1. home Home
  2. state
  3. bihar
  4. patna
  5. 2350 lakh smart meter to be installed in bihar smart meter for electricity bill news in hindi skt

बिजली के क्षेत्र में पूरे देश के लिए मिसाल बना बिहार, 2022 तक लगेंगे 23.50 लाख स्मार्ट प्रीपेड मीटर

बिहार में स्मार्ट प्रीपेड मीटर लाने का अभियान चलेगा और 2022 तक साढ़े 23 लाख मीटर लगाए जाएंगे. बिहार स्मार्ट प्रीपेड मीटर लगाने वाला पहला राज्य है और अन्य राज्यों के लिए भी उदाहरण बना हुआ है.

By Prabhat Khabar Print Desk
Updated Date
सांकेतिक फोटो
सांकेतिक फोटो
सोशल मीडिया

बिहार में वर्ष 2022 तक अभियान चला कर 23.50 लाख स्मार्ट प्रीपेड मीटर लगाये जायेंगे. फिलहाल 2.50 लाख से अधिक स्मार्ट प्रीपेड मीटर लग चुके हैं और लोग इसके फायदे भी समझने लगे हैं. यह बातें शुक्रवार को ऊर्जा विभाग के सचिव एवं बिहार स्टेट पावर होल्डिंग कंपनी लिमिटेड के सीएमडी संजीव हंस ने पटेल नगर स्थित स्काडा भवन में राज्य के पहले स्मार्ट मीटर ऑपरेशन सेंटर (एसएमओसी) का उद्घाटन करते हुए कहीं.

बिहार स्मार्ट प्रीपेड मीटर लगाने वाला पहला राज्य

संजीव हंस ने कहा कि बिहार स्मार्ट प्रीपेड मीटर लगाने वाला पहला राज्य है. इसके जरिये हम अन्य राज्यों के लिए उदाहरण पेश कर रहे हैं. स्मार्ट प्रीपेड मीटर वह मजबूत नींव है, जिस पर बिहार ही नहीं, पूरे देश में ऊर्जा वितरण नेटवर्क के भविष्य का निर्माण होगा. स्मार्ट प्रीपेड मीटर लगने से लोग बिजली की बचत के लिए प्रेरित हो रहे हैं.

स्मार्ट प्रीपेड मीटर से राज्य कोष को 200 करोड़ का लाभ

ऊर्जा सचिव ने ऊर्जा मंत्री विजेंद्र प्रसाद यादव का शुभकामना संदेश देते हुए कहा कि स्मार्ट प्रीपेड मीटर से राज्य के कोष को भी करीब 200 करोड़ रुपये का लाभ हुआ है. जैसे-जैसे इस लक्ष्य की दिशा में आगे बढ़ेंगे, स्मार्ट मीटर के फायदे भी कई गुना बढ़ेंगे. उन्होंने कहा कि ग्रिड को अक्षय सहित कई स्रोतों से प्राप्त ऊर्जा का एकीकरण करने और सिस्टम में स्थिरता बनाये रखने में स्मार्ट मीटर की आधारभूत संरचना का कोई जोड़ नहीं है. अपनी इस खूबी की वजह से स्मार्ट मीटर विद्युत वितरण प्रणाली के स्मार्ट डाटा प्रबंधन की दिशा में पहला कदम है. यह डिस्काॅम के लिए भी लाभदायक है.

स्मार्ट प्रीपेड बिजली मीटर की केंद्रीयकृत निगरानी करेगा सेंटर

अधिकारियों ने बताया कि स्मार्ट मीटर ऑपरेशन सेंटर सूबे में लगने वाले स्मार्ट मीटर की केंद्रीयकृत निगरानी करेगा. पूरे ऑपरेशन की एकीकृत एवं केंद्रीकृत मॉनीटरिंग में मदद करेगा. केंद्रीय नियंत्रण यूनिट के तौर पर यह सेंटर स्मार्ट प्रीपेड मीटर प्रोजेक्ट को रियल टाइम में प्रभाव में लायेगा. रियल टाइम डैशबोर्ड एमआइएस रिपोर्ट भी जेनेरेट होगी, जिससे स्मार्ट मीटर से जुड़ी समस्याओं के निराकरण में मदद मिलेगी. उद्घाटन के उपरांत संजीव हंस एवं अन्य वरीय अधिकारियों ने स्मार्ट मीटर ऑपरेशन सेंटर का निरीक्षण किया और वहां की कार्यप्रणाली को समझा.

Posted By: Thakur Shaktilochan

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें