12वीं तक के स्टूडेंट्स nroer.gov.in व vidyavahini bihar पर जाकर पढ़ाई कर सकते हैं. इसके अलावा किशोर मंच डीटीएच टीवी के साथ एनसीइआरटी के यूट्यूब चैनल का भी उपयोग ऑनलाइन स्टडी के लिए कर सकते हैं. सभी वर्ग शिक्षक अपने वर्ग के बच्चों को मोबाइल नंबर से संपर्क करते हुए ऑनलाइन स्टडी कराने में सहयोग करेंगे.

Posted by Pritish Sahay

Share Via :
Published Date
Comments (0)
metype

संबंधित खबरें

अन्य खबरें