B.A के छात्र अय्याशी के लिए बना रहे थे 100-100 के नकली नोट, जब पुलिस पहुंची...

By Prabhat Khabar Digital Desk
Updated Date

पटना : बिहार की राजधानी पटना में एक सनसनीखेज खुलासा हुआ है. पटना पुलिस ने कंकड़बाग में छापेमारी कर छात्रों के एक ऐसे गिरोह का भंडाफोड़ किया है, जो 100-100 रुपये के नकली नोट प्रिंट करते थे. पुलिस ने उनके पास से कलर प्रिंटर और कई आपत्तिजनक सामग्री बरामद की है. पुलिस ने छात्रों के गिरोह के चार सदस्यों को गिरफ्तार कर लिया है. पकड़े गये छात्रों में बादल कुमार, धर्मराज, पंडारक के रहने वाले बताये जाते हैं. बाकी छात्रों में अशोक कुमार, महुआरा, तेल्हाड़ा, नालंदा व मनीष कुमार, बड़ी घोषी, हिलसा, नालंदा का रहने वाला बताया जा रहा है. सभी नालंदा के हिलसा कॉलेज में बीए के छात्र है और वहीं किराये का कमरा लेकर पढ़ाई करते हैं. पुलिस के मुताबिक पढ़ाई की आड़ में यह लोग नकली नोटों की छपाई भी करते है. पूछताछ में इन लोगों ने पुलिस को जानकारी दी है कि ये लोग कंप्यूटर व स्कैनर की मदद से 100 के नोट को स्कैन करने के बाद कलर प्रिंटर की मदद से निकाल लेते है.

फिलहाल पुलिस को कंप्यूटर व स्कैनर हाथ नहीं लगा है. बताया जाता है कि ये 100 के नोट नकली इसलिए बनाते थे, क्योंकि यह आसानी से बाजार में चल जाता था और किसी को शक नहीं होता था. अभी तक ये हजारों रुपये बाजार में खपा चुके है. जानकारी के मुताबिक यह लोग अय्याशी, नये-नये कपड़े व नये-नये मोबाइल खरीदने के शौक के कारण जाली नोट बनाने लगे थे. पुलिस अभी इन लोगों से पूछताछ कर रही है, क्योंकि यह भी शक है कि इस गिरोह में और भी लोग शामिल हो सकते है.

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें