1. home Hindi News
  2. state
  3. bihar
  4. patna
  5. bihar stet admit card 2020 direct link released practice mock test for online stet exam 2020 bihar skt

Bihar STET Admit Card 2020: बिहार STET परीक्षा के लिए एडमिट कार्ड जारी, ऑनलाइन परीक्षा से पहले इस लिंक पर जाकर करें अभ्यास...

By Prabhat Khabar Print Desk
Updated Date
 बिहार STET परीक्षा के लिए एडमिट कार्ड जारी
बिहार STET परीक्षा के लिए एडमिट कार्ड जारी
बिहार विद्यालय परीक्षा समिति

पटना: बिहार विद्यालय परीक्षा समिति माध्यमिक शिक्षक पात्रता परीक्षा (एसटीइटी) 2019 की पुनर्परीक्षा नौ से 21 सितंबर के बीच आयोजित करेगी. परीक्षा के लिए एडमिट कार्ड गुरुवार को जारी कर दिया गया. अभ्यर्थी www.bsebstet2019.in या www.biharboardonline.bihar.gov.in पर जाकर एडमिट कार्ड डाउनलोड कर सकते हैं.पेपर 1 एवं पेपर 2 के लिए अलग-अलग प्रवेश पत्र जारी किये गये हैं. दोनों प्रवेश पत्र अलग-अलग डाउनलोड करेंगे.

ऑनलाइन परीक्षा के पूर्व अभ्यास के लिए लिंक भी जारी

बोर्ड ने कहा है कि परीक्षा पहली बार ऑनलाइन आयोजित हो रही है. अभ्यर्थियों को इस ऑनलाइन परीक्षा के पूर्व अभ्यास के लिए लिंक भी जारी कर दिया गया है. बोर्ड की वेबसाइट पर लिंक एक्टिव कर दिया गया है. स्टूडेंट्स आइडी और पासवर्ड डालकर ऑनलाइन एग्जाम का अभ्यास कर सकते हैं.

12 जिलों में होंगे सेंटर

बिहार के 12 जिलों में 60 परीक्षा केंद्र पर एसटीइटी आयोजित होगा. टोटल 2,47,241 परीक्षार्थी शामिल होंगे. प्रथम पेपर में 1,81,738 और सेकेंड पेपर में 65,503 परीक्षार्थी शामिल होंगे. पटना जिले में प्रथम पेपर में 17,571 और सेकेंड पेपर में 8,851 परीक्षार्थी शामिल होंगे.

निकटवर्ती जिले में सेंटर देने की मांग

बिहार के 12 जिलों में परीक्षा केंद्र बनाये गये हैं. परीक्षा पटना, भोजपुर, नालंदा, गया, छपरा, वैशाली, मुजफ्फरपुर, औरंगाबाद, दरभंगा, समस्तीपुर, भागलपुर एवं पूर्णिया में होगा. एसटीइटी परीक्षार्थी पीके आदित्य ने कहा कि कोरोना काल में जहां यातायात व ठहरने का साधन नहीं है. वैसी स्थिति में लोगों का परीक्षा केंद्र 12 जिलों के आसपास के निकटवर्ती जिले के ही परीक्षार्थियों का परीक्षा केंद्र होना चाहिए. अपने गृह जिले से तीन सौ किलोमीटर जाना अभी के समय में मुश्किल है. बोर्ड नजदीक के जिलों में सेंटर दे. महिला वर्ग और दिव्यांग कोटि के स्टूडेंट्स का विशेष ख्याल रखा जाये. दीपंकर ने कहा कि बोर्ड इस पर विचार कर स्टूडेंट्स को परेशानी से बचाये.

Posted by : Thakur Shaktilochan Shandilya

Share Via :
Published Date
Comments (0)
metype

संबंधित खबरें

अन्य खबरें