1. home Home
  2. state
  3. bihar
  4. patna
  5. bihar news corruption end in nal jal yojana field managers posted in 20 districts for monitoring asj

Bihar News: नल जल योजना में खत्म होगा भ्रष्टाचार, निगरानी के लिए 20 जिलों में तैनात हुए फील्ड मैनेजर

मुख्यमंत्री नल जल योजना पार्ट टू के तहत पीएचइडी ने छह अक्तूबर से 20 जिलों में योजना की निगरानी के लिए फील्ड मैनेजरों को जिम्मेदारी सौंपी गयी है. इन्हें सभी लाभुकों के घरों में जाकर फीडबैक लेना है.

By Prabhat Khabar Digital Desk
Updated Date
नल का जल योजना
नल का जल योजना
फाइल

पटना. मुख्यमंत्री नल जल योजना पार्ट टू के तहत पीएचइडी ने छह अक्तूबर से 20 जिलों में योजना की निगरानी के लिए फील्ड मैनेजरों को जिम्मेदारी सौंपी गयी है. इन्हें सभी लाभुकों के घरों में जाकर फीडबैक लेना है.

इसके साथ ही, योजना के मेंटेनेंस पॉलिसी के तहत बने सभी नियमों का पालन कराना है, ताकि योजना में लाभुक, एजेंसी, विभाग के अधिकारी मिलजुल कर काम कर सकें और योजना में खराबी आने पर उसे तुरंत ठीक किया जा सकें.

जल चौपाल में भी बैठेंगे मैनेजर

योजना के तहत जल चौपाल लगाया जाने का निर्देश विभाग की ओर से जारी है. कई जगहों से ऐसी शिकायतें मिलती रही है कि जल चौपाल में लोग नहीं जुटते है. ऐसे में फील्ड मैनेजर को जल चौपाल में बैठना होगा, इन्हें जल चौपाल की पूरी कार्रवाही को देखना होगा और वीडियो क्लिप भी तैयार करना होगा, ताकि दूसरे जगहों पर चौपाल लगाया जा सकें. जहां लोग अधिक पानी बर्बाद करते है. जल चौपाल में पानी बर्बादी को रोकने के लिए चर्चा होती है.

आम लोगों को योजना के प्रति जागरूक करने की तैयारी

योजना के प्रति आमलोगों की भागीदारी बढ़े, इसको लेकर मैनेजर फील्ड में काम भी करेंगे. लोगों को योजना की उपयोगिता से संबंधित जानकारी देंगे और जहां काम में गड़बड़ी मिलेगी. वहां इनकी रिपोर्ट पर कार्रवाई भी होगी. लोगों को जोड़ने से योजना की गड़बड़ी को भी काफी हद तक कम किया जा सकता है.

इन कामों की होगी निगरानी

  • - जलापूर्ति योजना से संबंधित विवरण, शिकायत निवारण व्यवस्था का पंप हाउस एवं योजना क्षेत्र में प्रदर्शन

  • - जलापूर्ति योजना के स्तर पर शिकायतों का निबटारा रजिस्टर का निरीक्षण.

  • - पानी की क्वायलिटी व पानी के फोर्स की जांच

  • - जांच किट का फील्ड में उपयोग, कितने लोगों ने किया.

  • - महिलाओं से योजना संबंधित जानकारी और पंप खराब होने के बाद कितनी देर में ठीक किया गया.

  • - पंप ऑपरेटरों एवं उपभोक्ताओं के साथ जल चौपाल.

  • - जीविका संपोषित कलस्टर लेवल फेडरेशन के साथ जल चौपाल.

  • - पंचायत भवन में जलापूर्ति योजनाओं को लेकर बैठक.

  • - कार्यपालक अभियंता की अध्यक्षता में जल गुणवत्ता दिवस का आयोजन.

  • - आइओटी डिवाइस , डैशबोर्ड रिपोर्टिंग के साथ मासिक समीक्षा बैठक.

  • - जल नमूना का संग्रह .

Posted by Ashish Jha

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें