38.1 C
Ranchi

BREAKING NEWS

Trending Tags:

Advertisement

सक्षमता परीक्षा का एडमिट कार्ड जलाएंगे नियोजित शिक्षक, रविवार को पूरे बिहार में करेंगे प्रदर्शन

बिहार शिक्षक संघ एकता मंच ने रविवार 25 फरवरी को पूरे बिहार में नियोजित शिक्षकों की सक्षमता परीक्षा का विरोध करने का ऐलान किया है. नियोजित शिक्षक परीक्षा का एडमिट कार्ड जलाकर प्रदर्शन करेंगे.

बिहार के लाखों नियोजित शिक्षक बिना शर्त राज्य कर्मचारी का दर्जा देने और सक्षमता परीक्षा की अनिवार्यता खत्म करने की मांग पर अड़े हुए हैं. 26 फरवरी को होने वाली सक्षमता परीक्षा का शिक्षकों ने विरोध शुरू कर दिया है. शिक्षक संघ ने इस संबंध में 25 जनवरी को सभी जिलों में विरोध प्रदर्शन की घोषणा की है. शिक्षकों की मांग है कि उन्हें बिना शर्त राज्य कर्मचारी का दर्जा दिया जाए और स्वैच्छिक स्थानांतरण किया जाए. शिक्षक संघ ने अपनी मांगों को लेकर सरकार को 24 घंटे का अल्टीमेटम दिया है. शिक्षक 25 जनवरी को सक्षमता परीक्षा के प्रवेश पत्र जलाकर अपना विरोध दर्ज कराएंगे. शिक्षक संघ एकता मंच में ये सारे फैसले लिए गए.

इससे पहले 13 फरवरी को भी शिक्षकों ने किया था प्रदर्शन

इससे पहले 13 फरवरी को भी बिहार शिक्षक एकता मंच ने अपनी मांगों को लेकर पटना में प्रदर्शन किया था. इसमें बिहार के हर जिले से नियोजित शिक्षक और पुस्तकालयाध्यक्ष शामिल हुए थे. इस प्रदर्शन के दौरान शिक्षकों का दल उपमुख्यमंत्री सम्राट चौधरी और विजय सिन्हा से मिलने वीरचंद पटेल पथ पहुंचा. जहां उन्होंने दोनों डिप्टी सीएम के सामने अपनी मांग रखी. जहां से आश्वासन मिलने के बाद शिक्षक वापस लौट गए थे. लेकिन अब तक शिक्षकों की मांग पूरी नहीं हुई है. ऐसे में एक बार फिर से शिक्षकों ने सक्षमता परीक्षा का एडमिट कार्ड जलाकर प्रदर्शन करने की घोषणा की है.

इससे पहले शिक्षा मंत्री विजय कुमार चौधरी ने भी नियोजित शिक्षकों की सक्षमता परीक्षा को लेकर कहा था कि अगर वे परीक्षा पास नहीं करेंगे तो उनकी नौकरी चली जायेगी, इस संबंध में अभी कोई अंतिम निर्णय नहीं लिया गया है. शिक्षकों को घबराने की जरूरत नहीं है. सरकार का अंतिम फैसला अभी नहीं हुआ है. उन्होंने कहा था कि आंदोलन से समस्या का समाधान नहीं होता है. शिक्षक उन मुद्दों पर विरोध कर रहे हैं जिन पर अंतिम निर्णय नहीं हुआ है. शिक्षकों को राज्यकर्मी का दर्जा दिए जाने के लिए सक्षमता परीक्षा ली जा रही है.

नियोजित शिक्षकों की प्रमुख मांगें

  • सभी नियोजित शिक्षकों को सक्षमता परीक्षा के प्रावधान को समाप्त कर बिना शर्त राज्यकर्मी का दर्जा मिले
  • इच्छा के अनुसार तबादला का लाभ मिले
  • अवकाश तालिका पूर्व की भांति लागू करना
  • विद्यालय की समय सारणी 10 बजे से चार बजे तक करना
  • अप्रशिक्षित शिक्षकों को सेवा में बहाल रखते हुए प्रशिक्षित कराना

26 फरवरी से सक्षमता परीक्षा

बता दें कि नियोजित शिक्षकों को राज्यकर्मी का दर्जा दिए जाने के लिए 26 फरवरी से 13 मार्च तक सक्षमता परीक्षा आयोजित की जाएगी. यह परीक्षा बिहार विद्यालय परीक्षा समिति द्वारा आयोजित की जा रही है. ऐसे में शिक्षक अपने एडमिट कार्ड समिति की वेबसाइट से डाउनलोड कर सकते हैं. परीक्षा में सभी प्रश्न बहुविकल्पीय होंगे. परीक्षा में 150 वस्तुनिष्ठ प्रश्न पूछे जायेंगे. इसके लिए दो घंटे 30 मिनट का समय दिया जायेगा. परीक्षा सेंटर पर आधा घंटा पहले प्रवेश करना होगा.

Also Read : पटना में नियोजित शिक्षकों का जोरदार प्रदर्शन, भाजपा कार्यालय का किया घेराव, पुलिस ने किया लाठीचार्ज

Prabhat Khabar App :

देश, एजुकेशन, मनोरंजन, बिजनेस अपडेट, धर्म, क्रिकेट, राशिफल की ताजा खबरें पढ़ें यहां. रोजाना की ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज कवरेज के लिए डाउनलोड करिए

Advertisement

अन्य खबरें