1. home Home
  2. state
  3. bihar
  4. patna
  5. bihar crime news gopalganj police arrested highway robbers engineering student avh

इंजीनियरिंग की पढ़ाई के बाद नहीं मिली नौकरी, तो बन गए हाइवे लुटेरे, गैंग बना कर देते थे घटना काे अंजाम

उज्ज्वल कुमार ने पुलिस को बताया कि अब तक की वारदात में उसे लूटपाट की रकम से 15 हजार रुपये का हिस्सा मिला है. उसी प्रकार अन्य दोस्तों को भी 10 से 12 और 15 हजार रुपये का हिस्सा मिला.

By Prabhat Khabar Print Desk
Updated Date
Bihar Crime News
Bihar Crime News
prabhat khabar

बिहार को गोपालगंज जिले से एक चौंकाने वाला मामला सामने आया है. पुलिस ने एनएच पर पेट्रोल पंप, सीएसपी, होटल व ढाबे में लूटपाट करनेवाले छह हाइवे लुटेरे को अरेस्ट किया है. गोपालगंज पुलिस ने हाइवे लुटेरा गैंग की गिरफ्तारी के बाद चौंकानेवाला खुलासा किया है.

एसपी आनंद कुमार के मुताबिक गैंग को इंजीनियरिंग के छात्र लीड कर रहे थे. सिधवलिया थाने के शेर गांव के रहनेवाले अखिलेश्वर राय का 24 वर्षीय पुत्र उज्ज्वल कुमार और उसका साथी औरंगाबाद जिले के जमहोर थाने के मोर डिहरी गांव के रहनेवाले अमिताभ बच्चन पासवान के 19 वर्षीय पुत्र अभिषेक कुमार दोनों एक साथ झारखंड के जमशेदपुर में इंजीनियरिंग की पढ़ाई करते हैं.

उज्ज्वल के पिता विदेश में रहते हैं. हर माह पढ़ाई की फीस जमा करके बेटे के खर्च के लिए पांच हजार रुपये भेजते हैं. उधर, अभिषेक भी परिवार से ठीक-ठाक है. दोनों ने लॉकडाउन में ही हाइवे लुटेरा गैंग खड़ा कर लिया. गोपालगंज में आने के बाद आर्थिक रूप से कमजोर बरौली, सिधवलिया, उचकागांव, थावे व मीरगंज के रहनेवाले अपने दोस्तों को शामिल कर लिया. पिस्तौल, कट्टा, कारतूस और नशीले पदार्थ की खरीदारी करने के बाद हाइवे पर लूटपाट शुरू कर दी.

उज्ज्वल कुमार ने पुलिस को बताया कि अब तक की वारदात में उसे लूटपाट की रकम से 15 हजार रुपये का हिस्सा मिला है. उसी प्रकार अन्य दोस्तों को भी 10 से 12 और 15 हजार रुपये का हिस्सा मिला. इनके पास एक कार और दो बाइकें थीं, जिसे लूटपाट की वारदात में प्रयोग करते थे. आखिरी बार बरौली थाना क्षेत्र में पेट्रोल पंप पर लूटपाट की. इसमें तेल भरवाने के बाद पैसा नहीं देकर लूटपाट की. घटना के बाद सीसीटीवी में सभी अपराधी कैद हो गये थे

एसपी ने कहा कि अब इन सभी अपराधियों के विरुद्ध स्पीडी ट्रायल चलाकर सजा दिलवायी जायेगी. पुलिस के पास वारदात से जुड़े पर्याप्त साक्ष्य हैं. उधर, गिरफ्तारी के बाद इंजीनियर बनने का सपना फिर गया. वहीं सीवान व छपरा पुलिस को भी कार्रवाई से संबंधित सूचना भेजकर आपराधिक रिकॉर्ड मंगाया जा रहा है.

Posted By : Avinish Kumar Mishra

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें